Tuesday, June 15, 2021 12:25 PM

सोना 1014 रुपये, चांदी 3,905 रुपये चमकी

स्वास्थ्य की देखभाल करना महत्त्वपूर्ण है और उतना ही महत्त्वपूर्ण आपके वित्तीय कल्याण की रक्षा करना है। आपके परिवार की भलाई, वित्तीय सुरक्षा और स्थिरता का विचार आपको आराम और मन की शांति देता है और इसमें आपका सक्षम एवं समर्थ साथी है...

टर्म इंश्योरेंस कवर

आइए कुछ महत्त्वपूर्ण तथ्यों का आकलन करते हैं...

लेखक : करुणेश देव

क्या है टर्म इंश्योरेंस

  1. यह एक लाइफ कवर है।
  2. विशिष्ट अवधि या वर्षों के लिए कवरेज देता है।
  3. किसी भी दुर्भाग्यपूर्ण घटना के होने पर परिवार अथवा नामांकित व्यक्ति के लिए वित्तीय सुरक्षा प्रदान करता है।
  4. कम प्रीमियम में उच्च कवर का उपयुक्त साधन है।
  5. वित्तीय आश्रितों के लिए आय का विकल्प देता है।

किनके लिए महत्त्वपूर्ण है...

हर ऐसे व्यक्ति के लिए, जिसका वित्तीय आश्रित उसकी आय पर निर्भर है। आइए थोड़ा विस्तार से देखते हैं...

नवविवाहित : भले ही पति-पत्नी दोनों काम कर रहे हों, लेकिन दोनों के लिए टर्म इंश्योरेंस होना अच्छा है। यह उनके लिए महत्त्वपूर्ण सहायक कारक होगा और एक ठोस भविष्य की नींव भी सुदृढ़ बनाएगा।

माता-पिता : माता-पिता के लिए लक्ष्य कई होंगे जैसे बच्चों की स्कूली शिक्षा, उनका अच्छा लालन-पालन, उच्च अध्ययन और उनकी शादी करना। ऐसी सभी जिम्मेदारियों की लागत को कवर करने के लिए, किसी भी दुर्घटना के मामले में टर्म इंश्योरेंस सबसे कम कीमत वाला खर्च है, जिसे आप कल के उज्ज्वल भविष्य के लिए आज कर सकते हैं।

स्व-नियोजित एवं उद्यमीः एक स्व-नियोजित व्यक्ति के रूप में आपके पास आय का एक नियमित स्रोत नहीं होता है। उद्यमी के तौर पर आप यह भी समझते हैं कि व्यापार हमेशा स्थिर और लाभदायी नहीं होता है। समय बदलता रहता है और व्यापार में भी उतार-चढ़ाव आते हैं। इस प्रकार टर्म इंश्योरेंस होने से आप यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि आपका परिवार सुरक्षित व आर्थिक रूप से स्वतंत्र रहेगा।

खरीदने से पहले, ध्यान में रखने योग्य कुछ पहलू...

पर्याप्त कवर लें: टर्म कवर पर निर्णय लेने से पहले अपनी सभी वित्तीय देनदारियों को ध्यान में रखना आवश्यक है। आपको यह याद रखना होगा कि यह धन आपके आश्रितों के लिए भविष्य में उनके खर्चों  की लागत को कवर करने के लिए है। आमतौर पर, आपकी वर्तमान वार्षिक आय के 10-12 गुना के बराबर टर्म कवर का सुझाव दिया जाता है। हालांकि यह किसी भी परिवार की आवश्यकताओं के अनुसार भिन्न होगा।

कार्यकाल चयनः छोटे कार्यकाल के चयन से कोई लाभ नहीं होगा, क्योंकि आश्रितों को कुछ नहीं मिलेगा, भले ही आपने कुछ वर्षों के लिए प्रीमियम का भुगतान किया हो और फिर बंद कर दिया हो। टर्म प्लान किसी घटना के घटित होने की स्थिति में सुरक्षा प्रदान करता है, अन्यथा कुछ भी नहीं। अतः कार्यकाल का चयन अत्यंत महत्त्वपूर्ण है।

उत्पाद की तुलना करें: बीमा बाजार अत्यंत प्रतिस्पर्धात्मक है और ऐसी कई कंपनियां हैं जो उपभोक्ताओं को विभिन्न प्रकार के विकल्प प्रदान कर रही हैं। किसी भी अन्य उत्पाद की भांति, कोई निर्णय लेने से पहले टर्म इंश्योरेंस योजनाओं और उनके लाभों की तुलना करना अच्छा एवं लाभदायक है।

यह केवल कर-बचत व्यय नहीं हैः हम जानते हैं कि प्रीमियम का भुगतान कर बचत के लिए सहायक है, लेकिन टर्म इंश्योरेंस खरीदना आपके भविष्य को सुरक्षित करने के लिए एक महत्त्वपूर्ण निर्णय है। केवल टैक्स बचाना टर्म इंश्योरेंस कवर खरीदने के लिए सही मूल्यांकन उपाय नहीं होगा।

और अंत में

बीमा भविष्य की अनिश्चितता से सुरक्षा का एक उपकरण है। टर्म इंश्योरेंस वाहन इंश्योरेंस के समान है जिसके कारण कई लोग इससे बचने का प्रयास करते हैं। लेकिन यदि आप ध्यान से देखेंगे तो आपके द्वारा आज किया गया व्यय आपके आश्रितों को प्रदान किए जाने वाले लाभ की तुलना में न्यूनतम है।

घर में रहें, सुरक्षित रहें व स्वस्थ रहें।  

संपर्कः [email protected]

नोट : यहां दी गई जानकारी केवल शैक्षिक उद्देश्य से दी गई है। किसी भी निवेश से पहले उसकी पूरी जानकारी अवश्य लें।

दिल्ली - विदेशों में मजबूती के बीच बीते सप्ताह दिल्ली थोक जिंस बाजार में अधिकतर खाद्य तेलों में टिकाव रहा। तेलों के साथ चीनी के दाम भी स्थिर रहे। दाल-दलहनों में साप्ताहिक तेजी रही जबकि गेहूं में नरमी देखी गई। तेल तिलहन : विदेशों में मलेशिया के बुरसा मलेशिया डेरिवेटिव एक्सचेंज में पाम ऑयल का जुलाई वायदा समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान 556 रिंगिट चढ़कर 4,425 रिंगिट प्रति टन पर पहुंच गया। जुलाई का अमेरिकी सोया तेल वायदा भी 1.96 सेंट की बढ़त के साथ सप्ताहांत पर 64.35 सेंट प्रति पाउंड बोला गया।

स्थानीय बाजार में सरसों तेल, सूरजमुखी तेल, मूँगफली तेल, सोया तेल और पाम ऑयल में टिकाव रहा। ग्राहकी आने से वनस्पति का भाव 147 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ गया। सप्ताहांत पर सरसों तेल 16,116 रुपये, मूंगफली तेल 19,413 रुपये, सूरजमुखी तेल 19,047 रुपये, सोया रिफाइंड 15,385 रुपये, पाम ऑयल 13,187 रुपये और वनस्पति तेल 13,626 रुपये प्रति क्विंटल पर रहा।

मुंबई - विदेशों में दोनों कीमती धातुओं में रही जबरदस्त तेजी के कारण घरेलू स्तर पर बीते सप्ताह वायदा बाजार में सोने में 1,014 रुपये प्रति दस ग्राम और चांदी में 3,905 रुपये प्रति किलोग्राम का उछाल देखा गया। एमसीएक्स वायदा बाजार में गिरावट से उबरते हुये सोने की कीमत पिछले सप्ताह 1,014 रुपये यानी 2.12 प्रतिशत चढ़कर 47,751 रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच गई। सोना मिनी भी 1,288 रुपये यानी 2.70 प्रतिशत की साप्ताहिक बढ़त में अंतिम कारोबारी दिवस पर 47,719 रुपये प्रति दस ग्राम पर बंद हुआ।

घरेलू बाजार में कोविड—19 और लॉकडाउन के कारण सोने की मांग कम है लेकिन विदेशों में रही तेजी से इसे समर्थन मिला। वैश्वि​क स्तर पर बीते सप्ताह सोना हाजिर 62.50 डॉलर यानी 3.41 प्रतिशत चमककर 1,81.60 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। जून का अमेरिकी सोना वायदा भी 63.20 डॉलर की गिरावट के साथ शुक्रवार को 1,832 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ। घरेलू स्तर पर चांदी समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान 3,905 रुपये यानी 5.47 प्रतिशत महंगी हुई और सप्ताहांत पर 71,429 रुपये प्रति किलोग्राम बिकी। चांदी मिनी की कीमत 4,033 रुपये चढ़कर 71,480 रुपये प्रति किलोग्राम रही। अंतरराष्ट्रीय बाजार में चांदी हाजिर 1.55 डॉलर की साप्ताहिक मजबूती के साथ 27.48 डॉलर प्रति औंस पर रही।