Tuesday, June 15, 2021 12:09 PM

कुल्लू में आज से 16 तक कोरोना कफ्र्यू

कुल्लू के बाजारों में जरूरी सामान की खरीददारी की लगी होड़

निजी संवाददाता — कुल्लू शुक्रवार से कोरोना करफ्यू के चलते गुरुवार को कुल्लू के बाजारों में भारी भीड़ देखने को मिली। लोग सुबह से ही देर शाम तक बाजारों में इस कद्र से खरीददारी करने के लिए पहुंचे मानों जैसे लॉकडाउन करीब छह माह के लिए लग गया हो, जिस तरह से लोग दुकानों में खरीददारी कर रहे थे। इससे तो यही जाहिर हो रहा था। कोई ऐसी किराने की दुकान नहीं थी जहां पर लोग खरीददारी के लिए उमड़े न हों। यही नहीं, यहां तो मंजर कहीं जगह पर ऐसा भी देखने को मिल रहा था कि लोग अपनी गाडिय़ों में भर-भर कर सामान कई महीनों का खरीद रहे थे। सुबह से देर शाम तक दुकानदार भी सामान देते-देते थकते हुए दिखे और लोगों को समझाते हुए भी दिखे कि वे घबराएं न सामान की किसी तरह से कोई कमी नहीं है, जब मर्जी आकर आसानी से खरीददारी कर सकते हैं। यही नहीं, यहां मेडिकल स्टोर में भी लोग दवाइयां लेने के लिए पहुंचे, ताकि महीने का स्टॉक कर लें।

हालांकि मेडिकल स्टोर वाले भी ग्राहकों को यहां बोलते हुए दिखे कि दवाई की कोई कमी नहीं है। रूटीन की तरह आकर ले सकते हैं। यूं स्टॉक कर न रखें, जब जरूरत है तभी लें, लेकिन जनता है मानती नहीं। कोरोना कफ्र्यू हालांकि आठ दिनों के लिए ही लगा है। इस बार ढील भी काफी अधिक है। बावजूद इसके लोगों में खरीददारी को लेकर अफरा-तफरी का मौहल भी देखने को मिला। खरीददारी को लेकर निकले लोगों के चलते यहां दिनभर जाम की स्थिति भी कई जगहों पर बनी रही। ट्रैफिक पुलिस को भी दिनभर भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं, कुल्लू शहर सहित भुंतर, बजौरा, मनाली, पतलीकूहल, डोभी, नगवार्इं, बंजार, आनी के बजारों में भी लोग खरीददारी के लिए काफी संख्या में बाजारों में पहुंचे।

गांधी हेल्पलाइन शुरू

पतलीकूहल। लाहुल-स्पीति कांग्रेस कमेटी ने कोविड संक्रमण से जूझ रहे मरीजों के लिए केलांग में गांधी हेल्पलाइन की शुरुआत की है। ब्लॉक कांग्रेस उदयपुर के अध्यक्ष सुशील कुमार ने बताया कि कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर के दिशा-निर्देश के तहत गुरुवार से गांधी हेल्पलाइन सेवा आरंभ की गई है और जरूरत पडऩे पर लोगों को 9418205833 राजेश बाबा और 9418774313 सुनील सिंदवाड़ी से संपर्क साधने को कहा है। इस अवसर पर कांग्रेस कमेटी के जिलाध्यक्ष ज्ञालछन ठाकुर ने बताया कि इस महामारी के दौरान कांग्रेस पार्टी भी प्रदेश सरकार के साथ है। इस मौके पर उदयपुर हेल्पलाइन के इंचार्ज राजेश बाबा, सुनील, सुरेश, देवी सिंह, सुनील, आशु थिरोटी और जगदीश आदि उपस्थित रहे।

आवश्यक वस्तु-सेवाओं की आपूर्ति रहेगी बहाल, कुछ व्यावसायिक-औद्योगिक संस्थान भी रहेंगे खुले

निजी संवाददाता — कुल्लू प्रदेश में सात से 16 मई तक कोरोना कफ्र्यू के तहत सरकार द्वारा कुछ बंदिशें लगाई जा रही हैं। इसके तहत लोग सरकारी दिशा-निर्देशों का पालन करें, बेवजह घर से न निकलें। इसके अलावा प्रशासन का भी लोग सहयोग करें। उपायुक्त कुल्लू डा. ऋचा वर्मा ने उपायुक्त कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा कि शाम छह बजे तक आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली रहेंगी। शाम छह बजे के बाद केवल दवा की दुकानें खुली रहेंगी। आवश्यक वस्तुओं के तहत राशन, फल-सब्जी, दूध- दही आदि की दुकानें खुली रहेंगी। हार्डवेयर की दुकानें भी खुली रखने के निर्देश सरकारी की ओर से जारी किए गए हैं। शराब की दुकानें भी बंद रखने का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा पांच लोगों से ज्यादा लोग एक स्थान पर एकत्र नहीं हो सकते। निजी तथा सरकारी निर्माण कार्य जारी रहेगा। सार्वजनिक परिवहन भी 50 फीसद क्षमता के साथ चालू रहेगा। इसके अलावा निजी वाहन भी लोग आवश्यक गतिविधी के लिए प्रयोग कर सकेंगे, लेकिन इसमें भी 50 फीसदी क्षमता के साथ ही लोग बैठ सकेंगे। होटल और रेस्त्रां भी खुले रहेंगे। इनको होम डिलीवरी के साथ सेवाएं देने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।

मनरेगा आदि में भी मजदूरी का काम जारी रहेगा। उपायुक्त डा. ऋचा वर्मा ने कहा कि शादी और दाह संस्कार के अलावा किसी भी प्रकार के कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसमें भी 20 से ज्यादा लोग भाग नहीं ले सकेंगे। यदि लोग इस नियम का पालन नहीं करते हैं तो नियमानुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी। बाहर से आने वाले लोगों को आरटीपीसीआर रिपोर्ट देनी होगी और कोविड पोर्टल पर पंजीकृत होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट जोन बनने पर नियम और सख्त करने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आवश्यक वस्तु वाहनों को रोका नहीं जाएगा। औद्योगिक इकाइयां चालू रहेंगी। कफ्र्यू के दौरान जो संस्थान खुले रहेंगे, उन्हें हर हाल में कोरोना प्रोटोकॉल को सख्ती से पालन करना पड़ेगा। उपायुक्त ने कहा कि आवश्यक सेवाएं प्रदान करने वाले सरकारी कार्यालयों के अलावा अन्य सभी सरकारी और निजी कार्यालय बंद रहेंगे, जो कार्यालय बंद होंगे, उन्हें वर्क फ्रोम होम करना होगा। कृषि बागबानी से संबंधित कार्य करने के लिए लोगों को छूट रहेगी। इसके अलावा बैंक, पोस्ट ऑफिस और एटीएम भी चालू रहेंगे। डा. ऋचा वर्मा ने कहा कि जो लोग नियमों को नहीं मानेंगे उनके खिलाफ आपदा प्रबंधन एक्ट 2005 की धारा 51 से 60 और अन्य प्रावधानों के तहत कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने सभी लोगों से कोरोना से जुड़े सभी नियमों के पालन की जिला वासियों से अपील की।