Monday, November 30, 2020 04:36 AM

इस बार दशहरे में पहुंचेंगे सात देवता

देव समाज-दशहरा उत्सव समिति ने लिया फैसला, रथ पर सवार होकर ढोल-नगाड़ों के साथ करेंगे शिरकत

कुल्लू-कशमकश के बीच दशहरा उत्सव के आयोजन को लेकर कोहरा छंट गया है और अब सात देवी-देवता के निशान नहीं, बल्कि वे अपने रथ में सवार होकर ढोल-नगाड़ों की थाप पर कुल्लू पहुंचेंगे। हालांकि इन देवी-देवताओं के साथ आने वाले देवलुओं की संख्या सीमित कर दी गई है, लेकिन ये देवी-देवता अपनी शान से ढालपुर पहुंचेंगे। इस उत्सव में हालांकि 280 से अधिक देवी-देवता पहुंचते हैं, लेकिन इस बार सिर्फ सात देवी-देवता ही उत्सव में शिरकत करेंगे। देव समाज और दशहरा उत्सव समिति ने इसको लेकर स्थिति स्पष्ट कर दी है।

इसको लेकर दशहरा उत्सव समिति और देव समाज के लोगों के साथ देव सदन में बैठक की है। हालांकि बताया जा रहा है कि इससे पहले सर्किट हाउस में भी बैठक हुई, जिसमें कई अहम फैसले लिए गए हैं, लेकिन देव सदन में भी औपचारिक बैठक का आयोजन किया गया। दशहरा उत्सव समिति के अध्यक्ष एवं मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर का कहना है कि दशहरा उत्सव के दौरान सामाजिक दूरी का पालन किया जाएगा और जिला के सात देवी-देवता ही दशहरा उत्सव में पहुंचेंगे। देवता के साथ 15-15 लोग ही यहां पहुंचेंगे। उन्होंने बताया कि इस उत्सव के लिए डैमोक्रेटिक आधार पर सैटपल तैयार किया जा रहा है। उनका कहना है कि यह दशहरा अगल ही परिस्थितियों में हो रहा है।

देवसदन में आयोजि बैठक में नहीं दिखे महेश्वर सिंह

देव सदन में दशहरा उत्सव को लेकर आयोजित बैठक में भगवान रघुनाथ के मुख्य छड़ीबरदार दिखाई नहीं दिए। हालांकि बताया जा रहा है कि महेश्वर सिंह इससे पहले सर्किट हाउस में हुई बैठक में मौजूद रहे। लेकिन औपचारिक रूप से देव सदन में हुई बैठक में वे दिखाई नहीं दिए।

The post इस बार दशहरे में पहुंचेंगे सात देवता appeared first on Divya Himachal.