Tuesday, November 30, 2021 08:05 AM

असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का तैयार होगा डाटा बेस

कार्यालय संवाददाता-नालागढ़ श्रम विभाग नालागढ़ के निरीक्षक राकेश खट्टा ने कहा कि सभी असगंठित क्षेत्र के श्रमिकों का डाटा बेस तैयार करने के लिए सभी से जानकारी ली जाएगी। केंद्र सरकार ने ई-श्रम पोर्टल लांच किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से देश के 38 करोड़ असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का डाटा बेस तैयार किया जाएगा जो कि आधार से लिंक होगा। श्रमिकों के एक साथ जोडऩे के साथ साथ इस पोर्टल के माध्यम से उन्हेें कई तरह की सुविधाएं प्रदान की जाएगी। उन्होंने बताया कि इस पोर्टल का उद्देश्य निर्माण, मनरेगा, प्रवासी, घरेलू, कृषि, स्वनियोजित, सड़क विक्रेता, आशा वर्कर, आंगनबाड़ी, मछली विक्रेता व छोटे दुकानदार समेत सभी असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का पंजीकरण सुनिश्चित करना है। ई श्रम पोर्टल पर पंजीकरण के बाद दुर्घटना बीमा क वरेज मिलेगा। दुर्घटना से हुई मृत्य के विकलांगता होने पर दो लाख रुपए व आंशिक रूप पर विकलांग होने पर एक लाख रुपए की राशि दी जाएगी। पंजीकरण के लिए श्रमिक स्वयं भी आन लाइन रजिस्ट्रेशन के लिए के मोबाइल एप्लीकेशन या बेवसाइट पर विजिट कर सकते है। इसके अलावा सभी लोकमित्र केंद्रों पर भी पंजीकरण किया जा सकता है। पंजीकरण के लिए श्रमिक की आयु 16 से 59 वर्ष होनी चाहिए। उसके पास आधार कार्ड एवं बचत बैंक खाता संख्या, आईएफससी कोड सहित होना चाहिए।

अंबुजा उद्योग के मुख्य गेट पर 23 अक्तूबर सजेगी कैंटीन दाड़लाघाट। पूर्व सैनिक लीग दाड़लाघाट-भराड़ीघाट के अध्यक्ष कैप्टन हीरालाल ठाकुर ने दाड़लाघाट तथा इसके आसपास के क्षेत्र के पूर्व सैनिकों से आग्रह किया है कि दाड़लाघाट में पूर्व सैनिकों की सुविधा के लिए चलित कैंटीन ने गत दो माह से कार्य करना आरंभ कर दिया है। इस बार के निर्णय के अनुसार इस मास भी अंबुजा उद्योग के मुख्य गेट पर 23 अक्तूबर को चलित कैंटीन हर प्रकार के सामान के साथ सजाई जाएगी। उन्होंने सभी पूर्व सैनिकों व वीरांगनाओं से आग्रह किया है कि वे उक्त तिथि को अंबुजा गेट के सामने ट्रक आपरेटर ट्रांसपोर्ट सोसायटी के प्रांगण में आकर सीएसडी कैंटीन की घर द्वार आई सुविधाओं का लाभ उठाएं