Saturday, September 26, 2020 08:36 AM

फोरेस्ट गार्ड की सुरक्षा के लिए लाएंगे पॉलिसी, मंत्री बनने के बाद हमीरपुर पहुंचे वन-खेल मंत्री राकेश पठानिया

 सबसे पहले रुकवाएंगे वनरक्षकों पर हमले, प्रदेश में शुरू करेंगे टैलेंट सर्च प्रोग्राम

हमीरपुर  – वनों में फोरेस्ट गार्ड पर होने वाले हमलों के मामले मेरे ध्यान में हैं। यह बहुत ही महत्त्वपूर्ण मुद्दा है और मेरी प्राथमिकता में भी है। बहुत जल्द इस मामले में एक पॉलिसी लेकर आएंगे। यह कहना है वन, युवा सेवाएं व खेल मंत्री राकेश पठानिया का। मंत्री बनने के बाद पहली बार रविवार को हमीरपुर पहुंचे राकेश पठानिया ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मामला चाहे वनरक्षक होशियार सिंह का हो या फिर आए दिन वनरक्षकों पर होने वाले हमलों का, इस मामले में जल्द पॉलिसी बनाई जाएगी। खेल मंत्री ने कहा कि प्रदेश में नई खेल नीति पर प्लान कर रहे हैं।

अभी तो वह ज्यादा नहीं कह सकते, क्योंकि अभी उन्हें मंत्री का पदभार संभाले दो दिन ही हुए हैं, लेकिन हमारी प्लानिंग हैं कि प्रदेश में जो भी स्पोर्ट्स केंद्र हैं, उनके लिए एक स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी बनाएंगे। प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में आज भी ऐसे बच्चे या युवा हैं, जो बहुत ही टैलेंटिड हैं। मजबूरियों के कारण वे लाइमलाइट में नहीं आ पाते। इसलिए विचार किया है कि प्रदेशभर में एक टैलेंट सर्च प्रोग्राम शुरू किया जाएगा और ऐसे बच्चों की तलाश की जाएगी। उन्होंने कुछ महत्त्वपूर्ण और प्राथमिक मुद्दों की प्लानिंग की है।

वह एक दिन बाद दिल्ली जा रहे हैं और वहां केंद्रीय राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर, केंद्रीय खेल और फोरेस्ट मिनिस्टर से भी मुलाकात करेंगे। इसके साथ ही राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलेंगे। वन एवं युवा खेल मंत्री राकेश पठानिया ने विश्व के सबसे बड़े वेटलैंड पौंग झील की तस्वीर बदलने का भी बीड़ा उठा लिया है। पौंग लेक को ईको टूरिज्म के जरिए और भी सुंदर बनाया जाएगा। अब पर्यटकों का धर्मशाला का पैकेज बढ़ाया जाएगा, ताकि धर्मशाला पहुंचने वाले पर्यटक प्राचीन मंदिर मसरूर, लंज साई मंदिर के बाद पौंग झील पहुंचें।

धूमल से आशीर्वाद लेने पहुंचे

रविवार को हमीरपुर पहुंचे राकेश पठानिया ने सबसे पहले समीरपुर का रुख किया और वहां जाकर पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल से मिलकर उनका आशीर्वाद लिया। इस मौके पर उनके साथ हमीरपुर सदर के विधायक नरेंद्र ठाकुर भी मौजूद रहे। उन्होंने भी प्रो. धूमल से आशीर्वाद लिया। राकेश पठानिया और प्रो. धूमल की यह मुलाकात एक लंबे अरसे बाद हुई है। बता दें कि एक वक्त ऐसा भी रहा है जब राकेश पठानिया को प्रो. धूमल का हनुमान भी कहा जाता था।

कांगड़ा में सब नॉर्मल

जिला कांगड़ा में पिछले दिनों उठे सियासी घमासान के सवाल का जवाब देते हुए राकेश पठानिया ने कहा कि यहां सबकुछ नॉर्मल है। केवल कांग्रेस और सोशल मीडिया इसे बढ़ा-चढ़ाकर पेश करता रहा है। इस बार वहां से 11 विधायक हैं, अगली बार 12 होंगे। कांगड़ा ने हमेशा सरकार बनाने में अपना फैसला दिया है और आगे भी देगा। कांगड़ा में सब बैलेंस्ड है। विपिन परमार हैं, विक्रम ठाकुर हैं, सरवीण चौधरी हैं, मैं हूं और रमेश धवाला जी हैं। इसलिए किसी तरह के भेदभाव या सियासत का सवाल ही नहीं उठता।

The post फोरेस्ट गार्ड की सुरक्षा के लिए लाएंगे पॉलिसी, मंत्री बनने के बाद हमीरपुर पहुंचे वन-खेल मंत्री राकेश पठानिया appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.