Wednesday, August 05, 2020 09:43 PM

लाहुल में विकास को रफ्तार दें अधिकारी

केलांग – मंत्री डा. रामलाल मार्कंडेय ने आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज व अव्ययित बजट की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को विकास कार्यों में तेजी लाने के  निर्देश दिए। कोविड-19 की रोकथाम को लेकर उन्होंने जानकारी दी कि ग्रामीण विकास विभाग द्वारा पांच हजार मास्क लोगों को वितरित किए गए हैं। प्रवासी श्रमिकों के लिए भोजन की व्यवस्था की गई। स्वास्थ्य विभाग ने पांच लाख के पीपीई किट, सेनेटाइजर आदि की खरीद कर स्टाफ को दिए हैं। अभी तक बाहरी जिलों से कुल 34 हजार लोग लाहुल आए हैं, जिनको नियमानुसार संस्थागत तथा होम क्वारंटाइन किया गया। सरचू, दारचा तथा कोकसर में चैक पोस्ट स्थापित करने के साथ ही यहां पर हर आने व जाने वाले लोगों की स्क्रिनिंग की जा रही है। पंचायत स्तर पर कमेटियों का गठन कर बाहर से आने वालों का रिकार्ड रखा जा रहा है। सोडियम हाइपोक्लोराइट, सेनेटाइजर आदि भी पंचायतों, आंगनबाड़ी केंद्रों को उपलब्ध करवाए गए हैं। सरकार के फ्लैगशिप कार्यक्रमों के बारे उन्होंने बताया कि मनरेगा के अंतर्गत गत वित्तीय वर्ष में 43 लाख खर्च कर 2800 लोगों को काम दिया गया है। 14वें वित्त आयोग के तहत 15 करोड़ खर्च किए गए हैं। मुख्यमंत्री लोक भवन योजना के अंतर्गत भवन के लिए भूमि हस्तांतरण की प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने बताया कि जिला में कुल 30 करोड़ के लगभग अव्ययित बजट है, जोकि पशुपालन विभाग में 64 लाख, कृषि में दस करोड़, डीआरडीए में 51 लाख, लोक निर्माण विभाग में 12 करोड़, जनजातीय विकास में एक करोड़ है, जिसको की शीघ्र ही विकास के कार्यों में खर्च किया जाएगा। कृषि मंत्री डा. रामलाल मार्कंडेय ने बताया कि कोविड -19 के चलते विकास कार्य कुछ प्रभावित हुए हैं, परंतु अब विकास की गति को तेज किया जाएगा। इस बैठक की पूरी रिपोर्ट मुख्यमंत्री को प्रस्तुत की जाएगी। इस बैठक में उपायुक्त कमल कांत सरोच, उपमंडलाधिकारी केलांग अमर नेगी, परियोजना अधिकारी जनजातीय विकास स्मृतिका नेगी,  निदेशक बागबानी, जिला कृषि अधिकारी, खंड विकास अधिकारी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

The post लाहुल में विकास को रफ्तार दें अधिकारी appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.