Wednesday, August 05, 2020 06:33 PM

छोटे कारोबारियों को दें आर्थिक पैकेज, 20-30 प्रतिशत कारोबारी व्यापार बंद करने की तैयारी में, सरकार से आस

शिमला – हिमाचल प्रदेश व्यापार मंडल ने छोटे कारोबारियों को आर्थिक पैकेज जारी करने की मागं उठाई है। कोविड-19 के चलते प्रदेश में छोटे कारोबारियों का कारोबार प्रभावित हुआ है।  छोटे कारोबारी कर्जे के बोझ तले दब गए हैं, जो अपना कारोबार बदं करने की तैयारी में हैं। प्रदेश व्यापार मंडल अध्यक्ष सुमेश शर्मा ने कहा कि राज्य में 20 से 30 प्रतिशत ऐसे छोटे कारोबारी हैं, जो कारोबार छोड़ने की तैयारी में हैं। लॉकडाउन के दौरान कारोबारियों को आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ा है। हालांकि अनलॉक-1 से राज्य में सरकार ने दुकानों को खोलने की अनुमति, तो प्रदान कर दी है, मगर बाजारों में ग्राहकों के न होने से कारोबारियों को अभी भी नुकसान का उठाना पड़ रहा है। छोटे कारोबारियों को ज्यादा मार झेलनी पड़ रही है और वे कर्ज तले आ गए हैं।  ऐसे में वे कारोबार बंद करने की तैयारी में हैं। अगर राज्य सरकार द्वारा समय रहते उक्त कारोबारियों को आर्थिक सहयोग नहीं दिया गया, तो प्रदेश में कई कारोबारी बेरोजगार हो जाएंगे।

पट्टरी पर नहीं लौटा व्यवसाय

अनलॉक-2 के दौरान भी कारोबार पटरी पर नहीं लौट पाया है। बाजारों में ग्राहक नहीं हैं, जिससे कारोबार अभी तक पूरी रफ्तार नहीं पकड़ पाया है। राज्य में मौजूदा समय में भी एक दिन के दौरान 200 से 250 करोड़ का कारोबार हो रहा है, जबकि पूर्व में सामान्य दिनों के दौरान यह आंकड़ा 500 से 600 करोड़ का रहता था।

मानसून से भी मंदी

प्रदेश व्यापार मंडल के अध्यक्ष सुमेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश में मानसून सीजन के दौरान भी कारोबार मंदा ही रहता है। ऐसे में अगामी दिनों के दौरान भी कारोबारियों को मंदी की मार झेलनी पड़ सकती है।

The post छोटे कारोबारियों को दें आर्थिक पैकेज, 20-30 प्रतिशत कारोबारी व्यापार बंद करने की तैयारी में, सरकार से आस appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.