Sunday, September 20, 2020 09:50 PM

फिर डूबा ऊना

नगर संवाददाता। ऊना –जिला ऊना में सोमवार को हुई मूसलाधार बारिश से मिनी सचिवालय  परिसर ने तालाब का रूप अख्त्यिर कर लिया। इस दौरान कोट परिसर, एसपी कार्यालय, एएसपी कार्यालय में एक-एक फुट पानी आ घुसा। इससे कार्यालय में रखी कुर्सियां व टेबल आदि खराब हो गए। वहीं बारिश के चलते अधिकारियों व कर्मचारियों सहित अपने काम के लिए मिनी सचिवालय पहुंचे लोगों को भारी परेशानियों से जूझना पड़ा। यहीं नहीं मिनी सचिवालय के बाहर ऊना-संतोषगढ़ सड़क ने तालाब का रूप धारण किया हुआ था। जहां पर वाहन चालकों व अन्य लोगों को निकलना चुनौती बना हुआ था। अग्निशमन दलबल ने मौका पर पहुंचकर कड़ी मशक्कत के बाद पानी को बाहर निकाला गया। सोमवार सुबह शुरू हुई बारिश पूरा दिन लगातार जारी रही। आज सूर्य देव भी आसमां में नदारद रहे।

बारिश के आधे घंटे बाद ही मिनी सचिवालय में पानी एकत्रित होना शुरू हो गया। देखते ही देखते मिनी सचिवालय परिसर पूरी तरह से पानी से भर गया और पानी कोर्ट परिसर, एसपी कार्यालय सहित अन्य कार्यालयों में जा घुसा। तेज बारिश के बीच सब कुछ ठहर सा गया। बारिश के बाद करीब डेढ़ फुट तक भरे बरसाती पानी भर गया। पानी को निकालने के लिए स्थानीय स्तर पर कर्मचारियों ने काफी प्रयास किया, लेकिन अधिक पानी होने के कारण बरसाती पानी का बाहर नहीं निकाल पाए। इस दौरान बरसाती पानी जमा होने की सूचना फायर ब्रिगेड ऊना को दी गई। दमकल विभाग की टीमों ने मौके पर पहुंचकर काफी मशक्कत के बाद पानी को बाहर निकाला। वहीं, उचित निकासी न होने पर शहर की मुख्य सड़कें भी बरसाती पानी से लबालब भरी दिखाई दी। नाले के ऊपर रखी स्लैब को हटाकर घंटों के बाद पानी को बाहर निकाला गया। इसके अलावा बारिश के चलते नदी-नाले भी खूब उफान पर रहे। रामपुर खड्ड, लालसिंगी खड्ड भी अपने उफान पर रही।

गौरतलब है कि जिला में हल्की सी बारिश के बाद मिनी सचिवालय पूरी तरह से पानी से लबालब हो जाता है। शहर में बरसाती पानी की उचित निकासी न होने के कारण उक्त समस्या पिछले लंबे समय से बनी हुई है। हालांकि नगर परिषद द्वारा बरसाती सीजन से पहले शहर के विभिन्न नालों को साफ करवाया गया था, लेकिन पहले हुई बारिश के बाद नाले पूरी तरह से भर चुके है। वहीं, इसके अलावा बरसाती पानी ने रिहायशी इलाकों में भी खूब कहर बरपाया। ऊना शहर के साथ सटे लालसिंगी में बरसाती पानी कई घरों में घुस गया। वहीं शहर के वार्ड नंबर एक में भी बरसाती पानी घरों में जा घुसा। इससे लोगों को भारी नुकसान उठाना पड़ा। वहीं, तहसीलदार ऊना विजय राय ने कहा कि सरकारी आवासों व सरकारी कार्यालयों में बरसाती पानी घुसा था। जिसे फायर ब्रिगेड द्वारा निकाल दिया गया है। बरसाती पानी से हुए नुकसान का जायजा लिया जा रहा है।

The post फिर डूबा ऊना appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.