Tuesday, December 07, 2021 06:00 AM

कुओं-बावडिय़ों की होगी गिनती जल जीवन मिशन का सर्वे शुरू

निजी संवाददाता-घुमारवीं जल जीवन मिशन हिमाचल प्रदेश द्वारा प्राकृतिक जल स्रोतों की गणना शुरू कर दी है जल जीवन मिशन का मुख्य उद्देश्य सभी घरों में पाइप जलापूर्ति हर घर नल में जल पहुंचाना मुख्य उद्देश्य है। इसके अलावा प्राकृतिक जल स्रोतों का रखरखाव व उनका संरक्षण करना गांव के प्रत्येक व्यक्ति की भागीदारी सुनिश्चित करना है। इसी उद्देश्य से ग्राम पंचायत औहर मे जल जीवन मिशन की टीम में शामिल सन्नी कुमार व राजीव कुमार ने सभी वार्डो में जाकर प्राकृतिक जल स्रोतों सर्वजनिक हैंडपंप व कुंआ आदि की गणना की तथा लोगों को जल के बारे में जागरूक किया।

उन्होंने कहा कि पानी की बर्बादी को रोकने के लिए आम जनमानस को आगे आने की बहुत आवश्यकता है। तभी ही हम जल को बचा पाएंगे। राजीव कुमार ने कहा कि पानी को बचाने के लिए वर्षा जल संचयन जल का पुना प्रयोग पानी के विवाद रोकना वर्षा जल का विसर्जन वाटर बॉडीज का संरक्षण एवं विस्तार करके बचा सकते हैं। जिसके लिए ग्राम कार्य योजना का गठन किया जाएगा। सन्नी कुमार ने कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में ग्राम पंचायत या उसकी उप समिति ग्राम जल और स्वच्छता समिति का गठन किया जा रहा है ताकि आने वाले समय में हम जल को बचा सके। इस कार्य में पंचायत के सभी वार्ड सदस्यों ने पूर्ण सहयोग दिया।