Sunday, May 09, 2021 06:24 PM

चैत्र नवरात्र...बैंड बाजे पर रोक

वन विभाग के कर्मचारियों ने फायर वाचर की सहायता से शांत की लपटें

निजी संवाददाता—शाहतलाई वन परिक्षेत्र झंडूता के अंर्तगत आने वाली बीट तलाई के जंगल चलैली में विगत रात्रि आठ बजे किसी अज्ञात व्यक्ति ने आग लगा दी। जंगल में लगी आग की भनक लगी तो वन खंड अधिकारी ज्ञान चंद, झबोला बीट वनरक्षक शुभम ठाकुर, रमेश चंद, फायर वाचर व स्थानीय लोगों के सरहानीय प्रयासों से आग पर काबू पा लिया लेकिन दो घंटे के हवा के झोंकों से बुझी हुई आग ने एक बार फिर आग की चिंंगारी नेे चंद मिनटों विकराल रूप धारण कर लिया। हालांकि स्थानीय लोग तो अपने घरों को जा चुके थे मगर वन विभाग के कर्मचारियों ने फायर वाचर की सहायता से ही करीब दो घंटे पश्चात आग पर नियंत्रण कर लिया।

इतना ही नहीं बल्कि वन विभाग के कर्मचारी पूरी रात सड़क के किनारे गश्त करते रहे ताकि कोई अज्ञात व्यक्ति कहीं सुलगती हुई बीड़ी सिगरेट न फेंक दे क्योंकि श्रद्धालु रात भर पैदल चलते रहते हैं। जब इस संदर्भ में वन परिक्षेत्र अधिकारी झंडूता अशोक शर्मा से संपर्क किया तो उन्होंने पुष्टि करते हुए कहा कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने जंगल चलैली में आग लगा दी। हालांकि विभाग के कर्मचारी, फायर वाचर व स्थानीय लोगों की सहायता से आग पर नियंत्रण कर लिया। उन्होंने बताया कि करीब एक हेक्टेयर जंगल जला है जिसमें ज्यादातर सूखी खरपतवार व झीड़ की पत्तियां ही जली हंै। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि जंगलों के नजदीक लोग अपनी घासनियों में आग न लगाएं।

समीक्षा बैठक में जिला अध्यक्ष कार्यकर्ताओं को फील्ड में उतरने के निर्देश

दिव्य हिमाचल ब्यूरो—बिलासपुर भारतीय जनता पार्टी बिलासपुर जिला की समीक्षा बैठक सर्किट हाउस में जिलाध्यक्ष स्वतंत्र सांख्यान की अध्यक्षता में हुई। इस बैठक में खाद्य व आपूर्ति मंत्री राजेंद्र गर्ग, सदर के विधायक सुभाष ठाकुर व हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के संगठन मंत्री अक्षय भरमौरी विशेष रूप से उपस्थित रहे। जिलाध्यक्ष ने पार्टी के आगामी होने वाले कार्यक्रम की जानकारी दी। उन्होंने बतया कि पांच मंडलाध्यक्षों ने बहुत अच्छा काम किया है। मंडलों ने स्थापना दिवस बहुत अच्छे ढंग से मनाया, जिसके लिए वे बधाई के पात्र हैं। जिलाध्यक्ष ने कहा कि 14 अप्रैल को भीमराव अंबेडकर की जयंती पांच मंडलों बड़ी धूमधाम से मनाई जाएगी।

उन्होंने कहा कि भाजपा का मेन फोकस अब मिशन रिपीट पर है। कार्यकर्ताओं को अभी से ही जुट जाने को कहा गया है। सदर के विधायक सुभाष ठाकुर ने कहा कि कार्यकर्ताओं के माध्यम से लोगों की समस्याओं का हल निकाला जाए और केंद्र सरकार व प्रदेश सरकार की योजनाओं को आम जानमानस तक पहुंचाया जाए। उन्होंने कहा कि भाजपा के इन तीन सालों में सदर विधानसभा क्षेत्र में करोड़ों रुपए का बजट आया जिनका शिलान्यास होकर काम भी शुरू करवा दिया गया है। खाद्य व आपूर्ति मंत्री राजेंद्र गर्ग ने कहा कि प्रदेश में हमारी सरकार को तीन साल पूरे हो गए हैं और पार्टी का मिशन रिपीट का कार्यक्रम शुरू हो गया है। इस दौरान भाजपा के जिला उपाध्यक्ष राम कुमार शर्मा, महामंत्री आशीष ढिल्लों, नवीन शर्मा और पांचों मंडलों के अध्यक्ष व सभी मोर्चों प्रकोष्ठों के अध्यक्ष शामिल रहे।

पुल के साथ शातिरों ने अंजाम दी वारदात; एसपी दिवाकर शर्मा ने किया दौरा, पुलिस ने मामला दर्ज कर शुरू की जांच

कार्यालय संवाददाता—बिलासपुर सदर विधानसभा क्षेत्र बिलासपुर के अंतर्गत ग्राम पंचायत कंदरौर में पुल के साथ दो दुकानों में चोरों ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया है। चोर सुनार की दुकान के साथ ही फोटोग्राफर की दुकान के ताले तोड़कर लाखों का सामान चुराकर ले गए हैं। पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा ने भी घटनास्थल का निरीक्षण किया। वहीं, अब पुलिस ने दोनों दुकानों में चोरी की घटनाओं को लेकर मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार कंदरौर में दुकानदार राजकुमार सुनार की दुकान करता है। हर रोज की तरह अपनी दुकान बंद कर अपने घर चले गए। लेकिन अगले दिन सुबह दुकान में पहुंचे तो हैरान रह गए। उन्होंने देखा कि उनकी दुकान का शटर टूटा हुआ है। जब उन्होंने अंदर जाकर देखा तो अज्ञात चोर यहां से सोने-चांदी के गहने के अलावा नकद राशि चुराकर ले गए। इसके अलावा चोर जनरल स्टोर व कोहलू वाली दुकान में जहां पर काफी मात्रा में अन्य सामान भी रखा है। इसके अलावा अन्य दुकानों में नकदी व अन्य सामान व फोटोग्राफर अशोक कुमार की दुकान से कैमरे व अन्य उपकरण की चोरी करके ले गए हैं।

बताया जा रहा है कि अज्ञात चोरों ने दुकानों के शटर जैक द्वारा उठाकर चोरी की है। चोर देर रात तक घटनाओं को अंजाम देने में लगे रहे। लेकिन किसी को भी इनकी भनक नहीं लगी। चोर यहां से लाखों का सामान चुराकर ले गए हैं। बताया जा रहा है कि चोरी की अचानक हुई इन घटनाओं के चलते स्वयं पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा मौके पर पहुंचे। उन्होंने स्थानीय लोगों से बातचीत की। वहीं, इस दौरान साक्ष्य जुटाए। इसके अलावा पुलिस द्वारा चोरी की घटना को लेकर दुकानों में लगे सीसीटीवी कैमरों को भी खंगाला जा रहा है। इस चोरी की घटना की वजह से लोगों में दहशत का माहौल बना हुआ है। बता दें कि लंबे समय बाद चोरों ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया है। लेकिन इस चोरी की वारदात ने सबको हिलाकर कर रख दिया है। एक नहीं बल्कि चार दुकानों में चोरों ने वारदात को अंजाम दिया। चोरों ने बड़े ही शातिर तरीके से चोरी की घटना को अंजाम दिया। जबकि ये दुकानें नेशनल हाई-वे के समीप ही स्थित हैं। ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि एक बार फिर चोरों के हौसलें बुलंद होने लगे हैं। बहरहाल, अब पुलिस इस मामले की गहन छानबीन में जुट गई है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही चोरों को पकड़ लिया जाएगा। बता दें कि चोरी की वारदात में लगभग 15 लाख रुपए की चोरी होने का अनुमान है। सुनार की दुकान से 200 ग्राम सोना, एक किलो 500 ग्राम चांदी, फोटोग्राफर की दुकान से एक कैमरा, जनरल स्टोर की दो दुकानों से बीड़ी सिगरेट व अन्य खाद्य सामग्री चोरी हुई है। घटनास्थल पर डॉग स्क्वायड की मदद ली गई है। अभी तक चोरों का कोई भी पता नहीं चल पाया है। उधर, इस बारे में पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा ने कहा है कि चोरी की घटना का मौके पर जाकर निरीक्षण किया गया है। उन्होंने कहा कि जल्द ही चोरों को पकड़ लिया जाएगा।

बिलासपुर। जिला में एक बार फिर कोरोना वायरस के एक साथ अब 21 नए मामले सामने आए हैं। हर रोज कोरोना संक्रमित मरीजों का ग्राफ बढऩे लगा है। जानकारी के अनुसार जिला में कुल 3669 मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि कई दिनों से कम ही मामले सामने आ रहे थे। लेकिन अब नए मामले आने लगे हैं। जिसके चलते अब लोगों को और अधिक एहतियात की आवश्यकता है। उधर, इस बारे में सीएमओ बिलासपुर डा. प्रकाश दरोच ने बताया कि जिला में 21 नए मामले आने से कोरोना संक्रमित मरीजों को आंकड़ा 3669 पहुंच गया है।

खाद्य आपूर्ति मंत्री राजेंद्र गर्ग ने प्रचार वाहन को हरी झंडी दिखाकर किया आगाज

निजी संवाददाता-घुमारवीं खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री राजेंद्र गर्ग ने नागरिक अस्पताल घुमारवीं से प्रचार वाहन को हरी झंडी दिखाकर जिला स्तरीय कोविड टीकाकरण उत्सव का शुभारंभ किया। उन्होंने बताया कि जिला में प्रथम चरण में अब तक 59382 लोगों का कोविड का टीकाकरण किया गया है तथा दूसरे चरण में 4916 लोगों को कोविड का टीकाकरण किया गया है। उन्होंने बताया कि एक से 30 अप्रैल तक लगभग एक लाख पात्र लोगों को टीकाकरण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

उन्होंने बताया कि लोगों की सहभागिता को सुनिश्चित करने के लिए प्रचार वाहन को रवाना किया गया है जो कि पूरे जिला में लोगों को कोरोना टीकाकरण लगाने के लिए प्रेरित करेगा। उन्होंने लोगों से अपील कि कोरोना से बचाव के लिए मास्क पहने उचित सामाजिक दूरी बनाकर रखेंए बार-बार हाथ धोएं और सरकार द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों की अनुपालना करें। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि आम त्योहारों की भांति कोविड टीकाकरण उत्सव को भी सफल बनाने के लिए सहयोग करें। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. प्रकाश दड़ोच ने बताया कि 11 से 14 अप्रैल तक कोविड टीकाकरण उत्सव का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें 45 वर्ष आयु के उपर के सभी लोगों का टीकाकरण किया जाएगा। जिसमें जिला बिलासपुर के स्वास्थ्य संस्थानों में टीकाकरण किया जाएगा। इस अवसर पर बीएमओ घुमारवीं डा. अभिनीत शर्मा, स्वास्थ्य शिक्षक सुरेश चंदेल तथा हैल्थ व आशा कार्यकर्ता भी उपस्थित रहे।

प्रदेश सर्व कर्मचारी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष की दोटूक; कहा, पेंशनर्ज की मांगें पूरी नहीं हुई तो करेंगे आंदोलन

कार्यालय संवाददाता- बिलासपुर हिमाचल प्रदेश सर्वकर्मचारी पेंशनर्ज श्रमिक युवा बेरोजगार संयुक्त मोर्चा ने प्रदेश सरकार ने प्रदेश सरकार को चेतावनी दी है कि यदि सरकार ने आगामी 90 दिन के भीतर कर्मचारियों व पेंशनर्स की मांगों को पूरा नहीं किया तो सरकार के खिलाफ जन आंदोलन शुरू किया जाएगा। बिलासपुर में मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष गोपाल दास वर्मा ने कहा कि करीब तीन साल से कर्मचारियों की मांगों को लेकर सरकार ने कोई भी उचित कदम नहीं उठाए। जिसके चलते कर्मचारियों, पेंशनरों में सरकार के प्रति रोष है। उन्होंने कहा कि यदि कर्मचारी उत्पीडऩ के मामले भी नहीं सुलझाए तो वे न्यायालय जाने से परहेज नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश मेंं भाजपा की सरकार बने हुए साढ़े तीन वर्ष का समय बीत चुका है, लेकिन कर्मचारियों व पेंशनर्ज की मांगें जस की तस बनी हुई हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने चुनाव से पहले कर्मचारियों व पेंशनर के साथ जो वादे किए थे। वह आज तक पूरे नहीं हो पाए है। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों को 4-9-14 का लाभ नहीं मिल पाया है। उन्होंने प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यदि सरकार से कर्मचारियों व पेंशनर्स की मांगों पर सही ढंग से माना होता तो शायद भाजपा को पालमपुर, सोलन, धर्मशााल में हुए नगर निगम चुनावों में हार नहीं होती। वहीं, मंडी में कर्मचारी नेता ने सही तरीके से काम किया है जिसके चलते वहां पर भाजपा को जीत हासिल हुई है। उन्होंने कहा कि उन्होंने पिछले चुनावों में स्वयं भाजपा के पक्ष में काम कर पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की सरकार को जड़ से उखाड़ फेंकने में अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि ओल्ड पेंशन स्कीम की लड़ाई लडऩे वाले कर्मचारी अगर उनसे संपर्क करे तो वह उनकी लड़ाई में भी साथ देने को तैयार है। उन्होंने सरकार से कर्मचारियों व पेंशनर्ज से चुनाव के समय किए गए वादों को पूरा करने की मांग की है अन्यथा आंदोलन शुरू किया जाए। जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी।

नयनादेवी में प्रसाद, हलवा व नारियल भी नहीं चढ़ा पाएंगे श्रद्धालु, व्यवस्था के लिए उपायुक्त ने जारी किए आदेश

कार्यालय संवाददाता- बिलासपुर उत्तरी भारत के प्रसिद्ध शक्तिपीठ नयनादेवी में 13 से 22 अप्रैल तक चैत्र नवरात्र मेले होंगे। इसके लिए जिला प्रशासन की ओर से तैयारियां कर ली गई हैं। प्रशासन की ओर से जहां कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए 120 गृह रक्षकों की तैनाती की है। वहीं, अन्य सेक्टर अधिकारियों की भी तैनाती कर दी गई है। ताकि माता के दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को किसी तरह की समस्या न झेलनी पड़े। जिला दंडाधिकारी रोहित जम्वाल ने नयनादेवी मंदिर में चैत्र नवरात्र के उपलक्ष्य पर मनाए जाने वाले चैत्र नवरात्र के दौरान श्रद्धालुओं की संभावित अत्याधिक संख्या को नियंत्रण करने एवं कानून व्यवस्था को उचित ढंग से बनाए रखने के लिए नयनादेवी में लाउड स्पीकर व ढोल-नगाड़े तथा बैंड बाजे आदि के प्रयोग पर प्रतिबंध लगाया गया है। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त नवरात्र के दौरान मंदिर परिसर में हल्वा व नारियल चढ़ाने तथा प्रसाद के लिए बांस की टोकरी का प्रयोग पर भी पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। उन्होंने बताया कि टोबा से नयनादेवी सड़क मार्ग पर केवल बसों व छोटे वाहनों की आवाजाही की अनुमति होंगी। उन्होंने बताया कि ट्रक, कैंटर, ट्रैक्टर व टैंपू इत्यादि पर टोबा से नयनादेवी की तरफ आने-जाने के लिए प्रतिबंध रहेगा।

ट्रक, ट्रैक्टर व टैंपू से सवारियों से लदे होंगे,उन्हें प्रदेश की सीमा गड़ामोड़ा, ग्वालथाई, भाखड़ा व टोबा से आगे नयनादेवी मंदिर की तरफ आने पर प्रतिबंध रहेगा। इन स्थानों से श्रद्धालु केवल बसों व टैक्सियों यात्री वाहन में ही नयनादेवी आ सकेंगे। उन्होंने बताया कि 13 से 22 अप्रैल तक अस्त्र, शस्त्र, गोला बारूद, दूर से मार करने वाले हथियार व तेज धार हथियार लाने व ले जाने पर प्रतिबंध रहेगा। यह आदेश भारतीय सेना बल, राज्य पुलिस बल तथा अन्य शस्त्र सेना, पुलिस बल कर्मचारियों, अधिकारियों पर लागू नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि चैत्र नवरात्र के दौरान कानून व्यवस्था को उचित ढंग से बनाए रखने के लिए आदेशक, गृह रक्षा, पांचवी बाहिनी, बिलासपुर को आदेश दिए कि वह 120 गृह रक्षकों महिला गृह रक्षकों सहित की सेवाएं पुलिस मेला अधिकारी, नयनादेवी को 11 अप्रैल बाद दोपहर तक उपलब्ध करवाएं। चैत्र नवरात्र के दौरान तैनात गृह रक्षकों के वेतन भत्तों की अदायगी मंदिर न्याय नयनादेवी से की जाएगी। उन्होंने चैत्र नवरात्र के दौरान कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए नायब तहसीलदार, उपतहसील कलोल रमेश धीमान, नायब तहसीलदार उपतहसील मुरारी लाल, नायब तहसीलदार, कार्यालय मुख्य अरण्यपाल (वन) प्यारे लाल शर्मा तथा नायब तहसीलदार वंदोवस्त भूव्यवस्था घुमारवीं कृष्ण लाल को 13 से 22 अप्रैल तक की अवधि के दौरान कार्यपालक दंडाधिकारी सेक्टर अधिकारी के तौर पर नियुक्त किया है।