Friday, October 30, 2020 03:42 AM

घिया-करेले की बर्फी बनाकर झटका पहला स्थान

पौष्टिक आहार प्रतियोगिता में हलेड़ खुर्द दो की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सिमरो देवी ने छोड़ी छाप

पोषण माह 2020 के अंतर्गत पौष्टिक आहार प्रतियोगिता आयोजित की गई। प्रतियोगिता में कांगड़ा खंड की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व विभिन्न गावों की महिलाओं ने हिस्सा लिया। केंद्र के प्रभारी डा. संजय शर्मा ने इस अभियान के मुख्य उद्देश्य के बारे बताते हुए कहा कि फास्ट फूड के स्थान पर घर पर बने स्वास्थ्यवर्धक भोजन का उपयोग करना चाहि। डा. नीतू शर्मा ने पौष्टिक एवं संतुलित आहार का महत्त्व बताते हुए युवा एवं बुजुर्ग महिलाओं के आहार के सही मानकों की जानकारी दी।

उन्होंने एनीमिया के बचाव के लिए साबुत अनाज, मोटे अनाज तथा अंकुरित दालें, हरी पत्तेदार सब्जियां, फल व मेवे इत्यादि खाने की सलाह दी। कार्यक्रम में महिलाओं ने विभिन्न प्रकार के पौष्टिक व्यंजन अंकुरित दाल, चाट, कद्दू की खीर, पपीते का हलवा, दाल, पालक के भल्ले, सोयाबीन का पनीर, सोयाबीन की चाट, सीरा व अरबी के पतरोड़े आदि बनाकर प्रस्तुत किए। हलेड़ खुर्द दो की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सिमरो देवी ने घिया व करेले की बर्फी बनाकर प्रथम स्थान ग्रहण किया, जबकि टांडा खोली की पुष्पा ने अंकुरित दाल व फलों की चाट बनाकर द्वितीय व ढुगियारी निवासी संदला ने सोयाबीन पनीर व पालक बनाकर तृतीय स्थान हासिल किया। प्रतियोगिता में शामिल सभी प्रतिभागियों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। इसी शांखला में केंद्र द्वारा विभिन्न शिविरों व डिजिटल माध्यम जैसे व्हाट्सऐप मैसेज, ऑडियो व वीडियो क्लिप्स से पोषण संबंधित जानकारी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तथा महिलाओं को दी जा रही है।

The post घिया-करेले की बर्फी बनाकर झटका पहला स्थान appeared first on Divya Himachal.