Sunday, March 07, 2021 04:55 PM

ऐसा जनसमर्थन मिला कि जीत ऐतिहासिक हो गई

टब्बा आंगनबाड़ी केंद्र में राष्ट्रीय बालिका दिवस पर उपायुक्त राघव शर्मा ने रोपी हरियाली

नगर संवाददाता-ऊना

राष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष्य पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के अंतर्गत जिला स्तरीय पौधारोपण अभियान का शुभारंभ उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने आंगनबाड़ी केंद्र टब्बा में किया। इस अवसर पर उपायुक्त ऊना राघव शर्मा तथा उनकी धर्मपत्नी स्वाति शर्मा ने पौधारोपण किया। कार्यक्रम के तहत इबादत राणा पुत्री शर्मिला राणा एवं अनिल कुमार, इवाना खन्ना पुत्री पायल व अकाश खन्ना तथा अरयाही पुत्री निवेदिता एवं दीपक शर्मा के नाम से उनके अभिभावकों ने भी पौधे लगाए। राघव शर्मा ने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना के तहत जिला ऊना में बेहतर कार्य हुआ है।

महिला एवं बाल विकास विभाग के माध्यम से प्रदेश सरकार ने वर्ष 2019-20 में जिला ऊना में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत 1.60 करोड़ रुपए से अधिक की राशि निर्धन लड़कियों की शादी के लिए प्रदान की। वहीं महत्त्वपूर्ण बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना के तहत जिला ऊना में 47 लाख रुपए की धनराशि खर्च की गई है। सरकारी कार्यालयों में बेटियों वाले परिवारों के काम प्राथमिकता पर करवाने के लिए डीसी कार्ड जारी किए गए हैं। जिला का लिंगानुपात 928 पहुंच गया है, जो वर्ष 2011 की जनगणना में चिंताजनक रूप से 875 था। कार्यक्रम में रीटा एंड पार्टी द्वारा एक स्किट के माध्यम से उपस्थित प्रतिभागियों का मनोरंजन किया तथा उन्हें विभागीय योजनाओं की जानकारी दी। इसके साथ साथ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता रीना चांदला ने बेटियों पर दिल छू लेने वाली कविता पेश की। इस अवसर पर जिला कार्यक्रम अधिकारी सतनाम सिंह, बाल विकास परियोजना अधिकारी कुलदीप सिंह दयाल, जितेंद्र शर्मा तहसील कल्याण अधिकारी, पर्यवेक्षक सुरेंद्र पाल कौर, कमलेश राणा, मीनू बाला, बीना रानी, आशा, कंचन देवी, नरेश भुल्लर, सुमन बाला, सुमनलता, महिला कल्याण अधिकारी श्रुति शर्मा,  को-आर्डिनेटर गुरनीत कौर, डिस्ट्रिक्ट को-आर्डिनेटर प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना ईशा, अन्य आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं अन्य गणमान्य उपस्थित रहे।

आरटीओ ऊना रमेश चंद ने यातायात नियमों का पालन करने पर चालकों को फूल देकर किया सम्मानित

नगर संवाददाता-ऊना

राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा एवं निरीक्षण मासिक अभियान की कड़ी में रविवार को परिवहन विभाग व रोटरी क्लब ऊना ग्रेटर के संयुक्त तत्त्वावधान में रामपुर चौक पर यातायात नियमों का पालन करने वाले वाहन चालकों को प्रोत्साहित करने के लिए सम्मानित किया गया। आरटीओ ऊना रमेश चंद कटोच की अगवाई में चलाए गए इस मासिक अभियान के अंतर्गत आज कारों में सुरक्षा बैल्ट तथा दोपहिया वाहनों में हेलमेट का इस्तेमाल करने वाले चालकों को फूल देकर सम्मानित किया तथा उन्हें कम से कम दस अन्य चालकों को भी नियमों के लाभ बारे जागरूक करने के लिए पे्ररित करने को कहा गया तथा जो लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे थे, उन्हें जागरूक किया गया। इस दौरान ट्रैक्टर ट्रालियों, भारी मालवाहन वाहनों, ऑटो रिक्शा व कारों इत्यादि कई वाहनों में लाल रंग के रेटरो रिफलेक्टर स्टिकर भी चिपकाए गए। इस दौरान एक शिविर का भी आयोजन किया गया।

शिविर में संबोधित करते हुए आरटीओ रमेश कटोच ने बताया कि रोटरी क्लब ऊना ग्रेटर ने हमेशा सामाजिक कार्यों में योगदान के लिए अग्रणी रहता है। उन्होंने इस अभियान में क्लब की सराहनीय सेवाओं के लिए आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर रोटरी क्लब ग्रेटर ऊना द्वारा इस अभियान के सफल कार्यान्वयन के लिए आरटीओ रमेश कटोच, एआरटीओ राजेश कौशल व सचिंद्र चैधरी, एसएचओ गौरव भारद्वाज व एएसआई सुरजीत सिंह के प्रयासों की सराहना करते हुए सम्मानित किया गया। निदेशक रोटरी क्लब ऊना ग्रेटर के निदेशक शेष पाल सिंह व अजय शर्मा ने भी अपने विचार रखे तथा कहा कि इस सामाजिक अभियान को और प्रभावी बनाने के लिए क्लब के सदस्य भविष्य में भी तत्परता दिखाएंगे। इस अवसर पर क्लब सचिव हरीश साहनी, राकेश कैलास व मोहिंद्र वर्मा भी उपस्थित रहे।

शपथ समारोह में 43 प्रधान-उपप्रधानों व बीडीसी सदस्यों ने की शिरकत

सिटी रिपोर्टर-ऊना

विकास खंड हरोली के नवनियुक्त पंचायत प्रतिनिधियों के लिए एसडीएम कार्यालय हरोली में शपथ समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें हिमाचल प्रदेश उद्योग विकास निगम के उपाध्यक्ष प्रो. राम कुमार ने मुख्यातिथि के रूप में शिरकत की, जबकि बीडीओ हरोली अतुल पुंडीर विशेष रूप से उपस्थित थे। एसडीएम हरोली गौरव चौधरी ने सबसे पहले बीडीसी सदस्यों को शपथ दिलवाई, जिसके बाद प्रधानों व उपप्रधानों को शपथ दिलवाई। इस दौरान 43 प्रधानों व 43 उपप्रधानों तथा 24 बीडीसी सदस्यों ने पद व गोपनीयता की शपथ ग्रहण की। सबसे पहले एसडीएम गौरव चौधरी ने नवनियुक्त प्रतिनिधियों को जीत की बधाई दी। ग्राम पंचायत खड्ड से वीरेंद्र कुमार ने प्रधान व रविंद्र कुमार ने उपप्रधान, पंजावर से नीलम ने प्रधान व बृजपाल ने उपप्रधान, ईसपुर से बख्शो ने प्रधान व तरसेम ने उपप्रधान, धर्मपुर से सुभद्रा ने प्रधान व राजीव ने उपप्रधान, सलोह से अनीता ने प्रधान व दविंद्रपाल ने उपप्रधान, लोअर बढेड़ा से अजय ने प्रधान व त्रिलोक ने उपप्रधान पद की शपथ ग्रहण की।

पंचायत समनाल से जसवीर ने प्रधान व गुरदयाल ने उपप्रधान, हरोली से रमन ने प्रधान व सतनाम ने उपप्रधान, पूबोवाल से जसवीर ने प्रधान व संदीप ने उपप्रधान, कर्मपुर से दिलबाग ने प्रधान व रमेश चंद ने उपप्रधान, बाथड़ी से अनुपम ने प्रधान व राकेश ने उपप्रधान, बाथू से सुरेखा ने प्रधान व अश्वनी कुमार ने उपप्रधान, गोंदपुर जयचंद से अनूप अग्निहोत्री ने प्रधान व करनैल सिंह ने उपप्रधान, हलेड़ा-बिलणा से सतनाम सिंह ने प्रधान व जसवीर सिंह ने उपप्रधान, भदसाली से सुदेश ने प्रधान व अजमेर ने उपप्रधान के पद की कसम ली। लोअर पंजावर से मुक्ता ने प्रधान व संजीव ने उपप्रधान, घालूवाल से सोनी ने प्रधान व अनिल ने उपप्रधान, बालीबाल से रामपाल ने प्रधान व विजय ने उपप्रधान, पंडोगा से गुलबिंद्र ने प्रधान व गुरपाल ने उपप्रधान, भदसाली हार से सरोज ने प्रधान व हतिंद्र ने उपप्रधान, सैंसोवाल से नरदेव ने प्रधान व बलदेव ने उपप्रधान, भदौड़ी से केवल ने प्रधान व यशपाल ने उपप्रधान, पोलियां बीत से राकेश ने प्रधान व कृष्ण गोपाल ने उपप्रधान, छेत्रां से विकास ने प्रधान व सोमनाथ ने उपप्रधान, बीटन से परमजीत ने प्रधान व रामपाल ने उपप्रधान, ललड़ी से अशोक ने प्रधान व रघुवीर ने उपप्रधान, गोंदपुर बूल्ला से सतनाम ने प्रधान व संदीप ने उपप्रधान, कुंगड़त से प्रवीण ने प्रधान व कुलदीप ने उपप्रधान के पद की शपथ ग्रहण की। पंचायत भैणी खड्ड से अश्वनी ने प्रधान व राज ने उपप्रधान, कुठारबीत से विनोद ने प्रधान व दर्शन ने उपप्रधान, रोड़ा से हरीश ने प्रधान व धर्मपाल ने उपप्रधान, नंगलखुर्द से प्रवीण ने प्रधान व जसवंत ने उपप्रधान, भडियारां से अंजना ने प्रधान व दिलदार ने उपप्रधान, बट्टकलां से रोजी ने प्रधान व जोगिंद्र ने उपप्रधान की शपथ ग्रहण की।

पंचायत चुनावों में मतदाताओं ने दोनों राजनीतिक दलों को दिखाया आईना

स्टाफ रिपोर्टर-गगरेट

ग्रामीण संसद के चयन के लिए संपन्न हुए पंचायत चुनाव जहां राजनीतिक दलों को आईना दिखा गए, वहीं इस चुनाव में जनता ने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर राजनीतिक दलों को यह भी बता दिया कि राजनीतिक दल नहीं, बल्कि जनता सर्वोपरि है। विकास खंड गगरेट के अंतर्गत आने वाला जिला परिषद वार्ड संघनई विधायक राजेश ठाकुर का गृह वार्ड होने के चलते यहां तो विधायक भाजपा समर्थित उम्मीदवार की जीत सुनिश्चित कर अपनी साख बचाने में कामयाब रहे, लेकिन पूर्व विधायक राकेश कालिया के गृह वार्ड भंजाल लोअर में जिस प्रकार कांग्रेस व भाजपा समर्थित उम्मीदवारों की जमानत जब्त हुई, वह झटका चार सौ चालीस वोल्ट के करंट से कम नहीं है। हालत यह हुई कि कांग्रेस व भाजपा के काडर ही समाप्त हो गए।

विकास खंड गगरेट के अंतर्गत तीन जिला परिषद वार्डों में से एक-एक वार्ड में बेशक कांग्रेस व भाजपा समर्थित उम्मीदवारों की जीत हुई है, लेकिन विधायक राजेश ठाकुर व पूर्व विधायक राकेश कालिया को जिला परिषद वार्ड भंजाल लोअर से बिना किसी राजनीतिक दल के समर्थन उतरे चैतन्य शर्मा ने इसी वार्ड में उलझाए रखा, बल्कि विधायक व पूर्व विधायक द्वारा पूरी ताकत झोंक देने के बाद भी कांग्रेस व भाजपा समर्थित प्रत्याशी जमानत तक नहीं बचा पाए। हैरत की बात यह है कि प्रदेश में भाजपा सत्तारूढ़ है और अभी विधानसभा चुनावों को भी समय है। ऐसे में भी अगर भाजपा समर्थित प्रत्याशी को महज 2802 मत ही पड़े। तो मतलब साफ है कि भाजपा का काडर ही इस चुनाव में खिसक गया। वहीं, प्रो-कांग्रेस वार्ड होने के बावजूद कांग्रेस यहां बुरी तरह से धराशयी हुई। पिछले पंचायत चुनाव में जिला परिषद की इस सीट पर कांग्रेस का कब्जा था, लेकिन इस बार हश्र यह हुआ कि कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी 1095 मतों पर ही ढेर हो गए, जो प्रचंड जनादेश यहां की जनता ने दिया वह कांग्रेस व भाजपा के लिए किसी खतरे की घंटी से कम नहीं है। हालत यह रही कि पूर्व विधायक राकेश कालिया की गृह पंचायत भंजाल अपर से ही चैतन्य शर्मा अस्सी फीसदी से ज्यादा मत हासिल करने में कामयाब रहे।

जिला परिषद के भंजाल लोअर वार्ड से चैतन्य शर्मा, पंचायत गगरेट अपर से उपप्रधान आशीष और पंचायत समिति अंबोटा से शिवानी ठाकुर की जीत बन गई यादगार

स्टाफ रिपोर्टर-गगरेट

ग्रामीण संसद के चयन के लिए हाल ही में संपन्न हुए पंचायत चुनाव में कुछ प्रत्याशियों को ऐसा जनसमर्थन मिला कि उनकी जीत ऐतिहासिक हो गई। जीत भी ऐसी कि चुनाव मैदान में उतरे अन्य प्रत्याशी जमानत तक न बचा सके। ऐसा लगा कि जैसे इन प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव मैदान में उतर कर अन्य प्रत्याशियों ने बड़ी भूल की है। पंचायत चुनाव में तीन जीत तो ऐसी हुईं, जिसे आने वाले समय में भी याद रखा जाएगा। जिला परिषद के भंजाल लोअर वार्ड से हुआ चुनाव पहले ही सुर्खियों में था, लेकिन जब चुनाव परिणाम आए तो यह चुनाव प्रदेश भर में सुर्खियों का कारण बना। इस चुनाव में बिना किसी राजनीतिक दल के समर्थन से उतरे प्रत्याशी चैतन्य शर्मा के नाम की ऐसी आंधी चली कि कोई भी प्रत्याशी इनके आगे नहीं टिक पाया। न तो भाजपा समर्थित प्रत्याशी को प्रदेश की सत्ता पर काबिज होने वाली भाजपा के नाम का लाभ मिला और न ही कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी कांग्रेस का कॉडर अपनी वोट में तबदील कर पाया। इस जिला परिषद वार्ड से चैतन्य शर्मा ने ऐसी प्रचंड जीत हासिल की कि कोई भी प्रत्याशी तीन हजार मत तक हासिल नहीं कर पाया।

अगर अन्य प्रत्याशियों को मिले वोट एक साथ भी जोड़ लिए जाएं, तो भी इन प्रत्याशियों के वोट मिलाकर आंकड़ा पांच हजार को पार नहीं करता। जिला परिषद वार्ड भंजाल लोअर में कुल 18980 मत पड़े और चैतन्य शर्मा इनमें से 14789 मत हासिल करने में कामयाब रहे और 11983 मतों के अंतर से धमाकेदार जीत दर्ज कर इस जीत को इतिहास के पन्नों में दर्ज करवा गए। चैतन्य शर्मा की यह जीत प्रदेश की सबसे बड़ी जीत है। उधर, ग्राम पंचायत अपर गगरेट से उपप्रधान पद के उम्मीदवार आशीष शर्मा ने भी ऐसी जीत दर्ज की कि सबकी नजरें आशीष शर्मा पर टिक गईं। ग्राम पंचायत गगरेट अपर में कुल 1591 मत पड़े और आशीष शर्मा इनमें से 1201 मत हासिल करने में कामयाब रहे। आशीष शर्मा भी 811 मतों के भारी अंतर से यह जीत दर्ज करने में कामयाब रहे। आशीष शर्मा पिछली बार हुए पंचायत चुनाव में उपप्रधान का चुनाव महज चार मतों के अंतर से हार गए थे लेकिन इस बार उनकी जीत भी इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गई। किराने की दुकान में भड़की आग