Tuesday, August 04, 2020 12:13 AM

घर-घर जाकर पढ़ाएंगे टीचर, शिक्षा विभाग ने बनाया प्लान, ऑनलाइन संग ऑफलाइन होगी छात्रों की पढ़ाई

शिमला – प्रदेश में 13 जुलाई के बाद अब एक बार फिर से पढ़ाई-लिखाई शुरू हो सकेगी। जी हां, अब ऑनलाइन के साथ ही शिक्षा विभाग छात्रों को घर तक नोट्स भी भिजवाएगा। उच्च शिक्षा विभाग ने साफ हिदायत अभी से ही शिक्षकों को दे दी है। अब हर शिक्षक की जिम्मेदारी होगी कि अपने स्कूल में पढ़ने वाले छात्रों को ऑनलाइन व ऑफलाइन शत प्रतिशत पढ़ाई करवाए। इसके साथ ही अब 13 जुलाई के  बाद ऑडियो-वीडियो का माध्यम भी पढ़ाई के लिए अपनाया जाएगा। शिक्षा विभाग का दावा है कि अब पढ़ाई प्रभावित नहीं होगी। विभाग ने कहा है कि ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट की सुविधा न होने की वजह से जो छात्र नहीं पढ़ पा रहे थे, शिक्षकों को उनके घर जाकर कक्षाएं शुरू करनी होंगी। इसके साथ ही समय-समय पर छात्रों से इंटरेक्शन  भी करनी होगी। यही वजह है कि छात्रों की ऑनलाइन स्टडी पर शिक्षकों को सतर्क रहने के आदेश शिक्षा विभाग ने एक बार फिर से जारी किए है। इसमें शिक्षकों को कहा गया है कि वे छात्रों के लिए स्वयंम सिद्धम पोर्टल से क्लासवाइज मटीरियल उठाएं। बता दें कि शिक्षा विभाग ने स्वयंम सिद्धम पोर्टल पर ऑनलाइन स्टडी का पूरा मटीरियल डाला है। कक्षा नौवीं से जमा दो तक के छात्रों की पढ़ाई से जुडे़ सभी विषय ऑनलाइन उपलब्ध करवा दिए गए हैं।  यही वजह है कि एक बार फिर से शिक्षा विभाग ने कहा है कि शिक्षक यू-ट्यूब, व्हाट्सऐप ग्रुप, ई-मेल ग्रुप्स व वेबसाइट के माध्यम से छात्रों को सिलेबस मुहैया करवाएं। शिक्षा विभाग ने इस बाबत जिला उपनिदेशकों को भी शिक्षकों को 13 जुलाई से पहले सख्त आदेश देने को कहा है। विभाग के आदेशानुसार जिला उपनिदेशकों को तीन दिन में इस बाबत रिपोर्ट भेजनी होगी कि ऑनलाइन स्टडी शुरू करने के लिए क्या प्लानिंग की गई है। इसके अलावा यह भी तय शिक्षकों को करना होगा कि वह एक ही समय में छात्रों को रोजाना ऑनलाइन पढ़ाए। अब शिक्षा विभाग शिक्षकों की ऑनलाइन स्टडी पर प्रोग्रेस रिपोर्ट भी चैक करेगा। शिक्षा अधिकारी निदेशालय से 70 हजार से ज्यादा शिक्षकों पर नजर रखेगा। वहीं, जो शिक्षक ऑनलाइन स्टडी में सबसे पीछे रहेंगे, उनसे जवाब-तलब किया जाएगा। शिक्षा निदेशक  अमरजीत सिंह की ओर से जारी आदेशों में कहा गया है कि डिजिटल लर्निंग को हल्के में न लिया जाए। वहीं, शिक्षक  इस बात का ध्यान रखें कि इस दौरान छात्रों के टेस्ट भी लेते रहें। बता दें कि समग्र शिक्षा विभाग ने भी स्वयंम सिद्धम पोर्टल पर सभी कक्षाओं का सिलेबस डाल दिया है। इसके अलावा जमा एक व दो के छात्रों के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने के मकसद से भी प्रश्नोत्तरी तैयार की गई है। खास बात यह है कि केंद्र सरकार की ओर से भी ऑनलाइन स्टडी मैटीरियल उपलब्ध करवाया गया है। इसमें ऑनलाइन दीक्षा पोर्टल पर 80,000 किताबें कक्षा एक से जमा दो तक के छात्रों के लिए मुहैया करवाई गई है।

The post घर-घर जाकर पढ़ाएंगे टीचर, शिक्षा विभाग ने बनाया प्लान, ऑनलाइन संग ऑफलाइन होगी छात्रों की पढ़ाई appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.