Monday, October 18, 2021 03:39 PM

सीएम जयराम ठाकुर ने की घोषणा, डोडरा क्वार में बिजली बोर्ड का सब-डिवीजन

सीएम ने की घोषणा, सात करोड़ की योजनाओं की रखी नींव

स्टाफ रिपोर्टर – डोडरा क्वार

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने डोडरा क्वार के अपने दौरे के दौरान यहां खूब सौगातें बरसार्ईं। उन्होंने क्वार में 7.02 करोड़ रुपए की लागत की विकास परियोजनाओं की नींव रखी। क्वार में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने डोडरा क्वार में हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड का उपमंडल खोलने, डोडरा में जलशक्ति विभाग का कनिष्ठ अभियंता अनुभाग स्थापित करने, जिस्कून सड़क के लिए 20 लाख रुपए तथा क्षेत्र की पांच पंचायतों को विभिन्न विकास कार्यों के लिए प्रति पंचायत 15 लाख रुपए प्रदान करने की घोषणा की। उन्होंने क्वार में विषयवाद विशेषज्ञ (एसएमएस) कार्यालय खोलने, रोहड़ू विधानसभा क्षेत्र की छह नवगठित पंचायतों में नए पंचायत भवन निर्मित करने के लिए प्रत्येक पंचायत को 10 लाख रुपए प्रदान करने तथा क्षेत्र के 17 महिला मंडलों को ऐच्छिक निधि से 15 हजार रुपए प्रति महिला मंडल प्रदान करने की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि क्षेत्र में मोबाइल सिग्नल की क्षमता और बेहतर बनाने के लिए यहां पर बीएसएनएल और एयरटेल के टॉवर स्थापित करने का मामला संबंधित प्राधिकरणों से उठाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने लरोट से डोडरा क्वार सड़क के उन्नयन के कार्य को गति प्रदान करने के निर्देश भी दिए, ताकि इस क्षेत्र के लोगों को बेहतर परिवहन सुविधा उपलब्ध करवाई जा सके। इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश राज्य सहकारी, कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक सीमित की अध्यक्षा शशि बाला ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया और क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक गतिविधियों और मांगों का विवरण दिया। भाजपा मंडल अध्यक्ष बलदेव रांटा ने भी मुख्यमंत्री का स्वागत किया। उपायुक्त आदित्य नेगी और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित रहे।

वैक्सीन ले गए थे सीएम

इस अवसर पर जयराम ठाकुर डोडरा क्वार क्षेत्र के लोगों के लिए शिमला से कोरोना वैक्सीन की 2500 खुराकें भी अपने साथ लाए थे। इसी दौरान डोडरा क्वार के छात्र भी मुख्यमंत्री से मिले और उनसे पाठशालाएं शीघ्र खोलने का आग्रह किया।

खराब मौसम ने वापस भेजा मुख्यमंत्री का चौपर

उतरने के बाद पहले हाटकोटी माता के दर पहुंचे सीएम, फिर प्राइवेट गाड़ी में शिमला

बृजेश फिष्टा – रोहड़ू

प्रदेश के दूरदराज क्षेत्र डोडराक्वार में बुधवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर तय समय पर पहुंचे। हालांकि जब शिमला वापसी का समय आया तो मुख्यमंत्री डोडरा क्वार के हेलिपैड चैधार से दो बजे शिमला अनाडेल के लिए रवाना हो गए। इस दौरान मौसम अचानक खराब हो गया, तो मुख्यमंत्री के चौपर को वापस आना पड़ा और काफी देर तक मौसम के खुलने के इंतजार में चौपर हवा में ही घूमता रहा। लंबे समय तक मौसम का मिजाज जब नहीं सुधरा तो मुख्यमंत्री के चौपर को दो बजकर 32 मिनट पर सावड़ा हेलिपैड पर उतरना पड़ा। डोडराक्वार के दौरे के दौरान मुख्यमंत्री के साथ प्रशासन का पूरा सरकारी अमला साथ था और मौसम खराबी की संभावना भी सुबह से ही थी। बावजूद इसके सावड़ा हेलिपैड पर जब मुख्यमंत्री का चौपर उतरा, तो उसने प्रशासन की नींद भी उड़ा दी। प्रशासन की ओर से कोई व्यवस्था न होने पर मुख्यमंत्री को किसी भाजपा कार्यकर्ता की निजी कार में हाटकोटी मंदिर में दर्शनों के लिए ले जाया गया। बात यहीं पर खत्म नहीं हुई है, यहां पर भी प्रशासन की ओर से कोई सरकारी वाहन उपलब्ध नहीं करवाया गया, तो भाजपा आईटी सेल के प्रदेश संयोजक चेतन बरागटा को फॉच्र्यूनर गाड़ी लेकर आना पड़ा और उनके साथ हाटकोटी से शिमला का सफर मुख्यमंत्री को गाड़ी से तय करना पड़ा।

अच्छा होता, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर क्वार से रोहड़ू सड़क से पहुंचते

स्थानीय विधायक मोहन लाल ब्राक्टा को मुख्यमंत्री के दौरे की सूचना नहीं थी। दसका मलाल विधायक मोहन लाल ब्राक्टा को भी है। उन्होंने बताया कि मौसम डोडरा में ही खराब हो जाता, तो अच्छा था। इस कारण मुख्यमंत्री को बाइ रोड क्वार से रोहडू आना पड़ता। करीब 90 किलोमीटर लंबी इस सड़क की दुर्दशा से मुख्यमंत्री भी परिचित होते कि किसी तरह से क्षेत्र के लोग खराब सड़क में हिचकोले खाते आते हैं।

जल्द पूरे होंगे ठियोग के प्रोजेक्ट

ठियोग – मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि ठियोग में जितनी भी निर्माणाधीन योजनाएं हैं, उनको जल्द से जल्द पूरा किया जाएगा। सोमवार को रोहडू से लौटते समय कुछ देर ठियोग में रुके मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने यह बात कही। उनके साथ एपीएमसी के चेयरमैन नरेश शर्मा विशेष रूप से उपस्थित थे। जब सीएम से पूछा गया कि स्थानीय विधायक विपक्षी पार्टी का होने के कारण कहीं जानबूझकर सरकार इन कार्यों कमें देरी तो नहीं कर रही। इस पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जवाब दिया कि भले ही उनकी और विधायक सिंघा की पार्टी अलग-अलग हो, लेकिन उनके बीच कोई मतभेद नहीं हैं। वर्तमान सरकार ने करोड़ों रुपए के प्रोजेक्ट ठियोग में शुरू करवाए हैं। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि भले ही बीच में बागबानों को सेब के मामले में थोड़ा नुकसान झेलना पड़ा लेकिन आजकल साफ माल के अच्छे दाम मिल रहे हैं।

ठियोग में मुख्यमंत्री ने पूछा सेब का रेट

स्टाफ रिपोर्टर – शिमला

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर बुधवार को शिमला जिला के अति दुर्गम क्षेत्र डोडरा क्वार क्षेत्र के दौरे पर थे। सड़क मार्ग से लौटते हुए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर एकाएक खड़ापत्थर मंडी पहुंच गए। यहां उन्होंने बागबानों से बातचीत की और उनकी दिक्कतों के बारे में पूछा। अचानक बिना किसी तय कार्यक्रम के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के खड़ापत्थर मंडी पहुंचने से लोगों के बीच भी खासा उत्साह दिखा। इस दौरान उन्होंने खुद मंडी में सेब की पेटियों के दाम पूछे और सेब के साइज और कलर की खुद परख की। लोग एकाएक मुख्यमंत्री को अपने बीच पाकर उत्साहित नजर आए और उनके साथ सेल्फी खिंचवाने लगे। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि अब सेब का सीजन करीब-करीब खत्म होने को है। चिंता का विषय यह रहा कि बीच में मार्केट डाउन रही। इससे बागबानों को नुकसान भी हुआ। अब मार्केट में सुधार आया है। हालांकि जो अच्छा सेब है, वह पहले और अभी भी 2500 रुपए पेटी तक जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज मैं खुद खड़ापत्थर मंडी गया थ और वहां देखा कि मार्केट में बहुत सुधार है। अब मार्केट स्थिर है। हमारा सेब अच्छा बिकना चाहिए और बागबानों को वाजिब कीमत मिले, इसके लिए हम हमेशा प्रयास करते रहेंगे।