Thursday, October 01, 2020 12:47 PM

धर्मशाला में बनेगा कमांड कंट्रोल सेंटर, पहले शिमला में बनाने की थी तैयारी

सौ करोड़ होंगे खर्च; पहले शिमला में बनाने की थी तैयारी, सांसद किशन कपूर ने संभाला स्मार्ट सिटी का जिम्मा; अधिकारियों के साथ की दूसरी बैठक, जल्द रिजल्ट देने के निर्देश

दिव्य हिमाचल ब्यूरो — धर्मशाला    

स्मार्ट सिटी धर्मशाला में 100 करोड़ से बनने वाला कमांड कंट्रोल सेंटर अब शिमला नहीं, बल्कि धर्मशाला में ही बनेगा। केंद्रीय योजना से बनने वाली स्मार्ट सिटी का जिम्मा अब सांसद किशन कपूर ने संभाल लिया है। सांसद ने स्मार्ट सिटी के कार्यों को गति देने के लिए सोमवार को दूसरी बैठक की। इसके बाद कपूर ने कहा कि अब स्मार्ट सिटी का काम धरातल पर नजर आएगा। इसके लिए उन्होंने संबंधित अधिकारियों को जल्द रिजल्ट देने को कहा। सांसद किशन कपूर ने कहा कि धर्मशाला को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित करने के लिए आम जनमानस की सहभागिता भी सुनिश्चित की जाए। धर्मशाला स्मार्ट सिटी में 100 करोड़़ रुपए की लागत से इंटीग्रेटिड कमांड कंट्रोल सेंटर बनने जा रहा है, जिसकी सैद्धांतिक मंजूरी मिल चुकी है और इसकी डीपीआर बनाई जा रही है। किशन कपूर सोमवार को डीआरडीए के सभागार में स्मार्ट सिटी एडवाइजरी फोरम की बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे। कपूर ने कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत पार्किंग की समस्या से निपटने के लिए पहले एक पार्किंग दलाईलामा मंदिर के साथ बनी थी।

उसे अब और बढ़ाया जा रहा है। पार्किंग निर्माण में जो कमियां हैं, उन्हें दूर किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त स्मार्ट सिटी के तहत हिलन घर, बस अड्डा के पास भी पार्किंग का निर्माण किया जा रहा है। जहां भी जगह होगी, वहां पार्किंग स्थल विकसित किए जाएंगे। शहर में सात हजार स्ट्रीट लाइट्स लगाई जाएंगी और 33 हजार स्मार्ट मीटर भी लगाए जाएंगे। नड्डी के पास सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनाया जाएगा। इस प्लांट में 5 टीपीडी क्षमता का वेस्ट से ऊर्जा बनाने का प्लांट भी लगाया जाएगा। इन कार्यों पर 100 करोड़ रुपए व्यय किए जाएंगे। शहर में विभिन्न स्थानों पर सीढि़यों और अन्य रास्तों, दलाईलामा मंदिर और पर्वतारोहण संस्थान के पास स्थित पार्किंग के कार्य के उन्नयन का कार्य भी शीघ्र आरंभ कर दिया जाएगा।

स्मार्ट बस शेल्टर के निर्माण और पुराने बस शेल्टर की मरम्मत का कार्य प्रगति पर है। इन कार्यों पर 42 करोड़ रुपए व्यय किए जा रहे हैं। इस अवसर पर विभिन्न संस्थाओं के पदाधिकारियों ने शहर को सुंदर बनाने के लिए अपने बहुमूल्य सुझाव दिए। उनके सुझावों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार कर अमल किया जाएगा। स्मार्ट सिटी के तहत सभी कामों का अमलीजामा पहनाया जाएगा। उन्होंने स्मार्ट सिटी के तहत लंबित कार्य समयबद्ध पूरा करने के अधिकारियों को निर्देश दिए। स्मार्ट सिटी के तहत विभिन्न कार्यों के बेहतर कार्यन्वयन के लिए कार्यकारी अधिकारी प्रदीप ठाकुर व उनके सहयोगी बधाई के पात्र हैं। इससे पूर्व कार्यकारी अधिकारी स्मार्ट सिटी प्रदीप ठाकुर ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए स्मार्ट सिटी के तहत कार्यन्वित किए जा रहे विभिन्न कार्यों की विस्तार से जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर सरकारी तथा गैर सरकारी सदस्यों ने भी स्मार्ट सिटी के विकास के लिए अपने-अपने सुझाव दिए।

15 इलेक्ट्रिक बसें खरीदेंगे

सांसद किशन कपूर ने कहा कि 20 करोड़ रुपए से एचआरटीसी के माध्यम से शहर के लिए 15 इलेक्ट्रिक बसें खरीदी जा रही हैं और शहर में विभिन्न स्थानों पर दस चार्जिंग स्टेशन भी स्थापित किए जा रहे हैं। इन बसों के आने से शहर में पर्यावरण संरक्षण में भी मदद मिलेगी और शहर को आधुनिक परिवहन सुविधा प्राप्त होगी।

पांच स्मार्ट रोड बनाएंगे

स्मार्ट सिटी द्वारा पांच स्मार्ट रोड बनाए जा रहे हैं, जिनमें कैमल ट्रैक, भागसूनाग से लेकर धर्मकोट, एमसी कार्यालय से गैस एजेंसी, बीएसएनएल कार्यालय से कैंची मोड़, अप्पर धर्मकोट से लोअर धर्मकोट रोड बन रहे हैं। इन पर सात करोड़ रुपए व्यय होंगे। बस अड्डा धर्मशाला से स्कूल शिक्षा बोर्ड तक 35 करोड़ से तीन किमी लंबा स्मार्ट रोड बनाया जाएगा।

The post धर्मशाला में बनेगा कमांड कंट्रोल सेंटर, पहले शिमला में बनाने की थी तैयारी appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.