Monday, September 28, 2020 07:49 PM

हर उद्योगपति गोद ले एक आईटीआई

विशेष संवाददाता—शिमला

प्रदेश के उद्योगपतियों को सरकार एक-एक आईटीआई गोद लेने के लिए कहेगी। पहले भी इस तरह की योजना बनाई गई थी, लेकिन यह सिरे नहीं चढ़ पाई, लिहाजा अब नए सिरे से इसके लिए प्रयास किए जाएंगे। तकनीकी शिक्षा विभाग की जल्द होने वाली बैठक में इस मसौदे पर भी चर्चा की जाएगी और बड़ी कंपनियों को एक पत्र इस संबंध में भेजा जाएगा। हाल ही में सरकार ने तकनीकी शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी डा. रामलाल मार्कंडेय को दी है, जिन्होंने इस विषय पर उद्योगपतियों को पत्र भेजने और उनसे बातचीत करने को कहा है।

भाजपा सरकार बनने के बाद यहां उद्योगपतियों से मंत्रणा के दौरान तय किया गया था, मगर बाद में इस पर कुछ नहीं हो सका। अब क्योंकि कोविड के कारण बड़ी संख्या में युवा बेरोजगार हैं, वहीं उद्योगों के पास भी कुशल कामगारों की खासी कमी है। इन हालातों में आईटीआई से निकलने वाले युवा इन उद्योगों के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। उद्योगपति यदि आईटीआई को गोद लेते हैं, तो वहीं पर कैंपस प्लेसमेंट हो सकती है। यह प्रयास केवल इसलिए है कि आईटीआई से निकलने वाले युवा कैंपस प्लेसमेंट के जरिए तुरंत रोजगार हासिल कर लें।

हिमाचल में बड़ी संख्या में नामी कंपनियां काम कर रही हैं और इनमें प्रदेश के युवाओं को बड़े पैमाने पर रोजगार मिल सकता है। आईटीआई में इस तरह के ट्रेड चलाने की जरूरत है, जो उद्योगों को रिझाए। इतना ही नहीं, अब नए सिरे से आईटीआई में कुछ और नए ट्रेड जोड़े जाने की योजना है, जिस पर अधिकारियों के साथ होने वाली बैठक में चर्चा की जाएगी। बैठक में पूरे विभाग की गतिविधियों की समीक्षा होगी और जो मामले ठंडे बस्ते में पड़े हैं उनपर कार्रवाई तेज करने को कहा जाएगा।

रीजनल वोकेशनल ट्रेनिंग इंस्टीच्यूट अधर में

शिमला के घणाहट्टी के पास एक रीजनल वोकेशनल ट्रेनिंग इंस्टीच्यूट का निर्माण किया जाना है, लेकिन यहां पर अब तक काम ही शुरू नहीं हो सका है। ऐसे में  विभाग के नए मंत्री ने इसपर भी संज्ञान लेते हुए तकनीकी शिक्षा निदेशक को निर्देश दिए हैं। बैठक में यह मुद्दा भी अहम रहेगा।

राज्य में 175 आईटीआई

यदि उद्योग आईटीआई को गोद लेते हैं, तो वहां से बड़ी संख्या में युवाओं को रोजगार हासिल हो सकेगा। इससे प्रदेश में आईटीआई की तरफ युवाआें का रूझान भी बढ़ेगा। राज्य में इस समय 175 के करीब आईटीआई हैं, जिनमें काफी संख्या में युवा प्रशिक्षण हासिल कर रहे हैं। इनको उद्योगों के माफिक तैयार किए जाने की सोच है।

The post हर उद्योगपति गोद ले एक आईटीआई appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.