Sunday, October 25, 2020 02:28 AM

प्राइवेट-सरकारी स्कूलों में घटे स्टूडेंट्स, 14 हजार तक आई कमी, अभी पढ़ें पूरी खबर

तीन सालों से प्राइवेट व सरकारी स्कूल में छात्रों की घट रही संख्या

 शिमला-हिमाचल प्रदेश समग्र शिक्षा विभाग ने भी यू डाइज रिपोर्ट जारी कर दी है। इस रिपोर्ट के मुताबिक सितंबर 2019 तक प्रदेश के सरकारी व प्राइवेट स्कूलों में 14 हजार छात्रों की संख्या कम हुई है। यानी की शिक्षा विभाग ने दोनों स्कूलों में छात्रों की घटी संख्या का आंकलन करने के बाद यह खुलासा किया है।

इस पर समग्र शिक्षा विभाग ने अंदेशा जताया है कि राज्य में बच्चों का टीआरएफ रेट घटा है। यानी की जागरूकता होने की वजह से अब राज्य में अधिकतर एक व दो चाइल्ड ही हो रहे है। यही वजह है कि छात्रों की प्राइवेट व सरकारी दोनों ही स्कूलों में इनरोलमेंट घट रही है। बता दें कि  वर्ष 2017 में प्राइवेट व सरकारी स्कूलों में छात्रों की संख्या 13 लाख 90 हजार 877 थी, जबकि वर्ष  2018 में 13 लाख 74 हजार, वहीं अब 2019 में यह संख्या 13 लाख 59 हजार 471 हो गई है।

कुल मिलाकर यू डाइज की रिपोर्ट में यह साफ है कि दोनों ही स्कूलों में हर छात्रों की इनरोलमेंट घट रही है। इसके अलावा अगर यू डाइज रिपोर्ट की बात करे तो साल 2018-19 की रिपोर्ट में पहली से जमा दो कक्षा तक पढ़ने वाले विद्यार्थियों की संख्या 8,24,073 थी। अब यह संख्या घटकर 8,01,043 रह गई है।

साल 2017-18 के मुकाबले 2018-19 में सरकारी स्कूलों से तीस हजार से अधिक विद्यार्थी कम हो गए थे। साल 2016-17 में पहली से जमा दो कक्षा तक पढ़ने वाले विद्यार्थियों की संख्या 8.54 लाख थी, जो 2017-18 में घटकर 8,24613 लाख पहुंच गई थी। सरकारी स्कूलों में साल 2013 में विद्यार्थी दस लाख से अधिक थे। साल 2014 में यह आंकड़ा 9,59,147 पहुंच गया।

The post प्राइवेट-सरकारी स्कूलों में घटे स्टूडेंट्स, 14 हजार तक आई कमी, अभी पढ़ें पूरी खबर appeared first on Divya Himachal.