Sunday, March 07, 2021 04:50 PM

हिमाचल में कोड ऑफ कंडक्ट खत्म, क्या क्या काम होंगे, पढि़ए पूरी खबर

शकील कुरैशी, शिमला हिमाचल प्रदेश में पंचायती राज व शहरी निकाय चुनाव के लिए लगाई गई आदर्श चुनाव आचार संहिता समाप्त हो गई है। आचार संहिता की समाप्ति को लेकर राज्य चुनाव आयोग ने अधिसूचना जारी कर दी है। इसके साथ प्रदेश में विकास के काम चालू हो जाएंगे, जिन पर रोक लगी हुई थी। इन चुनावों के लिए भी लंबी चुनाव आचार संहिता चली। 17 दिसंबर को प्रदेश में आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू हो गई थी, जोकि शनिवार 23 दिसंबर को समाप्त हुई है।

एक महीने से ज्यादा समय तक चली इस आचार संहिता के कारण राज्य में विकास के काम रूके हुए थे। सरकार ने इस अवधि के दौरान कहीं पर भी कोई उदघाटन या शिलान्यास नहीं किए जिनका सिलसिला अब शुरू होगा। प्रदेश में केवल नगर निगम क्षेत्रों और नई बनी नगर पंचायतों के क्षेत्र में आचार संहिता लागू नहीं थी। हालांकि वहां पर भी काम प्रभावित ही रहे मगर फिर भी कहने के लिए यहां पर आचार संहिता लागू नहीं थी।

नगर निगम क्षेत्रों में जो काम होने थे वो निरंतर चलते रहे हैं। शिमला शहर में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत काम किए जा रहे हैं जो निरंतर जारी हैं। सरकार ने आचार संहिता की वजह से कई क्षेत्रों में उद्घाटन व शिलान्यास छोड़ दिए थे, जिनका एक पूरा शेड्यूल बना हुआ था। आचार संहिता लगने से पहले धड़ाधड़ कई जगहों पर उद्घाटन किए गए, लेकिन बीच में यह बंद हो गए जिनको अब नए शेडयूल से शुरू किया जाएगा।

इस एक महीने से ज्यादा की अवधि में यहां पर शहरी निकायों व पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव हुए। इसमें 50 कमेटियों के चुनाव हुए जिनमें अध्यक्ष व उपाध्यक्ष की तैनाती कर दी गई है वहीं राज्य में 3583 पंचायतों के लिए भी चुनाव हुए हैं। अभी पूरी पंचायतों में चुनाव नहीं हुए जोकि मई महीने में होंंगे।

इसके साथ यहां पर नई बनाई गई नगर निगमों में चुनाव होने हैं वहीं धर्मशाला निगम का भी चुनाव होना है। इसके साथ नई नगर पंचायतों में भी चुनाव होने हैं जिनके लिए वोटर लिस्ट अपडेशन का काम अब शुरू होने जा रहा है जोकि 2 फरवरी से होगा। इसके साथ विधानसभा का बजट सत्र भी शुरू होगा जिसके लिए भी यहां पर तैयारियां चल रही हैं। बहरहाल आचार संहिता समाप्त हो गई है और सरकार तंत्र कामकाज के लिए अब खुला है।