Tuesday, April 13, 2021 11:06 AM

गाहर में घर को लगी आग, तीन परिवारों को नुकसान

स्टाफ रिपोर्टर-आनी उपमंडल आनी की डिंगिधार पंचायत के स्नेथा गांव में एक महिला दासी को ढांक से गिरने के बाद चोटें आईं, लेकिन घायल महिला को अस्पताल तक पहुंचाने के लिए स्नेथा गांववासियों को महिला को कुर्सी पर बिठा कर कंधे पर उठाकर करीब डेढ़ से दो किलोमीटर का पैदल सफर करने पर मजबूर होना पड़ा। स्नेथा गांव के अनिल आर्य ने बताया कि महिला पशुओं के लिए चारे के घास काटने के बाद वापस लौट रही थी, तो पांव फिसलकर गिर गई और चोटें आईं, जिसे प्राथमिक उपचार को दलाश स्थित सीएचसी पहुंचाना पड़ा, लेकिन आजादी के साढ़े सात दशकों बाद भी डिंगिधार पंचायत का 35 परिवारों और करीब 150 आबादी वाला स्नेथा गांव सड़क जैसी मूलभूत सुविधा से वंचित है, जिसके चलते स्नेथा गांव तक सड़क जैसी जीवन रेखा न होने के कारण आज भी मरीज को सड़क तक पहुंचाने में मशक्कत करनी पड़ती है।

स्नेथा गांववासी अनिल आर्य, गंगी देवी, सूरत राम, निशा, गंगा राम, प्रकाश, संतोष, रोशन लाल आदि का कहना है कि हालांकि इस मांग को पंचायत प्रतिनिधियों के माध्यम से भी कई बार सरकार के समक्ष रखने का प्रयास हुआ, लेकिन बात न बनी। उन्होंने सरकार से मांग की है कि उन्हें जल्द ही सड़क जैसी मूलभूत सुविधा से जोड़ा जाए, ताकि गांव तक एंबुलेंस पहुंच सके। वहीं इस बारे में जिला परिषद कुल्लू के नवनिर्वाचित चेयरमैन पंकज परमार ने बताया कि उन्होंने स्नेथा गांव तक सड़क का प्रावधान करने के लिए चार लाख रुपए की धनराशि स्वीकृत कर दी है। जल्द ही स्नेथा गांव को सड़क मार्ग से जोड़ दिया जाएगा।

निजी संववादता — कुल्लू जिला मुख्यालय के साथ लगते गाहर गांव में एक घर आगजनी की घटना घटित होने पर तीन परिवार को नुकसान झेलना पड़ा। जानकारी के अनुसार एक घर में तीन परिवार यानी एक पिता के दो बेटों का परिवार रहता था। हालांकि आगजनी की घटना में परिवार के किसी सदस्य को नुकसान नहीं हुआ है। प्रशासन की और से प्रभावित परिवार की मदद करते हुए अग्रिम अनुदान के रूप में 10000 रुपए दिए गए। डिपो से राशन की व्यवस्था भी की गई।