Sunday, October 25, 2020 02:44 AM

हिमाचली व्यंजन, बोली और भाषा पर सजी महफिल

नाहन-डा. यशवंत सिंह परमार राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय नाहन के एनसीसी कैडेट्स ने एक भारत श्रेष्ठ भारत अभियान के तहत आयोजित छह दिवसीय शिविर में हिमाचल प्रदेश का प्रतिनिधित्व किया। कोरोना महामारी के चलते एनसीसी के रोहतक हरियाणा गु्रप द्वारा आयोजित ऑनलाइन शिविर में हिमाचल प्रदेश समेत छह राज्यों के 190 एनसीसी कैडेट्स शामिल हुए। सीटीओ डा. सरिता बंसल ने बताया कि एनसीसी के इतिहास में यह पहला अवसर था जब कोरोना महामारी के चलते कैडेट्स के लिए ऑनलाइन शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ व ओडिशा के कैडेट्स ने अपने-अपने प्रदेश की संस्कृति, व्यंजन, बोली व भाषा इत्यादि से एक-दूसरे को अवगत करवाया। उन्होंने बताया कि महाविद्यालय के एनसीसी कैडेट स्नेहिल अत्री ने हिमाचल प्रदेश के व्यंजन व महान व्यक्तियों, कैडेट नमन ने हिमाचल प्रदेश की भाषा व बोली, अंजलि व रुचिका ने हिमाचली नृत्य आदि के बारे में विस्तृत जानकारी दी तथा अपने अनुभव को दूसरे राज्यों के कैडेट्स के साथ साझा किया।

21 से 26 सितंबर तक चलने वाले छह दिवसीय शिविर में हिमाचल प्रदेश के 12 कैडेट्स ने भाग लिया जिनमें चार कैडेट्स नाहन कालेज के थे। शिविर में एनसीसी कैडेट्सों ने भारत सरकार की बहुप्रतिक्षित राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर विचार-विमर्श भी किया। प्राचार्य डा. दिनेश कुमार भारद्वाज ने एक भारत श्रेष्ठ भारत अभियान के तहत आयोजित शिविर में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी तथा उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

The post हिमाचली व्यंजन, बोली और भाषा पर सजी महफिल appeared first on Divya Himachal.