Tuesday, December 07, 2021 06:00 AM

वर्ल्ड रिकार्ड के लिए आधा सफर तय, साइकिल पर पालमपुर पहुंचे दो जांबाज, 200 दिन में 24000 किलोमीटर लक्ष्य

बंगलूर से साइकिल पर पालमपुर पहुंचे दो जांबाज, 200 दिन में 24000 किलोमीटर लक्ष्य

संजीब बाघला — पालमपुर

बंगलूर के दो रोट्रेक्टर धनुष और हेमंत साइकिल द्वारा पालमपुर रोटरी क्लब पहुंचे। यह दोनों 29 राज्यों और तीन केंद्र शासित प्रदेशों को कवर करते हुए 200 दिन में 24000 किलोमीटर साइकिल चलाकर गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड बनाने का प्रयास कर रहे हैं। यह किसी एक देश में साइकिल से सबसे लंबी यात्रा है। इन रोट्रेक्टर ने बताया कि बह अपनी यात्रा के माध्यम से ग्लोबल वार्मिंग और साक्षरता के बारे एक संदेश भी प्रेषित कर रहे हैं। वे अपनी यात्रा पर स्थानीय लोगों और स्कूलों से भी मिल रहे हैं और उन्हें ग्लोबल वार्मिंग, रोटरी का नवीनतम क्षेत्र और पर्यावरण की रक्षा के बारे में शिक्षित कर रहे हैं और साक्षरता बुनियादी साक्षरता, स्कूली शिक्षा और वयस्क साक्षरता पर जागरूकता पैदा कर रहें हैं।

इन रोट्रेक्टरज को 100 दिन अपनी यात्रा करते हो गए हैं और सोलन, शिमला, मनाली व लाहुल-स्पीति इत्यादि से होकर यह अब पठानकोट व जम्मू कश्मीर से होते हुए वापस बंगलूर पहुचेंगे। यह कार्यक्रम रोटरी बंगलूर व्हाइटफील्ड सेंट्रल रोटरी जिला 3190, इंटरनेशनल फैलोशिप ऑफ साइकिलिंग, शिशु मंदिर एजुकेशन सेंटर, मैत्री एकोटेक प्राइवेट लिमिटेड और डा. दुर्गा प्रसाद रेड्डी कार्डियोथोरेसिक सर्जन, बंगलूर के सहयोग से प्रायोजित है। इस साइकिल यात्रा को 11 जुलाई, 2021 को बंगलूर के विधानसभा सौधा से रोटरी जिला 3190 के गवर्नर फजल महमूद द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया था। गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड के लिए इस साहसिक कार्य को करने वाले इन युवाओं को पालमपुर रोटरी क्लब के सदस्यों ने बधाई दी। (एचडीएम)