Sunday, October 25, 2020 02:19 AM

बिजली बोर्ड के 100 मेगावाट के Uhal Project को अभी और लगेंगे दो साल

करोड़ों की परियोजना खटाई में, पैनस्टॉक टूटने के मामले में जांच भी ठंडी

बिजली बोर्ड की 100 मेगावाट की ऊहल परियोजना के निर्माण के बाद उसे उत्पादन में लाने में अभी दो साल और लग जाएंगे। दो बार मुख्यमंत्री के बजट भाषण में शामिल इस परियोजना को शुरू नहीं किया जा सका, क्योंकि आखिरी मौके पर इसके पैनस्टॉक में विस्फोट हो गया। अब इस मामले की जांच भी ठंडे बस्ते में पड़ी हुई है, वहीं नए सिरे से इसके काम को आगे बढ़ाने का मामला भी ठंडे बस्ते में है। लगभग दो महीने हो चुके हैं, जब यह दुर्घटना इस परियोजना में घटी थी, मगर अब तक नतीजा नहीं निकल पाया है। सूत्रों के मानें तो बिजली बोर्ड के एमडी ने अपनी रिपोर्ट सरकार को दे दी है, मगर जिन विशेषज्ञों को इसकी जांच में लगाया था, उनकी रिपोर्ट आनी है। अगले सप्ताह तक विशेषज्ञ कमेटी की रिपोर्ट आने की संभावना जताई जा रही है।

 जानकारी के अनुसार प्रोजेक्ट में सालिमा प्लेट को बदलने या फिर पूरा पैनस्टॉक बदले जाने को लेकर फैसला किया जाना है, जिस पर 20 से 60 करोड़ रुपए की धनराशि खर्च की जाएगी। एक तरफ प्रोजेक्ट के नए सिरे से निर्माण पर चर्चा चल रही है, तो दूसरी ओर जिम्मेदारी किसकी तय की जाए, इस पर बात हो रही है। क्योंकि केंद्र सरकार की एजेंसी सेल से उपकरणों की खरीद की गई थी। अब बिजली बोर्ड सेल को कह रहा है कि वह इसकी भरपाई करे, मगर ऐसा होगा यह तय नहीं है। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया की इसी मशीनरी ने पहले तीन-चार अन्य प्रोजेक्टों को भी इसे सप्लाई किया था, जहां पर भी ऐसी ही दुर्घटना हो चुकी है। बहरहाल मामला खटाई में पड़ा हुआ है। सरकार ने भी अभी तक किसी की जिम्मेदारी इस मामले में तय नहीं की है, जबकि एक बड़ा नुकसान बिजली बोर्ड के जरिए सरकार को हो चुका है। अभी बीओडी की बैठक में इस प्रोजेक्ट को लेकर कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लिए जाने थे मगर वह बैठक भी टल गई क्योंकि बोर्ड के प्रबंध निदेशक क्वारेंटीन में हैं।

एक्सपर्ट कमेटी की राय का इंतजार

अब जो नए उपकरण बोर्ड इसके लिए खरीदेगा, उसमें थर्ड पार्टी एक्सपर्ट भी रखे जाएंगे। यह भी निर्णय लिया जाएगा कि पूरी सेलिमा प्लेट को बदला जाए या फिर कुछ हिस्से को ही बदलना होगा। एक्सपर्ट कमेटी की राय का इंतजार किया जा रहा है जिनकी रिपोर्ट अगले हफ्ते बिजली बोर्ड को मिल जाएगी।

The post बिजली बोर्ड के 100 मेगावाट के Uhal Project को अभी और लगेंगे दो साल appeared first on Divya Himachal.