Sunday, November 29, 2020 03:14 PM

हिमाचल में घटी बेरोजगारी, लॉकडाउन खत्म होने के बाद आने लगा है सुधार

हिमाचल में बेरोजगारी की दर में कमी आई है। प्रदेश में बेराजगारी अगस्त महीने के मुकाबले 3.8 फीसदी घटी है। हालांकि इतना सब कुछ होने के बाद भी बेरोजगारी के मामले में हिमाचल सितंबर माह में देश में सातवें स्थान पर रहा है। भारतीय अर्थव्यवस्था पर नजर रखने वाली प्रमुख संस्था सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकॉनोमी ने सितंबर माह के सर्वे के मुताबिक प्रदेश में बेरोजगारी दर 12 फीसदी रही है, लेकिन औद्योगिक उत्पादन शुरू होने के बावजूद बेरोजगारी की दर बढ़ रही है। सर्वेक्षण के अनुसार वर्ष, 2007 में हिमाचल प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र में बेरोजगारी दर 4.7 फीसदी और शहरी क्षेत्र में 9.1 फीसदी थी। इसके बाद मई से अगस्त, 2020 के बीच ग्रामीण क्षेत्र में यह दर 18 फीसदी तथा शहरी क्षेत्र में 31.2 फीसदी तक पहुंची।

 इसी अवधि में पुरुषों में बेरोजगारी दर 15.9 फीसदी तथा महिलाओं में 63 फीसदी रही। अगस्त माह में प्रदेश में बेरोजगारी की दर 15.8 फीसदी थी। बेरोजगारी की दर में बढ़ोतरी को कोविड-19 का असर माना जा रहा है। कोविड की वजह से छोटे-मोटे कामधंधे प्रभावित हुए हैं। खासतौर पर पर्यटन व परिवहन क्षेत्र में काम करने वाले कामगारों पर इसकी मार पड़ी है। प्रदेश में पर्यटन क्षेत्र में करीब सात लाख तथा परिवहन क्षेत्र में दो लाख से अधिक युवा कार्यरत हैं। कोविड की वजह से आतिथ्य सत्कार उद्योग प्रभावित हुआ है। परिवहन क्षेत्र भी इसी से जुड़ा हुआ है। लिहाजा बेरोजगारी की दर में इजाफा हो रहा है। लॉकडाउन खत्म होने के बाद प्रदेश में औद्योगिक उत्पादन पटरी पर आने लगा है। हालांकि लॉकडाउन के दौर में केवल फार्मा उद्योगों में ही काम हो रहा था, मगर अब अधिकांश उद्योगों में उत्पादन शुरू हो गया है। औद्योगिक उत्पादन प्रारंभ होने के बाद सीएमआईई के अक्तूबर व नवंबर माह के सर्वेक्षण में बेरोजगारी की दर में कमी की उम्मीद की जा रही है।

The post हिमाचल में घटी बेरोजगारी, लॉकडाउन खत्म होने के बाद आने लगा है सुधार appeared first on Divya Himachal.