Wednesday, November 25, 2020 10:56 PM

किसानों को नहीं मिल रहा है अदरक विकास केंद्र का कोई लाभ, बीज न मिलने से हाथ आ रही मायूसी

नोहराधार — कृषि विभाग द्वारा किसानों को अदरक का उन्नत बीज उपलब्ध करवाने तथा उन्हें खेती की नवीन तकनीक सिखाने का सपना टूटने लगा है। करीब छह दशक पहले शुरू किया गया जिंजर डिवेलपमेंट सेंटर संगड़ाह के हरलो में आज के समय में अनदेखी के चलते सफेद हाथी साबित हो रहा है। सौ बीघा के इस फार्म में इस बार केवल एक बीघा में ही अदरक उगाया जा रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा हालांकि इस फार्म को अदरक पर अनुसंधान करने व किसानों को बेहतर बीज उपलब्ध करवाने के लिए तैयार किया गया था।

मगर आलम यह है कि यहां न तो अदरक पर कोई अनुसंधान हो रहा है और न ही किसानों को इससे कोई अन्य लाभ मिल पा रहा है। विभाग के अनुसार स्टाफ के अभाव में यहां केवल एक बेलदार नियमित रूप से तैनात है, जिसके चलते फार्म के कुछ हिस्से में दाल व तिलहन उगाए गए हैं तथा शेष भाग बंजर पड़ा है।

हरलो फार्म में कृषि प्रसार अधिकारी का पद लंबे अरसे से खाली है। इस अदरक विकास केंद्र सहित सहित विकास खंड संगड़ाह में कृषि प्रसार अधिकारी के कुल आठ में से छह पद खाली है । बहरहाल सरकार को इस दिशा में जल्द कदम उठाना चाहिए

The post किसानों को नहीं मिल रहा है अदरक विकास केंद्र का कोई लाभ, बीज न मिलने से हाथ आ रही मायूसी appeared first on Divya Himachal.