Thursday, December 03, 2020 03:04 AM

Bulk Drug Park: नई दिल्ली में 27 को तय होगा हिमाचल का भविष्य, परियोजना मिली, तो मिलेंगे एक हजार करोड़

अगले सप्ताह मंगलवार को बल्क ड्रग फार्मा पार्क के लिए की गई बिड खुलेगी। हिमाचल ने भी बिडिंग की है और सील बंद लिफाफे को मंगलवार को दिल्ली में खोल दिया जाएगा। इसके लिए हिमाचल के अधिकारी दिल्ली जा रहे हैं। उद्योग विभाग के अधिकारी वहां पर मौजूद रहेंगे, जिनके सामने सभी राज्यों के बिड डाक्यूमेंट खोले जाएंगे। हिमाचल प्रदेश की दावेदारी बल्क फार्मा ड्रग पार्क को हासिल करने के लिए पुख्ता है। करीब छह महीने से अधिकारी इस काम में डटे हुए थे, जिनकी मेहनत रंग ला सकती है। क्योंकि हिमाचल प्रदेश फार्मा का हब है जिसकी दावेदारी पुख्ता है।

पहले नालागढ़ के लिए इसे प्रस्तावित किया गया था, मगर अब ऊना के लिए इसका प्रस्ताव रखा गया है। केंद्र सरकार ने हिमाचल को यह फार्मा पार्क दिया, तो इसके लिए एक हजार करोड़ रुपए की राशि मिलेगी, जिससे यहां उद्योग जगत में बड़ा बदलाव होगा। अभी तक बद्दी बड़ा फार्मा हब है, जहां से विदेशों को भी दवाइयां सप्लाई हो रही हैं। नामी कंपनियां यहां पर हैं। फार्मा पार्क से ऊना में भी बहार आ जाएगी और वहां पर भी फार्मा की बड़ी कंपनियों का निवेश होगा।

प्रदेश सरकार ने ऊना जिला के लिए इसलिए प्रस्ताव बदला है, क्योंकि वहां पर आधारभूत ढांचा अधिक है और कनेक्टिविटी काफी ज्यादा है। रेललाइन का भी वहां पर फायदा मिलेगा, इसके अलावा वहां पानी की भी सुविधा काफी ज्यादा है। बद्दी में आधारभूत ढांचा महंगा था, जबकि ऊना में सस्ता पड़ेगा। ऐसे में ऊना में इसका प्रस्ताव है, मगर केंद्र सरकार का रुख देखना होगा। वैसे एक फारमेट केंद्र सरकार ने बना रखा है, जिस पर राज्यों को अंक दिए जाएंगे। उस पर हिमाचल कितना खरा उतरता है यह देखना होगा। मुकाबला यहां पर आधारभूत सुविधाएं देने का है। बिजली की दर क्या होगी, जमीन किस भाव मिलेगी, पानी का रेट क्या होगा। इन दरों को लेकर ही राज्यों के बीच मुकाबला रहेगा, जिसकी लड़ाई हिमाचल भी लड़ रहा है। हिमाचल प्रदेश ने भी मुकाबले के लिए ऐसी दरों को रखा है, जो दूसरे राज्यों से कम हों। अब फॉरमेट में किस राज्य को कितने अंक मिलते हैं, यह देखना होगा।

देश भर में बनने हैं तीन बल्क फार्मा पार्क

देशभर में ऐसे तीन बल्क फार्मा ड्रग पार्क बनाए जाने हैं और प्रत्येक को एक हजार करोड़ रुपए की राशि केंद्र सरकार आधारभूत ढांचा विकसित करने के लिए देगी। इसके अलावा भी हिमाचल दूसरे पार्क लेने को प्रयास कर रहा है, जिसमें एक मेडिकल डिवाइस पार्क अहम है। बहरहाल हिमाचल के अधिकारी सोमवार को दिल्ली जाएंगे।

The post Bulk Drug Park: नई दिल्ली में 27 को तय होगा हिमाचल का भविष्य, परियोजना मिली, तो मिलेंगे एक हजार करोड़ appeared first on Divya Himachal.