Thursday, December 03, 2020 03:51 AM

Himachal rope-way projects: हिमाचल को अब रोप-वे का इंतजार

450 करोड़ के पलचान-रोहतांग के साथ 1200 करोड़ के शिमला प्रोजेक्ट का काम जल्द शुरू होने की उम्मीद

प्रदेश को रोप-वे प्रोजेक्ट्स का बेसब्री से इंतजार है। अटल टनल एक बड़ा सपना था, जो कि पूरा हो गया है। पहाड़ में सुरंगें दूरियां कम करने के लिए बेहद लाभदायक हैं, मगर इसके साथ रोप-वे भी अहम है, जो यहां के लोगों को सुविधा देगा, वहीं पर्यटकों की सुविधा के साथ दूरियां आसानी से नजदीकियों में तबदील होंगी। हिमाचल में कुछ महत्त्वपूर्ण रोप-वे प्रोजेक्ट हैं, जिन पर काम शुरू होने की उम्मीद बढ़ गई है। इसमें 450 करोड़ के पलचान-रोहतांग के साथ-साथ 1200 करोड़ के शिमला रोप-वे प्रोजेक्ट का काम जल्द शुरू होने की उम्मीद है। सूत्रों के मुताबिक शिमला के सर्कुलर रोड पर बनने वाले 1200 करोड़ के रोप-वे प्रोजेक्ट के टेंडर जल्दी कर दिए जाएंगे, वहीं पलचान- रोहतांग रोप-वे का काम भी जल्द शुरू कर दिया जाएगा।

 प्रदेश में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के साथ-साथ सड़कों पर ट्रैफिक जाम की समस्या से लोगों को निजात दिलाने के लिए सरकार सालों से रोप-वे प्रोजेक्ट्स पर काम कर रही है। विडंबना यह है कि रोप-वे प्रोजेक्ट्स को क्लीयरेंस मिलने में होने वाली देरी की वजह से इनका काम प्रारंभ ही नहीं हो पाता। कांगड़ा जिला में हिमानी चामुंडा रोप-वे निर्माण की घोषणा 2015 में हुई थी, मगर इसका काम कछुआ चाल से चल रहा है। इस रोप-वे प्रोजेक्ट पर 450 करोड़ की रकम खर्च होगी। कमोवेश यही स्थिति धर्मशाला- मकलोडगंज रोप-वे की भी है। भुंतर से बिजली महादेव रोप-वे का काम भी धीमी गति से चल रहा है। टूटीकंडी से जोद्धा निवास रोप-वे का काम शिलान्यास से आगे नहीं बढ़ पाया है। अटल टनल रोहतांग के यातायात के लिए खुलने के बाद अब सरकार का फोकस करीब 585 करोड़ के पलचान- रोहतांग रोप-वे पर है। सरकार इस रोप-वे का काम जल्द पूरा करने की कोशिश में है।

रोहतांग रोप-वे से दूर होगा जाम

अटल टनल रोहतांग के उद्घाटन के बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा था कि अब रोहतांग पूरी तरह एक पर्यटन गंतव्य होगा। रोहतांग रोप-वे के निर्माण से जहां लोगों को ट्रैफिक जाम से निजात मिलेगी, वहीं मनाली से रोहतांग तक के करीब चार घंटे के सफर को लोग 30 मिनट में ही पूरा कर लेंगे। रोप-वे बनने से रोहतांग में प्रदूषण भी कम होगा। रोप-वे प्रोजेक्ट्स के अब तक शुरू नहीं होने के पीछे कोविड का कारण भी है। कोविड की वजह से सभी काम रुक गए थे और अब धीरे-धीरे माहौल खुल रहा है , जसके बाद इनके आगे बढ़ने की उम्मीद भी जगी है।

The post Himachal rope-way projects: हिमाचल को अब रोप-वे का इंतजार appeared first on Divya Himachal.