Monday, October 26, 2020 03:28 PM

हारने लगा कोरोना…मां ज्वाला के दर उमड़ने लगे भक्त

बाहरी राज्यों से 681 श्रद्धालुओं ने किए मां की अखंड ज्योतियों के दर्शन, बार्डर खुलते ही मंदिर में लौटने लगी रौनक

ज्वालामुखी-विश्व विख्यात शक्तिपीठ श्री ज्वालामुखी मंदिर में मंगलवार को 978 श्रद्धालुओं ने मां की पावन व अखंड ज्योतियों के दर्शन कर  परिवार सहित पुण्य फल प्राप्त किया। शक्तिपीठ ज्वालामुखी में मंगलवार को श्रद्धालुओं की कुल संख्या 978 रही है, जिसमें बाहरी राज्यों की कुल संख्या 681 रही, जिसमें उत्तर प्रदेश, पंजाब, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और अन्य राज्यों से भक्तों ने मां के दरबार में शीश नवाया। मंदिर प्रशासन द्वारा भक्तों की सुविधा के लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं।

मंगलवार को भी भक्तों को बस अड्डे के पास बने मंदिर न्यास ज्वालामुखी के काउंटर पर जाकर थर्मल स्कैनिंग करानी पड़ी और उसके बाद पर्ची लेकर के मुख्य मंदिर मार्ग से मंदिर तक पैदल जाना पड़ा। वहां पर मंदिर के बाहर पौडि़यों के पास बनाए गए एक अन्य गेट पर सुरक्षाकर्मियों को पर्ची दिखाने के बाद ही बारी-बारी भक्तों को मुख्य मंदिर के अंदर जाने की स्वीकृति दी गई है। मुख्य मंदिर के गर्भ गृह में किसी को भी जाने की स्वीकृति नहीं है। बाहर से ही यात्रियों को दर्शन करवाए जा रहे हैं और मंदिर के अंदर सभी घंटियों को कपड़े से ढक दिया गया है ताकि कोई उनको बजा न सके। मंदिर परिसर में यात्रियों को ज्यादा देर खड़ा नहीं रहने दिया जा रहा है जिसके लिए सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए हैं। पूरी सुरक्षा के बीच यात्रियों को थर्मल स्कैनिंग और मुंह पर मास्क लगाकर मंदिर में प्रवेश करने के लिए स्वीकृति दी जा रही है। बच्चों और बुजुर्गों को मंदिर में प्रवेश वर्जित किया गया है जिसका पूरा ख्याल रखा जा रहा है सुरक्षाकर्मी सोशल डिस्टेंस का पूरा ख्याल रख रहे हैं। भक्तों को चिन्हित किए गए मार्ग से ही मुख्य मंदिर के अंदर प्रवेश कराया जा रहा है और निकासी गेट से बाहर निकाला जा रहा है। भक्तों  की पूरी आवाजाही पर मंदिर अधिकारी तहसीलदार जगदीश शर्मा अपने कार्यालय में सीसीटीवी से नजर रख रहे हैं और मंदिर कर्मचारियों को व्यवस्था सुदृढ़ बनाने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश जारी कर रहे हैं।

इस संदर्भ में मंदिर अधिकारी तहसीलदार जगदीश शर्मा ने कहा कि भक्तों की संख्या धीरे-धीरे बढ़ेगी अभी कई यात्री भयभीत भी हैं और दूसरे राज्यों से आने वाले यात्री की संख्या बहुत कम है। ज्वालामुखी व आसपास के क्षेत्रों के लोग ही अभी तक दर्शनों के लिए आ रहे हैं। मंदिर में व्यवस्था बनी रहे और कोरोना वायरस का प्रकोप न हो इसलिए पूरी पारदर्शिता और सावधानी के साथ काम किया जा रहा है और भक्तों को सुविधापूर्वक दर्शन करवाए जा रहे हैं। एसडीएम ज्वालामुखी अंकुश शर्मा ने कहा कि मंगलवार को 978 भक्तों ने मंदिर में माथा टेका है। मंिदर प्रशासन पूरी एहतियात से काम कर रहा है।बाहरी राज्यों के लोग अभी कम ही आ रहे हैं। परंतु अब राज्य की सीमाएं खोल दिए जाने के बाद अन्य राज्यों से 681 भक्त मंदिर में आए है। धीरे-धीरे यह संख्या बढ़ती जाएगी।

The post हारने लगा कोरोना…मां ज्वाला के दर उमड़ने लगे भक्त appeared first on Divya Himachal.