Tuesday, October 27, 2020 05:20 PM

जेई इलेक्ट्रिकल भर्ती पर रोक, सुप्रीम कोर्ट में बीटेक डिग्री धारकों की याचिका पर कार्रवाई

शुरू से ही विवादों में रही पोस्ट कोड-663 के तहत होने वाली जेई इलेक्ट्रिकल की भर्ती प्रक्रिया अब सुप्रीम कोर्ट में जाकर फिर रुक गई है। देश की शीर्ष अदालत ने बीटेक डिग्री होल्डर्स की याचिका पर सुनवाई के बाद इस भर्ती प्रक्रिया पर फिलहाल रोक लगा दी है। ऐसे में जेई इलेक्ट्रिकल के 222 पदों के परिणाम आने के बाद होने वाली अभ्यर्थियों की अप्वाइटमेंट कोर्ट के अगले आदेश तक रुक गई है। उच्चतम न्यायलय के इस आदेश के बाद प्रदेश सरकार और विद्युत विभाग पर एक नई जिम्मेदारी आ गई है कि वे इस मैटर को कैसे डील करते हैं। वहीं, इस आदेश के बाद जहां बीटेक डिग्री होल्डर्स अभ्यर्थी राहत महसूस कर रहे हैं, वहीं चयनित हो चुके डिप्लोमा होल्डर्स के लिए यह खबर किसी झटके से कम नहीं है।

विदित रहे कि बीटेक अभ्यर्थियों पुनीत शर्मा, गुरजीत, आशीष, अभिषेक, बनीत, प्रवीण, पंकेश, सौरभ शर्मा, रोबिन, अरविंद, विशाल, कमलेश, साहिल, अमन व नवीन आदि ने डिप्लोमा होल्डर्स को इस भर्ती के लिए योग्य घोषित किए जाने के खिलाफ उच्चतम न्यायलय में याचिका दायर कर दी थी। उनके अनुसार इस जेई इलेक्ट्रिकल भर्ती का परिणाम घोषित होने के बाद ऐसा लग रहा है कि प्रदेश सरकार न तो राज्य के उच्च शिक्षित वर्ग के साथ है और न ही उसे प्रदेश के बेरोजगारों की चिंता है, क्योंकि यदि सरकार को चिंता होती तो बीटेक डिग्री होल्डर्स को अयोग्य न ठहराया जाता और बाहरी राज्यों के 47 डिप्लोमा होल्डर्स की सिलेक्शन न होती। बता दें कि बीटेक डिग्री होल्डर्स ने उच्च न्यायालय का दरवाजा भी खटखटाया था, लेकिन निराशा ही हाथ लगी थी। रिजल्ट घोषित होने के उपरांत बीटेक डिग्री होल्डर्स ने वकील के माध्यम से सुप्रीम कोर्ट से न्याय की गुहार लगाई है। बता दें कि जेई इलेक्ट्रिकल के जो 222 पद भरे जा रहे हैं उनमें जनरल केटेगिरी के कुल 90 पदों में से 47 पदों पर यूपी, बिहार और झारखंड राज्यों के लोगों का चयन किया गया है।

यह है पूरा मामला

पोस्ट कोड 663 के तहत जून 2018 में जेई इलेक्ट्रिकल के 222 पदों के लिए अधिसूचना जारी हुई थी, लेकिन विडंबना है कि यह भर्ती प्रक्रिया शुरू से ही विवादों में रही। पहले इसमें डिप्लोमा धारक कोर्ट की शरण में गए फिर बीटेक डिग्री धारक। हालांकि कोर्ट ने अंतिम फैसला डिप्लोमा धारकों के पक्ष में सुनाया और परीक्षा पास करने वाले 283 डिग्री धारकों को बाहर का रास्ता दिखा दिया।

बीटेक होल्डर्स इस बात से निराश और मायूस हो गए कि पहले तो कभी ऐसा नहीं हुआ कि हायर क्वालिफिकेशन वालों को बाहर किया गया हो। इस समय इलेक्ट्रिकल डिपार्टमेंट में ऐसे सैकड़ों जेई या एसडीओ सेवारत हैं, जो बीटेक होल्डर्स थे और उनकी डिपार्टमेंट में सिलेक्शन हुई थी।

The post जेई इलेक्ट्रिकल भर्ती पर रोक, सुप्रीम कोर्ट में बीटेक डिग्री धारकों की याचिका पर कार्रवाई appeared first on Divya Himachal.