Monday, August 10, 2020 11:29 PM

ग्वालियर से गगरेट पहुंचा संक्रमित शख्स

गगरेट  – मध्य प्रदेश के ग्वालियर से ट्रेन के माध्यम से एक व्यक्ति उपमंडल गगरेट पहुंच गया। इससे क्षेत्र में हड़कंप मच गया। यह व्यक्ति ग्वालियर से चलने से पहले कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल दे चुका था, लेकिन रिपोर्ट आने से पहले ही उपमंडल गगरेट पहुंच गया और यहां के एक उद्योग में काम करने लगा, लेकिन जब ग्वालियर में उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो उसकी तलाश शुरू हुई। रविवार को प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उस उद्योग को भी सील करवा दिया है, जिसमें वह कार्यरत था, जबकि उस उद्योग में काम करने वाले करीब 150 कामगारों को होम क्वारंटाइन की सलाह दी गई है। इसके साथ ही भंजाल गांव के उस वार्ड नंबर पांच को भी कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है, जहां यह व्यक्ति रह रहा था। वहां पर भी 11 लोगों को आइसोलेट किया गया है। बता दें कि ग्वालियर से यह व्यक्ति काम की तलाश में यहां पहुंचा था। हालांकि नियमानुसार उसे यहां आकर भी 14 दिन तक होम क्वारंटाइन होना चाहिए था, लेकिन यहां आते ही वह औद्योगिक क्षेत्र जीतपुर बेहड़ी के एक उद्योग में काम पर जाने लगा। जब ग्वालियर में उसकी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो मध्य प्रदेश पुलिस ने स्टेट सीआईडी को संपर्क कर पॉजिटिव व्यक्ति के उपमंडल गगरेट में होने की जानकारी दी। शनिवार रात्रि करीब साढ़े 11 बजे स्टेट सीआईडी द्वारा इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग को दी गई। इस पर जब पड़ताल शुरू हुई तो पता चला कि उक्त व्यक्ति भंजाल गांव में करीब 11 लोगों के साथ रह रहा है और वह औद्योगिक क्षेत्र जीतपुर बेहड़ी के एक उद्योग में भी लगातार जा रहा है। उधर, खंड चिकित्सा अधिकारी डा. एसके वर्मा रविवार को छुट्टी के बावजूद प्रशासनिक अमले के साथ उद्योग में पहुंचे और उसे सील करवाया। स्वास्थ्य विभाग उन कामगारों की लिस्ट भी ले रहा है, जो विभिन्न गांवों से इस उद्योग में काम करने आते हैं। इसके साथ ही पंजाब से यहां आने वाले 15 कामगारों को उद्योग में ही आइसोलेट कर दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग ने इन सभी कामगारों के कोरोना टेस्ट करवाने का भी निर्णय लिया है। उधर, भंजाल गांव के वार्ड नंबर पांच को उस हिस्से को भी कंटेनमेंट जोन बना दिया गया है, जहां यह व्यक्ति रह रहा था। वहां पर भी 11 लोग आइसोलेट किए गए हैं। इनके भी कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल लिए जाएंगे। खंड चिकित्सा अधिकारी डा. एसके वर्मा ने बताया कि ग्वालियर में पॉजिटिव पाए गए उक्त व्यक्ति के यहां सभी कांटेक्ट खंगाले जा रहे हैं।

क्वारंटाइन सेंटर भेजे 100 कामगार

बीबीएन – औद्योगिक कस्बे नालागढ़ में सारा टैक्सटाइल उद्योग के 32 कामगारों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद से प्रशासन अलर्ट है। इसी के चलते प्रशासन ने तय किया कि टैक्सटाइल उद्योग के  जो कामगार कंटेनमेंट जोन घोषित क्षेत्रों से बाहर रह रहे हैं, उन्हें तलाश कर तुरंत क्वारंटाइन सेंटर्ज में शिफ्ट किया जाए। इसी कड़ी में जब पड़ताल की गई तो पता चला कि ऐसे करीब 100 कामगार हैं, जो कि कंटेनमेंट जोन से बाहर रिहायशी इलाकों में रह रहे हैं। कुल मिलाकर रविवार सुबह से लेकर देर शाम तक करीब 100 कामगारों को डिग्री कालेज के क्वारेटीन सेंटरों में शिफ्ट किया जा चुका था।

The post ग्वालियर से गगरेट पहुंचा संक्रमित शख्स appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.