Wednesday, September 23, 2020 03:36 PM

कोरोना ने फीका किया रक्षाबंधन पर्व

कोरोना के चलते पंजाब-हरियाणा को बसें न चलने से बहनों ने ऑनलाइन भेजे रक्षासूत्र

नालागढ़ – कोरोना संकट में इस बार भाई बहन के पवित्र व अटूट प्यार का पर्व रक्षाबंधन पर्व फीका रहा है। बाजारों से रौनक गायब रही और बसों में भी महिलाएं कम ही नजर आई। बताते हैं कि पड़ोसी राज्यों पंजाब हरियाणा की ओर बसें न जाने के कारण बहनें अपने भाइयों की कलाई पर राखी नहीं बांध सकी, अपितु ऑनलाइन व पोस्ट के माध्यम से ही रक्षासूत्र भेजे गए। दुकानदारों ने भी इस बार 75 फीसदी तक नुकसान झेला है। जानकारी के अनुसार इस बार कोरोना काल में आया यह पर्व काफी फीका रहा है। नजदीक की रिश्तेदारी में तो बहनों ने अपने भाइयों के घर में जाकर राखी बांधी, लेकिन दूरदराज में बैठे भाइयों को ऑनलाइन व पोस्ट के माध्यम से ही राखी भेजी गई। सरकार ने महिलाओं को रक्षाबंधन पर निःशुल्क सफर का प्रावधान किया है, लेकिन बीबीएन क्षेत्र की महिलाओं को पहले भी इसका थोड़ा सा लाभ मिला और कोरोना के दौर में वैसे भी बसें हिमाचल के भीतर ही दो दर्जन बसें चल रही है। शनिवार को भेजी गई बसें रविवार को गंतव्य पर ही रुकी और सोमवार को चली, लेकिन इन बसों में महिलाएं बहुत कम नजर आई, जबकि बीबीएन के लोगों की पड़ोसी राज्यों पंजाब हरियाणा में अधिकांश रिश्तेदारी है। बीबीएन के बद्दी, बरोटीवाला, मढ़ांवाला, मंधाला से हरियाणा, जबकि ढेरोंवाल, बघेरी, दभोटा से पंजाब की सीमाएं शुरू हो जाती हैं,  लेकिन इससे आगे न तो हिमाचल की बसें चल रही है और न ही बाहरी राज्यों की बसें हिमाचल आ रही है। ऐसे में बहनें यहां-वहां नहीं जा सकी। एचआरटीसी नालागढ़ डिपो के क्षेत्रीय प्रबंधक जोगिंद्र चौधरी ने कहा कि वैसे भी बसें हिमाचल में ही चली है और जो भी महिलाएं बसों में बैठी, उन्हें निःशुल्क सफर का लाभ मिला है।

The post कोरोना ने फीका किया रक्षाबंधन पर्व appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.