Friday, September 24, 2021 06:27 AM

जालंधर से पकड़ा भगोड़ा

पीओ सैल की टीम को मिली बड़ी कामयाबी, अदालत ने 2018 में घोषित किया था उद्घोषित अपराधी

दिव्य हिमाचल ब्यूरो- चंबा पुलिस की पीओ सैल की टीम ने अदालत द्वारा उद्घोषित अपराधी को साढ़े तीन वर्ष के उपरांत पंजाब के जालंधर से दबोचने में सफलता हासिल की है। पीओ सैल की टीम आरोपी को लेकर वापस चंबा लौट आई है। पुलिस ने कागजी औपचारिकताएं निपटाने के बाद आरोपी को रिमांड हेतु अदालत में पेश किया। जहां अदालत ने आरोपी को चौदह दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। चंदन पुत्र दौलत राम निवासी मकान नंबर 275 अली मोहल्ला जालंधर मंडल चार के खिलाफ वर्ष 2012 में चरस तस्करी के आरोप में तीसा पुलिस थाना में मामला दर्ज किया गया था। मगर अदालत से जमानत मिलने के बाद यह पेशियां भुगतने नहीं आ रहा था। अदालत ने चंदन की गैर हाजिरी का कड़ा संज्ञान लेते हुए वर्ष 2018 में उद्घोषित अपराधी करार दे दिया। पुलिस तभी से चंदन की तलाश में जुटी हुई थी।

मगर यह अपने ठिकानें बदलकर गिरफ्तारी से बच रहा था। पुलिस के पीओ सैल को गुप्त सूचना मिली कि चंदन इन दिनों अपने घर जालंधर में मौजूद था। इस पर साइबर सैल की टीम के सहयोग से सुनियोजित तरीके से जालंधर में दबिश दी। इस दौरान पीओ सैल की टीम ने चंदन को गिरफ्तार कर लिया। चंदन की गिरफ्तारी से पुलिस ने बड़ी राहत महसूस की है। उधर, एसएसपी चंबा अरूल कुमार ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि उद्घोषित अपराधी को जालंधर से गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि अदालत द्वारा आरोपी को चौदह दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजने के आदेश पर अमल करते हुए जिला कारागार शिफ्ट कर दिया गया है।