Monday, October 26, 2020 09:46 AM

आईपीएच दफ्तर, सांइस लैब पर मंडराया खतरा

भोटा-जल शक्ति विभाग भवन भोटा व लाखों रुपए की लगत से बन रही है सांइस लैब पर खतरे बादल मंडरा रहे हैं। इन भवनों के समीप उगे पापुलर के पेड़ लगातार खतरा बने हुए हैं। आईपीएच विभाग के कर्मचारी व अधिकारी दहशत के साये में अपनी ड्यूटी दे रहे हैं। गौरतलब है कि आईपीएच विभाग के भवन भोटा के समीप पापुलर के बड़े-बड़े पेड़ हैं। ये पेड़ कभी भी गिर सकते हैं।

अगर यह पेड़ गिरते हैं, तो भवन के अंदर अपनी ड्यूटी दे रहे अधिकारी-कर्मचारी इसकी जद में आ सकते हैं। वहीं दूसरी तरफ सीनियर सेकेंडरी स्कूल भोटा की साइंस लैब की बिल्डिंग है उसे भी इन पेड़ों से खतरा है। हैरानी की बात है कि अब बरसात का मौसम भी खत्म होने वाला है। इन पापलुर के पेड़ों की लंबाई भी 80 से सौ फुट के लगभग है। करीब चार साल पहले आईपीएच भवन का डंगा भारी  बरसात से नीचे गिर गया है। लगभग सात पापलुर के पेड़ों मे से दो पापुलर के जो पेड़ हैं कभी भी गिर सकते हैं। ये पापुलर के पेड़ एक-दूसरे के ऊपर टिके हुए हैं। अगर भारी बारिश या आंधी-तूफान से आए, तो ये कभी भी गिर सकते हैं। इस कारण कोई भी बड़ी घटना घट सकती है। इस संदर्भ में भोटा आईपीएच सबडिविजन के सहायक अभियंता राकेश गर्ग का कहना है इस बारे बड़सर एसडीएम को अवगत करवा दिया गया है।

The post आईपीएच दफ्तर, सांइस लैब पर मंडराया खतरा appeared first on Divya Himachal.