Monday, October 26, 2020 05:52 PM

मलबा फेंकने से शउआ गांव को खतरा

चंबा तीसा उपमंडल की जुंगरा पंचायत के ऊपरी हिस्से में निर्माणाधीन चनवास-भटकवास मार्ग के निर्माण कार्य के दौरान ठेकेदार द्वारा मलबा व पत्थर नीचे गिराने से शउआ गांव को खतरा पैदा हो गया है। इसके साथ ही ग्रामीणों की चारगाह व काफी तादाद में पेड़ भी मलबे की जद में आकर तबाह हो गए हैं। ठेकेदार की इस मनमानी के चलते किसी वक्त भी कोई बड़ा हादसा पेश आ सकता है। शउआ गांव के ग्रामीण किशोरी लाल, भाग सिंह, बंसी लाल व शाम लाल आदि ने बताया कि गांव के उपरी हिस्से में चनवास-भटकवास संपर्क मार्ग का निर्माण कार्य लोक निर्माण विभाग द्वारा ठेकेदार के माध्यम से करवाया जा रहा है। मगर ठेकेदार सड़क निर्माण कार्य के दौरान निकलने वाले मलबे व पत्थरों को निर्धारित जगह डंप करने की बजाय सीधे ढांक से नीचे गिरा रहा है।

उन्होंने बताया कि मलबा व पत्थर कई बार रिहायशी क्षेत्र में गिरने से ग्रामीण हादसे का शिकार होने से बाल-बाल बचे हैं। उन्होंने बताया कि मलबे व पत्थर की चपेट में आकर चारागाह में घास काट रहे ग्रामीण कभी भी अकारण मौत के मुंह में समा सकते हैं। उन्होंने कहा कि वे कई बार ठेकेदार से मलबा व पत्थर नीचे न फैंकने का आग्रह कर चुके हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो पा रही है। उन्होंने लोक निर्माण विभाग से जल्द ठेकेदार को मलबा व पत्थर न गिराने की सख्त हिदायत देने को कहा है। उधर, लोक निर्माण विभाग तीसा मंडल के अधिशासी अभियंता दीपक महाजन ने बताया कि मामला ध्यान में आने के बाद ठेकेदार को चेतावनी दे दी गई है। ठेकेदार को कटिंग कार्य के दौरान मलबा व पत्थर गिरने के समय ग्रामीणों को अलर्ट करने के लिए अतिरिक्त कर्मचारी की नियुक्ति को भी कह दिया गया है।

The post मलबा फेंकने से शउआ गांव को खतरा appeared first on Divya Himachal.