Monday, November 30, 2020 03:43 AM

कुपोषण खत्म करना होगा

हम बात करते हैं विश्व गुरु बनने की, पांच ट्रिलियन अर्थव्यवस्था की, आत्मनिर्भर होने की, लेकिन हम यह क्यों भूल जाते हैं कि पहले हमें देश को कुपोषण और गरीबी से भी मुक्त कराना होगा। कितनी दुखद बात है कि आज भारत वैश्विक भूख सूचकांक में बांग्लादेश, पाकिस्तान, नेपाल और श्रीलंका जैसे देशों से पिछड़ गया है। 107 देशों में हम  94वें स्थान पर पहुंचे हैं और हमारे देश का नाम भूख की गंभीर श्रेणी की सूची में दर्ज हो सकता है। सवाल उठता है कि देश में पर्याप्त खाद्य सामग्री होते हुए भी गरीबी व कुपोषण क्यों है? इसके पीछे कारण कुछ भी हो, लेकिन हमें गरीबी और कुपोषण को खत्म करने के लिए  युद्धस्तर पर लड़ना होगा। तभी हम बेहतर आर्थिकी के बारे में सोच सकते हैं।

The post कुपोषण खत्म करना होगा appeared first on Divya Himachal.