चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के सामने राजस्थान रॉयल्स को खल सकती है स्मिथ की कमी

शारजाह- आईपीएल में विजयी शुरुआत कर चुकी महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स के सामने राजस्थान रॉयल्स को यहां मंगलवार को होने वाले मुकाबले में अपनी नियमित कप्तान स्टीवन स्मिथ की कमी खल सकती है जो कन्कशन के कारण अपनी टीम के पहले मैच से बाहर रह सकते हैं। स्मिथ को आईपीएल के लिए यूएई आने से पहले इंग्लैंड में एकदिवसीय सीरीज से पहले मैनचेस्टर में नेट अभ्यास के दौरान सिर में चोट लगी थी और वह एकदिवसीय सीरीज खेलने से चूक गए थे। स्मिथ का कन्कशन के कारण राजस्थान के आईपीएल में शुरुआती मैच में खेलना संदिग्ध है। यूएई पहुंचने के बाद भी स्मिथ की स्थिति पर निगरानी रखी जा रही है।

दूसरी तरफ धोनी की टीम अपने पहले मुकाबले में गत चैंपियन मुंबई इंडियंस को पांच विकेट से हरा चुकी है और तीन बार की चैंपियन चेन्नई का इस जीत से मनोबल पहले ही ऊंचा हो चुका है। हालांकि कप्तान धोनी ने जीत के बावजूद कहा था कि कुछ विभाग ऐसे हैं जिनमें अभी सुधार करने की जरूरत है।राजस्थान के लिए अपने पहले मुकाबले से पूर्व फिलहाल कुछ भी ठीक नहीं है। टीम के इंग्लैंड के धुरंधर खिलाड़ी जोस बटलर ने भी कहा है कि वह यूएई में अनिवार्य क्वारेंटीन में होने के कारण चेन्नई के खिलाफ टीम के पहले मैच में नहीं खेल पाएंगे। राजस्थान को टूर्नामेंट के शुरूआती दौर में स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स की सेवाएं भी नहीं मिल पाएंगी जो अपने पिता के ब्रेन कैंसर का पता चलने के कारण क्राइस्टचर्च में अपने परिवार के साथ हैं। हालांकि उन्होंने न्यूजीलैंड पहुंचने के बाद 14 दिन का आइसोलेशन पूरा कर लिया है और अपनी ट्रेनिंग भी शुरू कर दी है लेकिन अभी यह देखना होगा कि वह टीम के साथ कब जुड़ पाएंगे।

राजस्थान के लिए अच्छी खबर यही है कि इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर इस मैच में उपलब्ध रहेंगे। ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के आईपीएल से अनुबंधित खिलाड़ी 16 सितम्बर को वनडे सीरीज समाप्त होने के अगले दिन यूएई पहुंच गए थे। अपने कुछ स्टार विदेशी खिलाड़ियों की अनुपस्थिति में राजस्थान के लिए एक संतुलित एकादश ढूंढना टेढ़ी खीर होगा। यदि स्मिथ इस मैच में नहीं खेल पाते हैं तो राजस्थान को इस मुकाबले के लिए नया कप्तान ढूंढना होगा और अनुभवी रोबिन उथप्पा यह जिम्मेदारी संभाल सकते हैं। पिछले सत्र में अजिंक्या रहाणे टीम के कप्तान थे लेकिन शुरूआती छह मैचों में से पांच हारने के बाद उन्हें हटाकर स्मिथ को नया कप्तान बनाया गया था जिसके बाद राजस्थान के प्रदर्शन में उल्लेखनीय सुधार आया था। रहाणे इस सत्र में दिल्ली कैपिटल्स टीम की तरफ से खेल रहे हैं। उथप्पा टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी हैं और उन पर टीम के मध्य क्रम को संभालने की जिम्मेदारी रहेगी।

इस मुकाबले में राजस्थान की टीम अपने भारतीय खिलाड़ियों पर ज्यादा निर्भर रहेगी। यशस्वी जायसवाल, संजू सैमसन, रियान पराग, श्रेयस गोपाल और जयदेव उनादकट को टीम के शुरूआती मुकाबले में बेहतर प्रदर्शन करना होगा। सैमसन ने पिछले सत्र में शतक जमाया था और वह खासी तेज बल्लेबाजी करने के लिए जाने जाते हैं। इस आईपीएल में शानदार प्रदर्शन उन्हें भारतीय सीमित ओवरों की टीम में विकेटकीपर बल्लेबाज का दावेदार बना देगा। जायसवाल ने पिछले घरेलू सत्र में झारखंड के खिलाफ विजय हजारे ट्रॉफी में 154 गेंदों में 203 रन ठोके थे। इसके अलावा उन्होंने दक्षिण अफ्रीका में हुए अंडर-19 विश्व कप में छह मैचों में सर्वाधिक 400 रन बनाये थे। जायसवाल के लिए यह आईपीएल खुद को एक बड़े मंच पर साबित करने का सुनहरा मौका है।

तीन बार के आईपीएल विजेता धोनी टूर्नामेंट में विजयी शुरुआत करने के बावजूद अब भी कई विभागों में सुधार चाहते हैं। धोनी ने मुंबई पर जीत के बाद कहा था, “मैच में कई सकारात्मक पक्ष रहे लेकिन अभी भी कुछ ऐसे विभाग हैं जिन पर काम करने की जरूरत है। खासकर टाइमिंग को लेकर। बाद में खेलते हुए ओस पड़ने तक थोड़ा मूवमेंट रहता था। ऐसे में अगर आपके पास विकेट सुरक्षित हों तो आप फायदे में रहते हैं।” चेन्नई ने अंबाटी रायुडू (71) तथा फाफ डू प्लेसिस (नाबाद 58) के बेहतरीन अर्धशतकों से मुंबई इंडियंस को हराया था जबकि टीम की शुरुआत बेहद खराब रही थी और उसने पहले दो ओवरों में दो विकेट गंवा दिए थे। मुंबई ने 20 ओवर में नौ विकेट पर 162 रन बनाये थे और चेन्नई ने 19.2 ओवर में पांच विकेट पर 166 रन बनाकर जीत हासिल की थी।

धोनी राजस्थान के खिलाफ चाहेंगे कि टीम को अच्छी शुरुआत मिले चाहे टीम पहले बल्लेबाजी कर रही हो या फिर लक्ष्य का पीछा कर रही हो। टीम को लगातार दूसरे मैच में वेस्ट इंडीज के स्टार ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो की सेवाएं नहीं मिल पाएंगी जो घुटने की चोट के कारण इस मैच के लिए उपलब्ध नहीं रहेंगे। हालांकि ब्रावो की जगह मैच में उतारे गए सैम करेन ने इस मौके का पूरा फायदा उठाया और 28 रन देकर एक विकेट लेने के अलावा छह गेंदों पर 18 रन बनाकर चेन्नई की जीत में अहम भूमिका निभाई। धोनी इस बात को जानते हैं कि आईपीएल एक ऐसा टूर्नामेंट है जहां स्टार खिलाड़ियों के बावजूद कुछ खिलाड़ी चौंकाने वाला प्रदर्शन कर जाते हैं, ऐसे में वह राजस्थान के खिलाफ पूरी तरह संभल कर रहना चाहेंगे।

The post चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के सामने राजस्थान रॉयल्स को खल सकती है स्मिथ की कमी appeared first on Divya Himachal.

Related Stories: