Tuesday, September 29, 2020 04:14 AM

नई शिक्षा नीति से दूरगामी परिणाम

शिमला – भाजपा प्रदेश महामंत्री त्रिलोक जम्वाल ने कहा कि नई शिक्षा नीति स्वरोजगार की दृष्टि से दूरगामी परिणाम देगी। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति में उच्च शिक्षा मूल रूप से तीन से चार साल पैटर्न पर आयोजित होगी। प्रथम वर्ष की पढ़ाई का एक वर्ष का सर्टिफिकेट कोर्स होगा। दूसरे वर्ष डिप्लोमा कोर्स, तीसरे वर्ष पढा़ई पूर्ण होने पर डिग्री प्रदान की जाएगी। चौथे वर्ष में किसी विषय या उद्देश्य की पूर्ति के लिए विशेष अध्ययन की व्यवस्था रहेगी।

श्री जम्वाल ने कहा कि इस शिक्षा व्यवस्था में प्रत्येक वर्ष छात्र कालेज छोड़ सकता है और मल्टी एंट्री और एग्जिट के तहत फिर से प्रवेश ले सकता है। व्यवसायिक शिक्षा के अंतर्गत विद्यार्थी कक्षा छह से अपनी रुचि और योग्यता के अनुसार व्यवसायिक विषय का चयन कर सकेंगे जिससे किशोर अवस्था से ही विद्यार्थी स्वरोजगार की दिशा में अपनी सोच विकसित कर सकेगा। महामंत्री ने कहा कि नई शिक्षा नीति में कोई भेदभाव नहीं है, नई नीति नए भारत की नींव रखेगी, भेड़चाल खत्म होगी।

The post नई शिक्षा नीति से दूरगामी परिणाम appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.