Tuesday, December 07, 2021 05:02 AM

14 गांवों के जलस्रोत संवारे

खलग स्कूल के 112 स्वयंसेवियों ने 25 किलोग्राम प्लास्टिक भी जुटाया

कार्यालय संवाददाता-शिमला स्वच्छ भारत अभियान के तहत राजकीय आदर्श माध्यमिक विद्यालय खलग की एनएसएस इकाई के 112 वालंटियरां ने 14 गांवों के न केवल जलस्रोत साफ किए, अपितु 25 किलो प्लास्टिक अपशिष्ट भी एकत्रित करके जनप्रतिनिधियों को सौंपा। एनएसएस कैप्टन शीतल, दीपक और पल्लवी के नेतृत्व मे खलग इकाई ने महिला मंडलों और युवा मंडलों के साथ मिलकर शिमला ग्रामीण के 14 गांवों में यह अभियान चलाया। अक्तूबर माह के अंत तक स्वच्छ भारत मिशन के तहत इस प्लास्टिक अपशिष्ट को जिला प्रशासन द्वारा पंचायतों से एकत्रित किया जाएगा और चरणबद तरीके से इसकी डंपिंग की व्यवस्था की जाएगी।

शीतल ने बताया कि 14 समूहों में स्वयंसेवियों को यह कार्य दिए गए है और गांवों मे महिला मंडल और युवा मंडल का भरपूर सहयोग उन्हें मिल रहा है। सायरीघाट गांव के कार्य की अगवाई स्नेहा और विशाखा, सुजाना की शीतल और प्रियांशु, चनोग की सानिया और प्रेरणा, लझून की रीतिका और कुसुम, शिल्डु की पूजा और ललित, बशोग की सचिन और रजत, शादियाना की श्रेया और आदित्य, जाठिया की पल्लवी और सुष्मिता, रामपुरी मे प्रणव और कनिका, बडेहरी मे सृष्टि और वंश, भवाना की साहिल और रजनीश, बागी की आरती और हीताक्षी, कफ्लेड़ की दीक्षा और नीलाक्षी व पोआबो की दीक्षा और रीतिका कर रही है। प्रधानाचार्य बृज लाल ने बताया कि एनएसएस यूनिट द्वारा अक्तूबर माह मे अभी तक किए जाने वाले कार्य सराहनीय है। कार्यक्रम अधीकारी, समस्त अध्यापक समूह और स्वयंसेवी इन कार्यों के लिए बधाई के पात्र है।