Saturday, September 26, 2020 08:06 PM

एक साथ 150 एंबुलेंस सड़कों पर होगी पेवरिंग

कांगड़ा – मनरेगा के तहत हिमाचल में पहली बार बड़े स्तर पर लिंक रोड से गांवों को जोड़ने वाली 150 एंबुलेंस सड़कों पर पेवरिंग होने जा रही है। विकास खंड कांगड़ा इस काम को पूरा कर नया आयाम स्थापित करेगा। खास बात यह है कि कांगड़ा ब्लॉक की 53 पंचायतों की इन एंबुलेंस सड़कों पर पेवरिंग करने के लिए केवल आईएसआई मार्का टाइल्स ही इस्तेमाल में लाई जा रही है।

इसके लिए पूर्व में पूरी हुई टेंडर प्रक्रिया में तमाम मानकों पर खरा उतरने के बाद चंडीगढ़ की एक फर्म इन पेवर टाइल्स की सप्लाई कर रही है। अभी तक कांगड़ा में तीन लाख पेवर टाइल्स की खेप पहुंच चुकी है। हालांकि प्रशासन द्वारा आईएसआई मार्का का इस्तेमाल करने की बड़ी वजह इन टाइल्स की क्वालिटी है, ताकि लंबे समय तक यह टिकीं रहें। वहीं बता दें कि 18 पंचायतों की एंबुलेंस सड़कों पर इनका कार्य भी आरंभ कर दिया गया है। हर पंचायत में तीन से चार लिंक रोड पर यह कार्य पूरा होगा।

वितिय वर्ष 2019-20 के बजट में इस कार्य के लिए उपायुक्त के माध्यम ये अप्रूवल मिली थी, लेकिन कोविड के चलते इन सड़कों पर होने वाला यह कार्य अधर में लटक गया था। इस कार्य को अब शुरू किया गया है। इन पेवर टाइल्स को लगाने से उपरोक्त 150 सड़कों की हालत तो सुधरेगी ही, साथ ही बारिश की वजह कंकरीट सड़कों के उखड़ने की भी समस्या समाप्त होगी। इस बड़े स्तर पर आरंभ किए गए कार्य से कांगड़ा में लोगों के रोजगार में भी बढ़ोतरी हुई है। कांगड़ा प्रशासन ने इस कार्य को हर हाल में 31 मार्च , 2021 तक पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

सभी काम सही तरीके व तय समय के भीतर पूरे हों इसके लिए पंचायत स्तर व खंड स्तर भी कमेटियों का गठन किया गया है। इसके अलावा खंड विकास अधिकारी भी सरप्राइज विजिट करेंगे। बता दें कि कांगड़ा में मनरेगा जॉब कार्ड धारकों की भी वैरीफिकेशन हो रही है। किसी भी जॉब कार्ड का दुरुपयोग न हो, इसके लिए कांगड़ा जिला की सभी 748 पंचायतों में मनरेगा जॉब कार्ड का सत्यापन किया जा रहा है।

मौजूदा समय में कांगड़ा जिले में कुल 266399 जॉब कार्ड हैं, जिनमें से 137981 जॉब कार्ड ही सक्रिय हैं। कांगड़ा के उपायुक्त राकेश प्रजापति व अतिरिक्त उपायुक्त राघव शर्मा ने मनरेगा समग्र एक योजना सृजित की है। इस योजना में खेती, पशुपालन, बागवानी व मछली पालन जैसी अन्य व्यक्तिगत गतिविधियों को बढ़ावा दिया गया है। वर्तमान में मनरेगा में काम करने वालों को 205 रुपए दिहाड़ी दी जा रही है। इसके अलावा सेमी स्किल को 267 रुपए जबिक स्किलड को 304 रुपए मानदेय दिया जा रहा है।

The post एक साथ 150 एंबुलेंस सड़कों पर होगी पेवरिंग appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.