मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर भी जानते हैं विश्व कप सेमीफाइनल में भाग्यशाली रहे थे हम

नई दिल्ली – भारत के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा ने 2011 विश्वकप में पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले को याद करते हुए कहा है कि सचिन तेंदुलकर भी जानते हैं कि वह उस मैच में कितने भाग्यशाली रहे थे। सचिन ने इस मुकाबले में 85 रन बनाए थे जिसकी मदद से टीम चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाने में सफल रही थी। सचिन की पारी और गेंदबाजों की शानदार गेंदबाजों की मदद से भारत ने पाकिस्तान को सेमीफाइनल मुकाबले में पराजित कर 2011 विश्वकप के फाइनल में जगह बनाई थी।

सचिन को इस पारी के दौरान 27, 45, 70 और 81 रन के निजी स्कोर पर मिस्बाह उल हक, यूनुस खान, कामरान अकमल और उमर अकमल द्वारा कैच छोड़ने के कारण जीवनदान मिला था। नेहरा के अनुसार यह उनकी बेहतरीन पारियों में से एक थी। नेहरा ने कहा, “यह बताना जरुरी नहीं है क्योंकि सचिन भी जानते हैं कि वह इस मुकाबले में कितने भाग्यशाली रहे थे। यह उनकी बेहतरीन पारियों में से एक थी। जब भी सचिन 40 रन का स्कोर भी बनाते थे तो कुछ गलत फैसले दिए जाते या कैच छूट जाते थे। लेकिन हर बार कोई खिलाड़ी इतना भाग्यशाली नहीं रहता है।”

उन्होंने कहा, “जब आप विश्वकप की बात कर रहे हैं तो चाहे भारत-पाकिस्तान मैच हो या भारत-इंग्लैंड के बीच मुकाबला हो, दबाव हर मैच में रहता है। आप सेमीफाइनल में पहुंचे हैं और आप अच्छी टीम है लेकिन अंत में यह तय करता है कि आप किस तरह दबाव झेलने में सक्षम है।” भारत ने सेमीफाइनल में पाकिस्तान और फाइनल में श्रीलंका को हराकर 28 वर्षों के लंबे इंतजार के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में विश्वकप जीता था।

The post मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर भी जानते हैं विश्व कप सेमीफाइनल में भाग्यशाली रहे थे हम appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.

Related Stories: