सीबीएसई 12वीं रिजल्ट की डेडलाइन बढ़ी, बोर्ड ने अध्यापकों की परेशानी के चलते लिया फैसला

12वीं के माक्र्स मॉडरेशन में जुटे टीचर्स और स्कूलों को सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन ने राहत दी है। अब पोर्टल पर रिजल्ट से जुड़ा डाटा सब्मिट करने की तारीख बढ़ा दी गई है। पहले मॉडरेशन की अंतिम तारीख 22 जुलाई थी, जिसे बढ़ाकर 25 जुलाई कर दिया गया है। सीबीएसई ने हालिया सर्कुलर में कहा है कि स्कूल माक्र्स के डाटा को सबमिट करने की तैयारी में जी जान से जुटे हैं। अंतिम तारीख 22 जुलाई होने के कारण टीचर्स तनाव में हैं और उनसे गलतियां हो रही हैं। वे गलतियां सुधारने के लिए सीबीएससी से अपील भी कर रहे हैं। इसलिए पोर्टल पर डाटा सब्मिट करने की अंतिम तारीख 25 जुलाई, 2021 कर दी गई है। सीबीएसई का कहना है, अगर कोई स्कूल तय समय सीमा के अंदर मॉडरेशन पूरा नहीं करता है, तो उन स्कूलों का रिजल्ट 31 जुलाई के बाद अलग से जारी किया जाएगा। सीबीएसई ने 12वीं के रिजल्ट घोषित करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई रखी है।

माक्र्स मॉडरेट करना बड़ी जिम्मेदारी

सीबीएसई ने अपने एक अन्य ऑफिशियल सर्कुलर में कहा कि 11वीं-12वीं के माक्र्स को मॉडरेट करना एक बड़ी जिम्मेदारी है। ऐसे में रिजल्ट तैयार करते समय छात्रों के लिए न्याय और निष्पक्षता सुनिश्चित की जानी चाहिए। स्कूलों की नीति में किसी भी तरह का अंतर कुछ स्टूडेंट्स के लिए फायदेमंद तो कुछ के लिए नुकसानदेह हो सकता है।

Related Stories: