Thursday, March 04, 2021 03:13 PM

मुंबई सिटी ने ईस्ट बंगाल को 1-0 से हराया, हीरो इंडियन सुपर लीग के सातवें सीजन में नौवीं जीत

विरोट कोहली पर बड़ा बयान

दिव्य हिमाचल ब्यूरो— नई दिल्ली

भारतीय क्रिकेट टीम ने विराट कोहली की कप्तानी में तीनों फॉर्मेट में अभी तक अच्छा प्रदर्शन किया है। आस्ट्रेलिया दौरे पर कोहली एक टेस्ट मैच खेलकर स्वदेश लौट आए थे। इसके बाद सीरीज के आखिर के तीन टेस्ट में अजिंक्य रहाणे ने टीम इंडिया की अगवाई की। आस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने के बाद भारत के पास आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंकपयनिशप फाइनल का खेलना का अच्छा मौका है।

कोहली की अगवाई में भारतीय टीम अभी तक आईसीसी का कोई बड़ा टूर्नामेंट नहीं जीत सकी है। टीम इंडिया ने आखिर बार महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्जा किया था। इसके बाद कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया साल 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी जीतने से चूक गई। साल 2019 वर्ल्ड कप में भी भारतीय टीम खिताब नहीं जीत सकी। भारत को इस साल के आखिर में टी-20 वर्ल्ड कप का आयोजन करना है। इसके बाद अगला वनडे वर्ल्ड कप भी भारत में होना है। कोहली के पास अपनी कप्तानी में टीम इंडिया को खिताब दिलाने का सुनहरा मौका होगा। इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर मोंटी पनेसर का कहना है कि यदि कोहली आईसीसी के आगामी दो टूर्नामेंट में भारत को खिताब दिलाने में असफल रहते हैं, तो उन्हें कप्तानी से इस्तीफा दे देनी चाहिए। पनेसर ने कहा, यदि भारत अपनी मेजबानी में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप या वनडे वर्ल्ड कप नहीं जीत पाता है, तो मुझे लगता है कि विराट कोहली को कप्तानी छोड़नी होगी। वह अच्छी कप्तानी कर रहे हैं, लेकिन उन्हें अपने घर में होने वाले दो वर्ल्ड कप में से कम से कम एक खिताब तो जीतने होंगे।

अहमदाबाद — सैयद मुश्ताक अली टी-20 टूर्नामेंट की सभी आठ नॉकआउट टीमों की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आई है। फिलहाल वे अहमदाबाद में क्वारंटीन हैं। मुश्ताक अली ट्रॉफी के 26 से 31 जनवरी तक नॉकआउट मुकाबले खेले जाने हैं। टूर्नामेंट के लीग मुकाबले 10 से 19 जनवरी के बीच खेले गए थे। सैयद मुश्ताक अली टी-20 टूर्नामेंट के नॉकआउट मुकाबलों में भाग लेने के लिए 20 जनवरी को कर्नाटक, पंजाब, तमिलनाडु, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, बड़ौदा, बिहार और राजस्थान की टीम अहमदाबाद पहुंची थी।

यहां पहुंचने पर गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन (जीसीए) और बाद में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने दोबारा टीमों का कोरोना टेस्ट कराया था, जिसमें सभी टीमें संक्रमण मुक्त पाई गई हैं। फिलहाल उन्हें अहमदाबाद में क्वारंटीन में रखा गया है। जीसए के अधिकारियों ने बताया कि मोटेरा स्टेडियम के मैच अधिकारियों और ग्राउंड स्टाफ के साथ सभी खिलाड़ी क्वारंटीन में हैं।

सभी की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आई है। 26 से 31 जनवरी तक नॉकआउट मुकाबले खेले जाएंगे। अधिकारियों ने कहा कि चेतन शर्मा की अध्यक्षता वाली नवनियुक्त सीनियर चयन समिति भी नॉकआउट मुकाबले देख सकती है। चयनकर्ताओं के लिए एक संपर्क अधिकारी भी नियुक्त किया गया है।

क्वार्टरफाइनल लाइनअप तय:

26 जनवरी

कर्नाटक बनाम पंजाब (क्वार्टरफाइनल-1)

तमिलनाडु बनाम हिमाचल प्रदेश (क्वार्टरफाइनल-2)

27 जनवरी

हरियाणा बनाम बड़ौदा (क्वार्टरफाइनल-3)

बिहार बनाम राजस्थान (क्वार्टरफाइनल-4)

भोपाल — अठारहवीं फेडरेशन कप जूनियर अंडर 20 राष्ट्रीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 25 जनवरी से प्रारंभ होगी, जिसमें देश के पांच सौ से अधिक खिलाड़ी शिरकत करेंगे। टीटीनगर स्टेडियम में तीन दिनों तक चलने वाली प्रतियोगिता में 20 राज्यों के खिलाड़ी 18 स्पर्धाओं में अपना श्रेष्ठ कौशल प्रदर्शित करेंगे।

इस प्रतियोगिता में चयनित खिलाड़ी नैरोबी (कैन्या) में आगामी 17 अगस्त से प्रारंभ होने वाली जूनियर वल्र्ड चैम्पियनशिप 2021 में देश का प्रतिनिधित्व करेंगे। भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के वरिष्ठ अधिकारी एवं मध्यप्रदेश के खेल एवं युवा कल्याण विभाग के संचालक पवन जैन ने आज यहां संवादाताओं को बताया कि प्रतियोगिता के लिए तैयारियां पूरी हो गयी हैं। राज्य की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधराराजे सिंधिया ने स्वयं इन तैयारियों की अनेक बार समीक्षा की।

श्री जैन ने बताया कि कोरोनाकाल की यह सबसे बड़ी प्रतियोगिता है और तीन दिनों तक चलने वाली प्रतियोगिता के दौरान कोरोना संक्रमण से बचने के लिए सभी आवश्यक उपाय किए गए हैं। प्रतियोगिता में मध्यप्रदेश की टीम के 24 बालक और 15 बालिकाएं शामिल होंगी।

श्री जैन ने बताया कि राज्य सरकार के प्रयासों से 'खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2022 की मेजबानी मध्यप्रदेश को देने की सैद्धांतिक सहमति बनी है। इसलिए विभाग 25 जनवरी से प्रारंभ होने वाली एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के आयोजन को खेलो इंडिया यूथ गेम्स जैसे बड़े और प्रतिष्ठित आयोजन के पूर्वाभ्यास के रूप में देख रहा है।

श्री जैन ने बताया कि प्रतियोगिता का उद्घाटन राज्य के पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी के मुख्य आतिथ्य में 25 जनवरी को प्रात: टीटीनगर स्टेडियम में होगा। समापन समारोह 27 जनवरी को राज्य की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती सिंधिया और भारतीय एथलेटिक महासंघ के अध्यक्ष अदील सुमरीवाला की मौजूदगी में संपन्न होगा।

बैंकाक — भारत के सात्विकसैराज रेंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी को टोयोटा थाईलैंड ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पुरुष युगल के सेमीफाइनल में शनिवार को हार का सामना करना पड़ा। सात्विकसैराज और चिराग को सेमीफाइनल मुकाबले में आठवीं सीड मलेशियाई जोड़ी आरोन चिया और सोह वूयी यिक ने 35 मिनट में 21-18, 21-18 से हराकर खिताबी मुकाबले में जगह बना ली।

वास्को — टेबल टॉपर मुंबई सिटी एफसी ने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए शुक्रवार को वॉस्को के तिलक मैदान स्टेडियम में खेले गए मैच में एससी ईस्ट बंगाल को 1-0 से हरा दिया। मुंबई सिटी की हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन में यह नौवीं जीत है। मुंंबई के लिए एकमात्र गोल मौर्टडा फॉल ने 27वें मिनट में किया। मुंबई सिटी के 12 मैचों से अब 29 अंक हो गए हैं और वह मजबूती के साथ टॉप पर कायम है।

वहीं, ईस्ट बंगाल को 13 मैचों में पांचवीं हार झेलनी पड़ी है। टीम 12 अंकों के साथ 10वें नंबर पर है। ईस्ट बंगाल को सात मैचों के बाद पहली हार मिली है जबकि मुंबई की टीम 11 मैचों से अजेय है। दोनों टीमों के बीच मुकाबले के पहले हाफ में अच्छी शुरुआत की। तीसरे ही मिनट में आइसलैंडर्स के नाम से मशहूर मुंबई सिटी के एडम ली फोन्ड्रे का शॉट वाइड चला गया जबकि इसके दो मिनट बाद ही ईस्ट बंगाल के कप्तान डेनियल फॉक्स को येलो कार्ड का सामना करना पड़ा।

14वें मिनट में मुंबई के हुगो बोउमौस अपनी टीम का खाता खोलने का सुनहरा अवसर गंवा बैठे। चोट के बाद इस मैच में वापसी करने वाले बोउमौस शॉट को अपने नियंत्रण में नहीं रख पाए और उनका शॉट क्रॉसबार के उपर से निकल गया। 23वें मिनट में मुंबई के अहमद जाहोउ को येलो कार्ड दिखाया गया। हालांकि इसके बाद भी मुंबई ने अपना आक्रमण जारी रखा और 27वें मिनट में जाकर उसने बंगाल के डिफेंस को भेदने में सफलता हासिल कर ली।

सेनेगल के 33 वर्षीय डिफेंडर मौर्टडा फॉल ने बोउमौस के असिस्ट पर हेडर के जरिए गोल करते हुए मुंबई सिटी को 1-0 की लीड दिला दी। एक गोल से पिछडऩे के बाद ईस्ट बंगाल के पास 35वें मिनट में बराबरी करने का मौका था। लेकिन एंथनी पिल्किंगटन आईएसएल में अपना 100वां मैच खेले रहे नारायण दास के असिस्ट पर अपनी टीम को बराबरी नहीं दिला पाए।

रेड एंड गोल्ड ब्रिगेड इसके बावजूद बॉल पजेशन और पास के मामले में मुंबई सिटी से आगे थी, लेकिन पहले हाफ तक उसे एक गोल से पीछे रहना पड़ा। दूसरे हाफ में ईस्ट बंगाल दो बदलाव के साथ उतरी। 57वें मिनट में मुंबई को कॉर्नर मिला और स्कोरर फॉल ने इस पर शॉट लिया, जो सीधे गोलकीपर देबजीत मजूमदार के हाथों में चला गया। 62वें मिनट में हाइलैंडर्स ने अपना पहला बदलाव किया।

कोच सर्जियो लोबेरा ने विग्नेश को बाहर करके मंदार राव देसाई को अंदर किया। हालांकि मैदान पर कदम रखने के कुछ देर बाद ही 75वें मिनट में देसाई को येलो कार्ड का सामना करना पड़ा। उनसे दो मिनट पहले ही बोउमौस को पीला कार्ड दिखाया गया था। मैच के 85वें मिनट में स्कॉट नेविल ने एक बेहतरीन प्रयास किया, लेकिन गोलकीपर अमरिंदर सिंह ने शानदार सेव करते हुए मुंबई की लीड को कायम रखा।

87वें मिनट में मुंबई सिटी के सब्स्टीटयूट बार्थोलोमेव ओग्बेचे को येलो कार्ड मिला। इसके बाद निर्धारित समय तक भी ईस्ट बंगाल बराबरी हासिल नहीं कर पाई और मुकाबला इंजरी टाइम में चला गया। मुंबई सिटी ने इंजरी टाइम में भी ईस्ट बंगाल को बराबरी करने से रोककर रखते हुए एक और जीत अपने नाम कर ली।