Tuesday, January 26, 2021 01:45 PM

चार प्रोजेक्टों की डीपीआर मंजूर; जर्मन बैंक ने कंसल्टेंट के लिए दिए डेढ़ करोड़, कोविड के कारण रुका फंडिंग एग्रीमेंट

चार बिजली परियोजनाओं की डीपीआर को केएफडब्ल्यू जर्मन बैंक ने अपनी मंजूरी प्रदान कर दी है। लंबे समय से यह मामला रुका हुआ था, जिसमें अब तेजी आने की उम्मीद है। बताया जाता है कि कोविड के कारण बैंक के साथ फंडिंग का एग्रीमेंट नहीं हो पा रहा है, लेकिन केएफडब्ल्यू ने एक दफा फिर से कंसल्टेंट के लिए डेढ़ करोड़ रुपए की राशि हिमाचल बिजली बोर्ड लिमिटेड को दी है। चंबा जिला में चार परियोजनाएं प्रस्तावित हैं, जिनको पैसे की दरकार है। कई साल से यह मामला जर्मन बैंक के साथ चल रहा था। जर्मन बैंक को जो डीपीआर भेजी गई थी, उसे मंजूरी मिल गई है, जिस पर कंसल्टेंट भी अपनी रिपोर्ट दे चुके हैं।

 अब एक और कंसल्टेंट लगाए जाने के लिए डेढ़ करोड़ रुपए की राशि उन्होंने जारी की है। इससे पूर्व दो करोड़ ्रकी राशि भी उन्होंने कंसल्टेंट एजेंसी के लिए दी थी। जिन परियोजनाओं पर काम किया जाना है, उनमें साईकोठी एक, साईकोठी दो, देवीकोठी व हेल प्रोजेक्ट हैं। यह चारों परियोजनाएं कुल मिलाकर 70 मेगावाट क्षमता की हैं, जिनको दूसरी सभी मंजूरियां पहले ही हासिल हो चुकी हैं।

 जर्मन बैंक से डीपीआर मंजूरी का एक बड़ा पेंच था, जो अब निकल गया है। पांच सौ करोड़ रुपए से ज्यादा की इन परियोजनाओं के लिए केएफडब्ल्यू जर्मन बैंक फंडिंग एजेंसी है, जिनके साथ फंडिंग एग्रीमेंट किया जाना था। कोविड के कारण उनके अधिकारी यहां पर नहीं आ पा रहे हैं और जैसे ही हालात सुधरते हैं, तो उनके साथ एग्रीमेंट होगा। इसके साथ ही चंबा के इन प्रोजेक्टों पर काम भी शुरू कर दिया जाएगा।

हालात सामान्य होने के बाद फंड

जर्मन बैंक यहां कई दूसरे प्रोजेक्टों को भी लोन दे रहा है। बिजली बोर्ड भी उससे लोन चाहता है, जिसमें अब ज्यादा समय नहीं लगेगा। कोविड की स्थिति संभलते ही फंडिंग भी शुरू होगी। देखना यह है कि फिर कितने समय में प्रोजेक्ट पूरे हो सकेंगे, जिससे बिजली बोर्ड की बिजली क्षमता बढ़ेगी। बोर्ड के पास विशेषज्ञों की कमी नहीं है।

The post चार प्रोजेक्टों की डीपीआर मंजूर; जर्मन बैंक ने कंसल्टेंट के लिए दिए डेढ़ करोड़, कोविड के कारण रुका फंडिंग एग्रीमेंट appeared first on Divya Himachal.