Monday, October 26, 2020 03:29 PM

मजदूर विरोधी नीतियों पर प्रदर्शन

बजोली-होली प्रोजेक्ट वर्कर्ज यूनियन होली संबंधित सीटू के बनैर तले विभिन्न ट्रेड यूनियनों ने गुरुवार को केंद्र सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों और पूंजीपतियों के पक्ष में श्रम कानूनों में बदलाव के विरोध में धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान यूनियन के पदाधिकारियों व सदस्यों ने केंद्र सरकार के खिलाफ  जमकर नारेबाजी भी की। इस विरोध प्रदर्शन की अगवाई सीटू के जिला महासचिव सुदेश ठाकुर ने की।

सुदेश ठाकुर ने कहा कि सरकार ने 44 श्रम कानूनों को बदलकर चार श्रम संहिताओं में कर दिया है। इस बदलाव से कंपनियों को मजदूरों के शोषण की खुली छूट मिल जाएगी। सरकार ने मजदूरों की यूनियनों से बिना बातचीत किए इसे मंजूरी दी है। जोकि सरकार के तानाशाही रवैये को दर्शाता है।  यूनियन ने कहा जहां निजी क्षेत्रों में पहले से ही हमला जारी है वहीं अब सरकारी क्षेत्र के कर्मचारियों की जबरन रिटायरमेंट की घोषणा कर दी है। अगर सरकार रोजगार नहीं दे सकती है तो जबरन रिटायर तो न करें। इस मौके पर प्रोजेक्ट यूनियन के कार्यकर्ताओं में देवी सिंह, विपिन, बर्फी राम, कुलदीप, परमेश्वरी, मदन, शोभन कपूर, सुरेश डलैल, राकेश कुमार, मंगल सिंह, विजय कुमार, दलीप सिंह, अवनीश व रोहित आदि मौजूद रहे।

The post मजदूर विरोधी नीतियों पर प्रदर्शन appeared first on Divya Himachal.