Thursday, March 04, 2021 03:47 PM

बाएं हाथ के तेज गेंदबाज टी नटराजन बोले, पहला विकेट और उसके बाद जो कुछ हुआ, सपने जैसा

नई दिल्ली।

अनुभवी भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने खुलासा किया है कि हाल में ऑस्ट्रेलिया में समाप्त हुई बॉर्डर-गावसकर ट्रॉफी के दौरान सिडनी में उन्हें मेजबान टीम के खिलाडि़यों के साथ लिफ्ट में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई। अश्विन ने यह खुलासा भारतीय क्रिकेट टीम के फील्डिंग कोच आर श्रीधर के साथ यूट्यूब चैनल पर बातचीत के दौरान किया। उन्होंने कहा कि सिडनी पहुंचने के बाद उन्होंने हमें कड़े प्रतिबंधों के साथ बंद कर दिया।

सिडनी में एक अनोखी घटना हुई। ईमानदारी से कहूं, तो यह अजीब था। भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों एक ही बायोबबल में थे, लेकिन जब ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी लिफ्ट में थे, तो उन्होंने भारतीय खिलाडि़यों को लिफ्ट के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी। उन्होंने कहा कि वाकई, उस समय हमें यह बहुत बुरा लगा। हम एक ही बायो बबल में हैं, लेकिन आप लिफ्ट में बैठ जाते हैं और आप एक ही बबल में रहने वाले किसी अन्य व्यक्ति के साथ लिफ्ट साझा नहीं कर सकते। हमारे लिए इसे पचाना बहुत मुश्किल था।

न्यूयार्क। अमरीका के रयान क्राउजर ने अमरीकन ट्रैक लीग सीरीज में 22.82 मीटर की दूरी तक गोला फेंककर एक नया विश्व इंडोर शॉट पुट रिकॉर्ड बनाया। 2016 रियो ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता क्राउजर ने अपने पहले प्रयास में ही अमरीका के रैंडी बर्न्स के वर्ष 1989 के 22.66 मीटर के रिकार्ड को तोड़ दिया। क्राउजर ने दूसरे प्रयास में 21.03 मीटर और तीसरे प्रयास में 22.70 मीटर तक गोला फेंका। क्राउजर ने 22.48 मीटर के साथ अपना राउंड समाप्त किया, जो दिन की उनकी तीसरी सर्वश्रेष्ठ थ्रो थी।

       ब्यूनस आयर्स। अर्जेंटीना की बी टीम ने भारत की सीनियर महिला हॉकी टीम को रोमांचक मुकाबले में सोमवार को 3-2 से हरा दिया। भारत की तरफ से युवा फॉरवर्ड सलीमा टेटे ने छठे और ड्रैग फ्लिकर गुरजीत कौर ने 42वें मिनट में गोल किये। अर्जेंटीना बी टीम के लिए सोल पागेला (25), कोंस्तांज़ा सेरुंडलो  (38) और अगस्तिना गोरजेलानी (39) ने गोल किए। मैच में भारत ने छठे मिनट में ही बढ़त बनायी लेकिन अर्जेंटीना बी टीम ने फिर तीसरे क्वार्टर तक 3-1 की बढ़त बना ली। गुरजीत ने 42वें मिनट में गोल कर टीम की हार का अंतर कम किया।

एजेंसियां — अहमदाबाद

इंडियन प्रीमियर लीग की महत्त्वपूर्ण नीलामी से पहले भारत के घरेलू क्रिकेटरों को मंगलवार से शुरू होने वाले सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी टी-20 टूर्नामेंट के नॉकआउट मैच में प्रभाव छोड़ने का आखिरी मौका मिलेगा। कर्नाटक की निगाह जहां खिताब बचाए रखने पर होगी, वहीं क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने वाली सात अन्य टीमें भी अपनी तरफ से कोई कसर नहीं छोड़ना चाहेंगी। इस टूर्नामेंट के जरिए भारत में 2020-21 के घरेलू सत्र की शुरुआत भी हुई थी। कर्नाटक की राह में मंगलवार को पंजाब की मजबूत टीम बड़ी बाधा है। ये दोनों टीमें पहले क्वार्टर फाइनल में आमने-सामने होंगी, जिसमें कड़ा मुकाबला होने की संभावना है।

 इसके बाद हिमाचल और तमिलनाडु का मुकाबला होगा, इसमें तमिलनाडु का पलड़ा भारी है, लेकिन हिमाचल ने इस सीजन धमाकेदार प्रदर्शन किया है और अगर यह प्रदर्शन जारी रहा, तो तमिलनाडु का औंधे मुंह गिरना तय है। यह मैच रात सात बजे से शुरू होगा। इसके बाद बुधवार को हरियाणा और बडोदरा में मुकाबला होगा, जबकि इसी दौरान राजस्थान की टीम बिहार से भिड़ेगी।

आज के क्वार्टर फाइनल

पंजाब बनाम कर्नाटक, दोपहर 12 बजे से

हिमाचल बनाम तमिलनाडु, रात सात बजे से

एजेंसियां — नई दिल्ली इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मैच स्थगित कर दिया गया है। अब यह मैच 18 से 22 जून के बीच खेला जाएगा। 23 जून को इस फाइनल मैच के लिए रिजर्व डे के तौर पर रखा गया है। पहले आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मैच 10 से 14 जून के बीच खेला जाना था। मौजूदा समय में आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की प्वॉइंट टेबल में भारतीय क्रिकेट टीम टॉप पर है, जबकि न्यूजीलैंड दूसरे पायदान पर है। आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मैच प्वाइंट टेबल में आखिरी में टॉप-2 टीम के बीच खेला जाएगा। आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप का यह पहला संस्करण है और इसमें नौ टीमें हिस्सा ले रही हैं। भारत, न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका, पाकिस्तान, श्रीलंका, वेस्टइंडीज और बांग्लादेश क्रिकेट टीमें इसका हिस्सा हैं। टॉप-4 की बात करें तो भारत और न्यूजीलैंड के बाद क्रम से ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड का नंबर आता है।

एजेंसियां — चेन्नई

आस्ट्रेलिया दौरे पर क्रिकेट के तीनों प्रारूपों (एकदिवसीय, टी-20, टेस्ट) में पर्दापण करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बाएं हाथ के तेज गेंदबाज टी नटराजन ने कहा है की पहला एकदिवसीय विकेट लेना और उसके बाद जो कुछ हुआ, वह सब एक सपने जैसा है। नटराजन ने कहा कि मुझे अचानक एक मौका दिया गया। मुझे उम्मीद नहीं थी कि कैनबरा में मेरा एकदिवसीय क्रिकेट में पदार्पण होगा। टीम प्रबंधन ने अचानक मुझसे कहा कि मैं मैच खेल रहा हूं। इससे मैं दबाव में था, लेकिन मैं इस अवसर का बेहतर तरीके से उपयोग करना चाहता था, इसलिए मैंने इस ओर ध्यान केंद्रित किया। इस मैच में पहला विकेट और उसके बाद जो कुछ हुआ वो मेरे लिए एक सपने जैसा है।