जेपी यूनिवर्सिटी में विद्वानों ने रखे बड़े काम के विचार, पढि़ए वेबिनार की फुल रिपोर्ट, मिलेगी महत्वपूर्ण जानकारी

सोलन- जेपी यूनिवर्सिटी वाकनाघाट में एक अंतर्राष्ट्रीय वेबिनार श्रृंखला का दूसरा वेबिनार, टेलिविस यूनिवर्सिटी, इजराइल के प्रख्यात वैज्ञानिक और कुशल शोधकर्ता प्रो योसी शचम दीमांद द्वारा लचीले सेंसर के लिए बायोमेडिकल एप्लिकेशन विषय पर आयोजित किया गया है। यह वेबिनार अनुसंधान आधारित था, बहुत जानकारीपूर्ण था और बायोमेडिकल एप्लिकेशन के लिए लचीले सेंसर के वर्तमान परिदृश्य पर कला की जानकारी प्रस्तुत करता है। प्रश्न उत्तर सत्र बहुत ही संपादित था। संयोजक के रूप में डा तीरथ राज सिंह द्वारा संयोजक, डा. रागिनी राज सिंह और डा.  निशांत जैन द्वारा इस वेबिनार श्रृंखला का संचालन किया जा रहा है।

इस अंतरराष्ट्रीय वेबिनार में न केवल भारत के प्रतिभागियों द्वारा भाग लिया गया है, बल्कि प्रतिभागी अपने-अपने स्थानों पर बैठे विश्व भर से आए थे। विदेश से मुख्य रूप से भागीदारी में नीदरलैंड, इजरायल, इंडोनेशिया, बांग्लादेश, फिलीपींस, भूटान, यूएई, हांगकांग, पोलैंड, कनाडा, नाइजीरिया, यूक्रेन, नेपाल, अल्जीरिया, मलेशिया आदि शामिल हैं। अब तक इस वेबिनार श्रृंखला के लिए पंजीकृत 650 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया।

इस वेबिनार को सीईएचटीआई द्वारा इस श्रृंखला के आगामी वेबिनार में भाग लेने के इच्छुक प्रतिभागियों और प्रतिभागियों द्वारा बहुत पसंद किया गया। सीईएचटीआई का उद्देश्य स्वास्थ्य देखभाल क्षेत्रों में हाल के घटनाक्रमों के बारे में चिंता करना है और साथ ही साथ तेजी से विकासशील सूचना विज्ञान के साथ समन्वय करना है। विश्वविद्यालय इस केंद्र के माध्यम से वैश्विक स्तर पर स्वास्थ्य सूचना विज्ञान के क्षेत्र में वैज्ञानिक और व्यावहारिक अनुसंधान को बेहतर बनाने और एक ज्ञान समाज के निर्माण में इसका उपयोग करने का प्रयास करता है। यह रचनात्मकता और उत्कृष्टता के माध्यम से स्वास्थ्य जानकारी में वैश्विक नेतृत्व की उम्मीद भी करता है।

The post जेपी यूनिवर्सिटी में विद्वानों ने रखे बड़े काम के विचार, पढि़ए वेबिनार की फुल रिपोर्ट, मिलेगी महत्वपूर्ण जानकारी appeared first on Divya Himachal.

Related Stories: