Friday, September 24, 2021 05:27 AM

सोलन में एचआरटीसी के पहिए जाम

आरएम के तबादले को लेकर निगम के चालक-परिचालकों ने बस स्टैंड का आने-जाने का रास्ता किया बंद,सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी

निजी संवाददाता-सोलन पूरे प्रदेश में चल रही चालक-परिचालकों की हड़ताल का असर शनिवार को सोलन में भी देखने को मिला। जिसके चलते शनिवार को एचआरटीसी बस सेवा ठप रही है। राजधानी शिमला के आरएम तबादले की चिंगारी की गूंज सोलन में भी देखने को मिली। एचआरटीसी के चालक-परिचालकों ने बस अड््डे प्रवेश व निकासी द्वार पर बसें लगाकर बस अड्डे को बंद कर दिया। इस दौरान प्रदेश सरकार के खिलाफ कर्मचारियों ने जमकर नारेबाजी की व शिमला के आरएम देवासेन नेगी के तबादले को निरस्त करने की मांग की गई। एचआरटीसी कर्मचारियों ने हड़ताल के दौरान कहा कि जो निगम के हित के लिए कार्य करता है, उसका तबादला कर दिया जाता है। निजी बस आपरेटरों का दबदबा है सरकारी चालक परिचालकों के हाथ बंधे हुए हैं, लेकिन अब सिस्टम को बदलना होगा।

बेतरतीब टाइमिंग सहित सभी चीजें दुरुस्त होनी चाहिए वरना एचआरटीसी की इसी तरह पीटती रहेगी। इस दौरान आवागन करने वाले यात्री भी पूरी तरह से परेशान रहे। व कई लोगों को बसें न मिलने से अपने घर वापस लौटना पड़ा। एचआरटीसी के सब-इंस्पेक्टर व चालक परिचालक संघ के अतिरिक्त प्रदेश महासचिव जगदीश ठाकुर ने बताया कि शिमला आरएम तबादले से प्रदेश के सभी कर्मचारी खफा हैं। उन्होंने कहा कि जो निगम के हितों की बात करता है उसका तबादला निजी बस आपरेटर के कहने पर कर दिया जाता है जिस से साफ होता है कि सरकार किसकी पीटठू है। उन्होंने कहा कि यदि राजधानी के आरएम का तबादला निरस्त नहीं होता या निजी बसो पर नकेल नहीं लगती तब तक यह हडताल चल सकती है। उन्होंने कहा कि यदि उक्त मांगे नहीं मानी गई तो आंदोलन रूद्र रूप की ओर जाएगा।