Friday, September 25, 2020 08:17 AM

मंडी को 35 लाख का इनाम

जिला सुशासन सूचकांक में दूसरा स्थान हासिल कर चमकाया नाम

दिव्य हिमाचल ब्यूरो—मंडी

मंडी जिला ने हिमाचल प्रदेश जिला सुशासन सूचकांक वार्षिक रिपोर्ट-2019 में व्यापक सात विषयों, 18 केंद्र बिंदुओं तथा 45 संकेतकों पर 70.2 प्रतिशत हासिल कर 35 लाख रुपए का दूसरा पुरस्कार प्राप्त किया है। जिला सुशासन सूचकांक (एचपीडीजीजीआई) की वार्षिक रिपोर्ट-2019 जारी होने के अवसर पर शिमला में आयोजित समारोह में उपायुक्त मंडी ऋ ग्वेद ठाकुर ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के हाथों यह राज्य स्तरीय पुरस्कार ग्रहण किया।

उपायुक्त ने इस पुरस्कार का श्रेय मंडी जिला प्रशासन की पूरी टीम को दिया है। उन्होंने कहा कि जिला में उत्तरदायी एवं सक्रिय शासन व्यवस्था तय बनाने में सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों से मिले सहयोग की सराहना की। बता दें, मंडी जिला को ई-गवर्नेंस के प्रभावी मॉडल और सेवाओं को अधिक नागरिक केंद्रित बनाने, समयबद्ध एवं सूचना प्रौद्योगिकी के कारगर उपयोग से प्रक्रियाओं को आसान और व्यवस्था को पारदर्शी एवं जवाबदेय बनाने की दिशा में किए गए अभिनव कार्यों व नवीन पहलों के लिए बेहतर आंका गया है।

सुशासन सूचकांक के निर्धारण में सात व्यापक विषय-वस्तु- अधोसंरचना एवं मानव विकास, सामाजिक संरक्षण, महिलाएं एवं बच्चे, अपराध एवं कानून व्यवस्था और पर्यावरण पारदर्शिता और जवाबदेही आदि विषय शामिल हैं। काबिलगौर है कि हिमाचल प्रदेश देश का पहला राज्य है, जिसने विभिन्न क्षेत्रों में शासन की गुणवत्ता को आंकने का कार्य आरंभ किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के आम लोगों का कल्याण हमेशा से प्रदेश सरकार की प्राथमिकता रही है।

The post मंडी को 35 लाख का इनाम appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.