Friday, September 25, 2020 02:06 AM

कोरोना ने नहीं छोड़ा कोई कोना

हैडकांस्टेबल पॉज़िटिव लंबी है कांटैक्ट हिस्ट्री

पांवटा साहिब-कोरोना अब पांवटा साहिब की मुश्किलें बढ़ा रहा है। अभी तक कोरोना वायरस से बची हुई पांवटा पुलिस में भी इसने दस्तक दे दी है। पुरुवाला पुलिस थाने का हैडकांस्टेबल पॉज़िटिव पाया गया है, जिससे हड़कंप मचना लाजिमी है। क्योंकि पुलिस जनता की सेवा और सुरक्षा में हर स्थान पर पहुंचती है, ऐसे में यह चेन भी लंबी खिंच सकती है।

इसमें चिंता की बात यह है कि यह 38 वर्षीय पुलिस कांस्टेबल तीन दिन पूर्व विभाग के काम से डीएसपी पांवटा कार्यालय और पुलिस थाना पांवटा साहिब में भी पहुंचा था। इसकी जानकारी डीएसपी पांवटा साहिब बीर बहादुर सिंह ने मीडिया को शेयर की है। शनिवार को कोरोना पॉजिटिव पाया गया पुरूवाला पुलिस थाने का हैड-कांस्टेबल तीन दिन पूर्व पांवटा साहिब में उनके कार्यालय और पुलिस थाने में भी गया था, जिसके बाद पुरूवाला सहित डीएसपी कार्यालय और पांवटा पुलिस थाने के पुलिस जवानों को कोरोना के टेस्ट करवाने को कहा जा रहा है। पुरूवाला पुलिस थाने सहित डीएसपी कार्यालय और पांवटा पुलिस थाने को पूर्ण रूप से सेनेटाइज करने के भी निर्देश जारी कर दिए हैं। वहीं पुरूवाला पुलिस थाने के प्रभारी विजय रघुवंशी ने कहा कि हैडकांस्टेबल के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद थाने के सभी जवानों को कोविड-19 के टेस्ट करवाने को कहा गया है। थाने सहित गाडि़यों को भी पूरी तरह से सेनेटाइज कर दिया गया है।

शिमला में एसएसबी का जवान भी चपेट में

शिमला-शिमला में एसएसबी का एक जवान कोरोना पॉजिटिव आया है। जवान को प्रशासन की ओर से इंस्टीच्यूशनल क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था। स्वास्थ्य विभाग की ओर से इसका सैंपल लिया गया था, जो कि जांच में पॉजिटिव आया है। जवान को कोविड केयर सेंटर मशोबरा भेज दिया गया है। शिमला में इस समय कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 197 पहुंच गया है, जबकि अभी भी 58 एक्टिव केस हैं। प्रदेश में बाहरी राज्यों से लोगों के आने के बाद कोरोना संक्रमण के मामले काफी बढ़ गए हैं, जबकि पिछले कुछ दिनों से सेवा के जवान भी काफी तादाद में कोरोना की चपेट में आए हैं। ऐसे में शिमला में भी बाहरी राज्यों से लोगों के आने के बाद कोरोना के मामलों में एकाएक ही इजाफा हो गया है, लेकिन प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग इन पर कड़ी नजर रखते हुए अन्य लोगों को इससे बचा रहा है।

गौरतलब है कि इससे पहले जाखू में एक व्यापारी का परिवार कोरोना पॉजिटिव आया था, जिसके बाद उनके परिवार के अन्य सदस्य भी कोरोना की चपेट में आ गए थे। इसके बाद लोअर बाजार की कुछ दुकानें भी बंद कर दी गई थी, जबकि बाजार को सेनेटाइज किया गया था। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि शनिवार को नौ लोग भी कोरोना से जंग जीतकर घर लौटे हैं। विभाग के अधिकारियों का कहना है कि लोग अगर जागरूक और सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करें, तो वे इस वायरस की चपेट में आने से बच सकते हैं। वहीं, विभाग का यह भी कहना है कि जिन लोगों को होम क्वारंटाइन किया गया है वे विभाग की गाइडलाइन का सही तरीके अनुपालना करें, ताकि अगर वे संक्रमित हों, तो उनके परिवार के सदस्य इससे बच सकें।

The post कोरोना ने नहीं छोड़ा कोई कोना appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.