Saturday, January 23, 2021 03:37 AM

कोविड-19 महामारी की बढ़ती रफ्तार: काहन सिंह ठाकुर, रिटायर्ड सूबेदार

चीन द्वारा पूरे विश्व में फैलाई गई कोविड-19 महामारी आज बड़े पैमाने पर कहर ढा रही है। इसके तेजी से फैलने का मुख्य कारण हम लोग खुद हैं क्योंकि हम लापरवाह हो गए हैं और न ही ऐहतियात बरत रहे हैं। चाहे कोई सरकारी दफ्तर हो, सार्वजनिक स्थान हो, बस स्टॉप हो, दुकान हो, कोई समारोह हो या फिर कोई जलसा हो, सब जगह लापरवाही बरती जा रही है। सरकार क्या करेगी, हाथ पकड़ कर तो किसी को सामाजिक दूरी का पाठ नहीं पढ़ाया जा सकता। न ही हर किसी को फेस मास्क पकड़ कर पहना सकते हैं। राजनीतिक पार्टियां सिर्फ एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप ही लगा सकती हैं। अगर आप टीवी डिबेट को ध्यान से सुनें तो ऐसा लगता है कि यह डिबेट नहीं, बल्कि लोगों को डिबेट के माध्यम से अपनी-अपनी पार्टियों की टांग ऊपर रखने की वकालत की जा रही है। जैसे पुराने ज़माने में गांव में बच्चे गुल्ली-डंडा खेलते हुए लड़ते थे, वैसे ही मीडिया के एंकर भी हाथ धोने से पीछे नहीं रहते कि आज हाई कोर्ट ने फ्लां राज्य सरकार को कोविड-19 महामारी न रोकने पर कड़ी फटकार लगाई। क्या फटकार लगाने से कोविड-19 महामारी रुक जाएगी?

पहले क्यों नहीं चेताया, जब वह राज्य सरकार सही अमल नहीं कर रही थी। जिसका पलड़ा भारी  होता है, उसी तरफ  एंकर भी मुड़ जाता है, जैसे गणतंत्र की परेड में परेड कमांडर मुड़ने के लिए आज्ञा का शब्द इस्तेमाल करता है। क्या यही है लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ? हमारा प्रशासन भी कुंभकर्णी नींद में सोया रहता है। जब सरकार से निर्देश आते हैं, तब ऐसे नाचते हैं कि जब तक घुंघरू टूटते नहीं, बैठने का नाम नहीं लेते। सभी लोगों में एक ही चाहत है, वो है सिर्फ  जल्दी और बगैर पसीना बहाकर आसानी से पैसा कमाना। लेकिन जल्दी और पैसे की कीमत तब है, जब हम स्वस्थ हैं। अगर हम स्वस्थ नहीं हैं तो जल्दी और पैसा किस काम का? इसलिए जब तक हम लोग खुद परहेज नहीं करेंगे, कोविड-19 बढ़ता जाएगा।

 बुरा किसका होगा, इसके बारे में भी हम भली-भांति जानते हैं। इसलिए हम सबको परहेज और ऐहतियात बरतनी चाहिए ताकि कोविड-19 महामारी नियंत्रण में हो और इससे निजात मिल सके। शायद तब तक इसकी वैक्सीन भी आ जाए। हम सब कुशल रहेंगे तो देश मजबूत होगा। फालतू खर्च नहीं होगा तो देश की अर्थव्यवस्था अच्छी होगी। देश की अर्थव्यवस्था अच्छी होगी तो विश्व में अच्छा संदेश जाएगा। आओ आज से हम सब स्व-अनुशासित बनें ताकि हिंदोस्तान को 21सवीं सदी का विश्व गुरु बनने में मदद मिले। हमें यह नहीं भूलना है कि हमारी सतर्कता से ही कोरोना को नियंत्रित किया जा सकता है।

The post कोविड-19 महामारी की बढ़ती रफ्तार: काहन सिंह ठाकुर, रिटायर्ड सूबेदार appeared first on Divya Himachal.