Thursday, September 24, 2020 02:32 PM

कैसे करें सेनेटाइजर का प्रयोग

कोरोना वायरस महामारी से बचाव के लिए जिन तरीकों को दुनियाभर में अपनाया जा रहा है, उनमें से एक हैंड सेनेटाइजर का प्रयोग भी है। 60  एल्कोहल वाले हैंड सेनेटाइजर से हाथ साफ  करने से कोरोना वायरस खत्म हो सकता है, ऐसा वैज्ञानिकों का दावा है। जब कोरोना वायरस महामारी आई थी, तब हैंड सेनेटाइजर्स के दाम बहुत ज्यादा हुआ करते थे, इसलिए ये आम लोगों की पहुंच से दूर थे। लेकिन महामारी के देखते हुए सरकार ने सेनेटाइजर के दामों को कम किया, जिससे इसके प्रयोग में अचानक से तेजी आई।

आज अरबों लोग रोजाना हैंड सेनेटाइजर्स का प्रयोग कर रहे हैं। मगर आपको जानकर हैरानी होगी कि इनमें से 90  लोग हैंड सेनेटाइजर्स का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। इससे उन्हें फायदा होना  तो दूर, उल्टा नुकसान होने की अधिक आशंका  है। हम आपको बता रहे हैं, कौन सी गलतियां  कर रहे हैं आप।

हाथ धोने को बोझ समझते हैं आप

हैंड सेनेटाइजर्स का विकल्प उन लोगों के लिए है, जो ऐसी जगह पर हैं जहां साबुन और पानी की उपलब्धता नहीं है जैसे मॉल्स, दुकान, सार्वजनिक स्थान, अस्पताल, पब्लिक ट्रांसपोर्ट आदि। लेकिन प्रयोग में सुविधाजनक होने के कारण लोग हर जगह इसका प्रयोग करने लगे हैं,यहां तक कि घर में भी। ये गलत है। विश्व के सभी बड़े स्वास्थ्य संगठन कहते हैं कि एल्कोहल बेस्ड सेनेटाइजर से हाथ साफ  करने पर आपको वैसी सुरक्षा नहीं मिल सकती है, जैसी साबुन और पानी से हाथ धोने पर मिलती है।

सेनेटाइजर का गलत इस्तेमाल

ज्यादातर लोग सेनेटाइजर का प्रयोग करते समय हाथों में सेनेटाइजर लेकर सामने की हथेली में और फिर हथेली के पीछे रगड़ लेते हैं। ये हाथ साफ  करने का सही तरीका नहीं है। आपको अपने हाथ के हर हिस्से को सेनेटाइज करना है ताकि वायरस की संभावना को पूरी तरह खत्म किया जा सके। इसके लिए हथेली और पीछे के हिस्से के अलावा अंगुलियों के बीच की जगह, नाखून के आगे का हिस्सा और अंगूठे के बीच के हिस्से को अच्छी तरह साफ  करना जरूरी है।

गलत हैंड सेनेटाइजर का प्रयोग

भारी मांग के कारण बाजार में बहुत सारे फर्जी और घटिया क्वालिटी के हैंड सेनेटाइजर्स आ गए हैं, जो तय मानकों पर खरे नहीं उतरते हैं। ऐसे हैंड सेनेटाइजर के प्रयोग से आपको सुरक्षा नहीं मिलती है। आपके हैंड सेनेटाइजर में कम से कम 60 एल्कोहल होना चाहिए। इससे कम एल्कोहल होने पर सेनेटाइजर आपको पूरी सुरक्षा नहीं दे पाएगा।

प्रयोग के बाद दोबारा संक्रमित जगह छूना

अकसर ये गलती पब्लिक प्लेस पर लोगों से हो जाती है। सार्वजनिक प्रयोग वाले हैंड सेनेटाइजर्स के पंप या बॉटल को छूने के बाद हाथ पर रगड़ने से वायरस खत्म हो जाता है। मगर इसके बाद लोग अकसर ये गलती करते हैं कि वो फिर से किसी ऐसी जगह को छू लेते हैं, जहां से संक्रमण का खतरा हो, जैसे टॉयलेट या आफिस का गेट, बस का हैंडल, नोट और सिक्के, मास्क उतारते समय सामने का हिस्सा आदि। बच्चों की त्वचा बहुत नाजुक होती है, इसलिए जितना संभव हो उन्हें हाथ धुलाने की कोशिश करें, सेनेटाइजर के प्रयोग की आदत न डलवाएं।

The post कैसे करें सेनेटाइजर का प्रयोग appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.